logo

‘कोई दुर्भावनापूर्ण इरादा नहीं’, हम दो हमारे बारह के विवादित पोस्टर पर बोले अनु कपूर

'No malicious intent', says Anu Kapoor on controversial poster of Hum Do Hamari Barah
 
'No malicious intent', says Anu Kapoor on controversial poster of Hum Do Hamari Barah
WhatsApp Group Join Now

Mhara Hariyana News
अनु कपूर की फिल्म 'हम दो हमारे बारह' का पोस्टर विवादों में घिर गया है. आरोप लग रहा है कि जनसंख्या के लिए एक समुदाय को जिम्मेदार ठहराया गया है. इस पर अनु कपूर ने अपना पक्ष रखा है.
'कोई दुर्भावनापूर्ण इरादा नहीं', हम दो हमारे बारह के विवादित पोस्टर पर बोले अनु कपूरहम दो हमारे बारह का पोस्टर
हाल ही में एक फिल्म ‘हम दो हमारे बारह’ का पोस्टर जारी हुआ. इस पोस्टर पर काफी विवाद हो गया. दरअसल, इसे मुसलमानों के खिलाफ बताया गया और कहा गया कि इसमें देश की जनसंख्या के लिए मुस्लिमों को जिम्मेदार ठहराया गया है. पोस्टर में मुस्मिम परिवार को देखा जा सकता है. फिल्म में मुख्य किरदार अनु कपूर निभा रहे हैं. अनु कपूर ने विवाद पर प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा है कि हमारा मकसद किसी समुदाय की इमेज खराब करना नहीं है.


अनु कपूर से टीवी9 डिजिटल ने सवाल किया कि हम दो हमारे बारह को लेकर विवाद है कि इसके जरिए मुस्लिम समुदाय को टारगेट किया जा रहा है? क्या आपको लगता है कि जनसंख्या पर नियंत्रण लगना चाहिए? क्या ज्यादा जनसंख्या के लिए एक विशेष समुदाय ही जिम्मेदार है? जो लोग ट्रोल कर रहे हैं, विवादित बयान दे रहे हैं उनके लिए क्या कहना है?

हर टिप्पणी तर्कसंगत तरीके से रखी जाए: अनु कपूर
इस पर अनु कपूर ने कहा कि इस फिल्म से जुड़े मेकर्स और लोगों का किसी समुदाय, जाति या पंथ या रंग के प्रति कोई दुर्भावनापूर्ण इरादा नहीं है. जनसंख्या का बढ़ना अधिकांश देशों के लिए एक बहुत ही गंभीर समस्या है और ये चिंता का विषय है क्योंकि हर देश चाहता है कि उसके लोग खुश रहें. जब तक हम सभी मनुष्य सामूहिक जिम्मेदारी लेना नहीं सीखेंगे तब तक ऐसे महत्वपूर्ण मुद्दे नियंत्रण से बाहर हो होते रहेंगे. उन्होंने कहा कि किसी विशेष जाति, पंथ, रंग या समुदाय को इंगित नहीं करना चाहिए. कोई भी टिप्पणी चाहे वह नकारात्मक हो या सकारात्मक उसे तर्कसंगत तरीके और पक्षपाती दृष्टिकोण के साथ सामने लाना चाहिए.


फिल्म के पोस्टर को सही संदर्भ में देखें: कमल चंद्रा
फिल्म को कमल चंद्रा ने डायरेक्ट किया है. फिल्म का पोस्टर 5 अगस्त को जारी किया गया था. अनु कपूर फिल्म में एक मुस्लिम परिवार के प्रमुख हैं और उनके 11 बच्चे हैं. पत्नी के एक और बच्चा होने वाला है. पोस्टर में लिखा है कि जल्दी ही चीन को पीछे छोड़ देंगे. कमल चंद्रा का कहना है कि हमारी फिल्म का पोस्टर बिल्कुल भी आपत्तिजनक नहीं है. इसे सही संदर्भ में देखा जाना चाहिए. हम फिल्म के माध्यम से किसी एक समुदाय विशेष को टारगेट नहीं कर रहे हैं. मुझे यकीन है कि जब लोग इस फिल्म को देखेंगे तो वे हमारी फिल्म में हमारे समय के सबसे प्रासंगिक मुद्दों में से एक को देखकर खुश होंगे.