logo

श्रद्धा के टुकड़े फेंकने गया आफताब CCTV में कैद , सिर, धड़ और उंगलियों को लगाया ठिकाने!

Aftab went to throw pieces of Shraddha, caught in CCTV, put head, torso and fingers in place!

 
Aftab went to throw pieces of Shraddha, caught in CCTV, put head, torso and fingers in place!

Mhara Hariyana News:

दिल्ली के महरौली में हुए श्रद्धा हत्याकांड में रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं. इसकी जांच में जुटी पुलिस के हाथ 18 अक्टूबर के सीसीटीवी फुटेज लगे हैं. इसमें आरोपी आफताब दिखाई दे रहा है. बताया जा रहा है कि आफताब ने श्रद्धा की हत्या के बाद शव के कुछ टुकड़े तो उसी दौरान फेंक दिए थे. लेकिन सिर, धड़ और उंगलियों को फ्रिज में रखा था. माना जा रहा है कि आफताब ने इन टुकड़ों को 18 अक्टूबर को यानी करीब पांच महीने बाद जंगल में फेंका था. शव के इन टुकड़ों को फेंकने के लिए उसने तीन चक्कर लगाए थे. हालांकि अधिकारियों के मुताबिक दिल्ली पुलिस इस सीसीटीवी की तस्दीक करेगी, उसके बाद ही कुछ साफ-साफ कहा जा सकता है.


सूत्रों के अनुसार शव के टुकड़े फेंकने जाने के दौरान आरोपी आफताब सीसीटीवी में कैद हो गया था. फिलहाल पुलिस ने सीसीटीवी को जब्त कर लिया है. इस सीसीटीवी फुटेज में वह बैग लटका कर जाता हुआ दिखाई दे रहा है.

पिता और भाई के खून के नमूने लिए
वहीं पुलिस ने बताया कि इस हत्याकांड की पीड़िता श्रद्धा वालकर के अब तक बरामद शव के टुकड़ों से डीएनए मिलान के लिए उसके पिता और भाई के खून के नमूने लिए गए हैं. पुलिस ने एक बयान में यह भी कहा कि आरोपी द्वारा दिए गए जवाबों की ‘भ्रामक प्रकृति’ को देखते हुए, उसके नार्को विश्लेषण परीक्षण के लिए एक आवेदन किया गया था और इसे अदालत ने मंजूरी दे दी है.

नार्को टेस्ट की मंजूरी
दिल्ली की एक अदालत ने पुलिस को आरोपी आफताब अमीन पूनावाला का नार्को टेस्ट पांच दिनों के भीतर पूरा करने का निर्देश दिया है. इसके अलावा दिल्ली पुलिस की एक टीम गुरुग्राम में उस निजी फर्म के कार्यालय पहुंची, जहां श्रद्धा वालकर की हत्या का आरोपी आफताब अमीन पूनावाला काम किया करता था. पुलिस को तलाश अभियान के बाद कार्यालय के आसपास झाड़ियों से प्लास्टिक का एक थैला ले जाते देखा गया. हालांकि, अधिकारियों ने यह नहीं बताया कि थैले में क्या था.

श्रद्धा की गला घोंट कर हत्या
उन्होंने बताया कि आरोपी और वालकर के मुंबई से राष्ट्रीय राजधानी में आने के बाद से वह (आफताब) एक निजी फर्म में काम करता था. पुलिस के अनुसार उसने अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वालकर (27) की गत 18 मई की शाम को गला घोंट कर हत्या कर दी थी और उसके शव के 35 टुकड़े कर दिए. आरोपी ने शव के टुकड़ों को दक्षिण दिल्ली के महरौली में अपने आवास पर लगभग तीन सप्ताह तक एक बड़े फ्रिज में रखा तथा उन्हें कई दिनों तक विभिन्न हिस्सों में फेंकता रहा. पुलिस अब तक शव के 13 टुकड़े बरामद कर चुकी है, जिनमें ज्यादातर हड्डियां हैं.

गुरुग्राम पहुंची दिल्ली पुलिस
एक अधिकारी ने बताया कि दिल्ली पुलिस की एक टीम जांच के संबंध में साक्ष्य एकत्र करने के लिए शुक्रवार को गुरुग्राम पहुंची. उन्होंने बताया कि आरोपी के कार्यालय परिसर में यह पता लगाने के लिए भी तलाशी ली गई कि क्या उसने श्रद्धा के क्षत-विक्षत शव के टुकड़ों, वारदात में इस्तेमाल किया गया हथियार, या मामले से संबंधित कोई भी सामान आसपास के क्षेत्रों में फेंका था, जो जांच में महत्वपूर्ण साबित हो सकता हो. टीम ने एंबियंस मॉल के निकट स्थित नेशनल मीडिया सेंटर सोसाइटी के पीछे की खाली पड़ी जमीन पर भी खोजबीन की.

फोन को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा
दिल्ली पुलिस की टीम अब तक जांच के सिलसिले में मुंबई, गुड़गांव, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड का दौरा कर चुकी हैं. सूत्र ने बताया कि जांच से जुड़े जांचकर्ताओं ने बताया कि आरोपी के फोन को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा. वहीं एक सूत्र ने कहा कि हम उन होटलों के मालिकों और कर्मचारियों से बात करेंगे, जहां वे दोनों हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में ठहरे थे.