logo

आखिर क्या है ChatGPT? क्या सच में करेगी मार्केटिंग को आसान और लिखेगी यूनिक कंटेंट , यहां है हर जवाब

What is ChatGPT after all? Will writing really make marketing easier and writing unique content, here is every answer
 
आखिर क्या है ChatGPT? क्या सच में करेगी मार्केटिंग को आसान और लिखेगी यूनिक कंटेंट , यहां है हर जवाब


What is ChatGPT: टेक्नोलॉजी की दुनिया में आजकल ChatGPT नाम की काफी चर्चा हो रही है. हर कोई जानना चाहता है कि ये क्या चीज है और इसके क्या फायदे-नकुसान हैं. वहीं कुछ लोगों को डर है कि सालों से चली आ रही मशीन और इंसानों की तकरार के बीच ChatGPT से लोगों की नौकरियां (Jobs) खत्म हो जाएंगी. यह तो सच है कि जब भी टेक्नोलॉजी जोर मारती है, तब इंसानों को नौकरियों से हाथ धोना पड़ता है. हालांकि, आज सवाल यह है कि क्या ChatGPT से आपकी नौकरी को खतरा है?


OpenAI ने ChatGPT लैंग्वेज जेनरेशन मॉडल को विकसित किया है. इसे डीप लर्निंग बेस्ड GPT (Generative Pre-training Transformer) आर्किटेक्चर पर बनाया गया है. किसी भी सवाल का जवाब देने के लिए इस मॉडल की ट्रेनिंग तय साइज के टेक्स्ट डेटासेट पर हुई है.

क्या है ChatGPT?
ChatGPT एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जो सर्च करने पर आपको इंसानों के जैसा जवाब देता है. यह गूगल की तरह नहीं है जो सर्च करने पर रियल टाइम रिजल्ट देता है. चैटजीपीटी को कुछ लोग मॉडर्न NMS (Neural network based machine learning model) के तौर पर भी जानते हैं. AI चैटबॉट में इसका बड़ा पैमाने पर इस्तेमाल किया जा सकता है. इसकी सबसे बड़ी खूबी यही है कि ये इंसानों की तरह टेक्स्ट जारी करता है.

ChatGPT काकाम?
इस सॉफ्टेवयर से टेक्नोलॉजी द्वारा किसी सवाल का जवाब दिया जा सकेगा. वहीं, AI चैटबॉट से टेक्स्ट एडिटिंग और मैथ की प्रॉब्लम सुलझाने जैसे काम किए जा सकेंगे. Twitter, Tesla और न्यूरालिंक के CEO एलन मस्क का मानना है कि इस टेक्नोलॉजी से होमवर्क पूरा करने का तरीका पूरी तरह बदल जाएगा. वहीं, चैटजीपीटी से भाषा का अनुवाद, अलग-अलग लिखावट जैसी चीजें भी की जाएंगी.

2015 में हुई शुरुआत
ChatGPT एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) एजेंट की तरह काम करता है. 2015 में सैम अल्टमैन और एलन मस्क ने इसकी शुरुआत की थी. हालांकि, तब यह नॉन-प्रॉफिट कंपनी थी, लेकिन मस्क के पीछे हटने के बाद माइक्रोसॉफ्ट ने इसमें निवेश किया और ये एक फॉर-प्रॉफिट कंपनी बन गई. पूरी दुनिया में इस बात को लेकर चर्चा है कि ये लोगों की नौकरी खा जाएगा.