logo

योगी सरकार में मारे गए 168 अपराधी, पुलिस की गोली से 4557 पहुंचे अस्पताल

दो बदमाशों को 'आपरेशन पाताल लोक' के तहत मुठभेड़ में मार गिराया
 
yogi

Mhara Hariyana News । यूपी पुलिस का अपराधियों के विरुद्ध जीरो टालरेंस की नीति के तहत कार्रवाई का अभियान जारी है। वाराणसी में तैनात उपनिरीक्षक अजय यादव को गोली मारकर उनकी सर्विस पिस्टल लूटने वाले दो बदमाशों को 'आपरेशन पाताल लोक' के तहत मुठभेड़ में मार गिराया गया है।

प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में हुई इस दुस्साहसिक घटना के बाद वाराणसी कमिश्नर ए.सतीश गणेश ने बदमाशों की तलाश के लिए कई टीमों का गठन किया था। यह कार्रवाई यूपी पुलिस के उस हौसले को भी दोहरा रही है, जो बहुचर्चित बिकरू कांड के बाद मुख्य आरोपित विकास दुबे व उसके अन्य साथियों के साथ मुठभेड़ में पुलिस ने दिखाया था। योगी सरकार में 20 मार्च, 2017 से अब तक कुल 168 कुख्यात अपराधी पुलिस मुठभेड़ में मारे गए हैं।

 
सीएम योगी खुद करते हैं समीक्षा
योगी आदित्यनाथ ने पहली बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद ही भ्रष्टाचार व अपराधियों के विरुद्ध जीरो टालरेंस की नीति के तहत अभियान चलाकर कार्रवाई का आदेश दिया था।

सीएम योगी खुद इन कार्रवाई की समय-समय पर समीक्षा करने के साथ ही कड़े निर्देश भी देते रहते हैं। योगी की इस नीति को दूसरे राज्यों में भी खूब सराहना मिलती रही है। इंटरनेट मीडिया पर भी योगी सरकार व यूपी पुलिस की प्रशंसा को लेकर चलाए गए हैशटैग भी टाप ट्रेंड में रहे हैं।

माफिया की संपत्तियों पर चला बुलडोजर
सीएम योगी आदित्यनाथ दूसरे राज्यों में अपने दौरों के दौरान अपराधियों पर कठोर कार्रवाई व माफिया की काली कमाई से जुटाई गई संपत्तियों पर बुलडोजर चलवाने को लेकर बयान भी देते रहे हैं। गुजरात में विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान भी सीएम योगी ने यूपी में चल रही इन कार्रवाई को प्रमुखता से लोगों के बीच रखा था। यूपी में बदली कानून-व्यवस्था के पीछे पुलिस के बदले तेवर भी हैं।

मेरठ जोन में सर्वाधिक अपराधी मारे गए
एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार के अनुसार अपराधियों के विरुद्ध से चल रही इस जंग में अब तक 13 पुलिसकर्मियों ने भी अपनी जानें गंवाई हैं। बदमाशों की गोली लगने से 1375 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। अब तक पुलिस मुठभेड़ में 22234 अपराधी पकड़े गए हैं। इनमें 4557 पुलिस की गोली लगने से घायल हुए। अब तक पुलिस मुठभेड़ में मेरठ जाेन में सर्वाधिक 64 अपराधी मारे गए हैं।