logo
Big Breaking News: आखिरकार सोनाली फोगाट मामले से सच से पर्दा उठाएगी CBI
फोगाट के परिवार के सदस्य मामले में सीबीआई जांच की मांग पर अड़े हुए थे. उनका कहना था कि वो गोवा पुलिस की जांच से असंतुष्ट हैं. सीएम सावंत ने सीबीआई जांच की सिफारिश की थी.
 
आखिरकार सोनाली फोगाट मामले से उठाएगी सच सीबीआई

Mhara Hariyana News, New Delhi

Big Breaking News: आखिरकार सोनाली फोगाट मामले से सच से पर्दा उठाएगी CBI
 

सोनाली फोगाट मौत मामले की जांच अब सीबीआई करेगी. गृह मंत्रालय ने इसकी सिफारिश कर दी है. कुछ दिनों पहले सीबीआई जांच की मांग को लेकर हरियाणा में खाप पंचायत बुलाई गई थी. खाप पंचायत में सीबीआई जांच की पुरजोर मांग उठी थी.

सोनाली के घर वालों ने गोवा पुलिस की जांच में नाखुशी जताई थी. इसके बाद सोमवार सुबह गोवा सीएम प्रमोद सावंत ने सीबीआई जांच की सिफारिश की थी.


हरियाणा के हिसार से भाजपा नेता फोगाट (43) की पिछले महीने गोवा में मौत हो गयी थी और ऐसी आशंका है कि उनकी हत्या की गयी. सावंत ने पणजी में पत्रकारों से कहा था कि गोवा पुलिस ने मामले की बहुत अच्छी जांच की है और उसे कुछ सुराग भी मिले हैं.

उन्होंने कहा, लेकिन हरियाणा के लोगों तथा सोनाली फोगाट की बेटी की मांग के कारण हमने केंद्रीय गृह मंत्रालय को पत्र लिखकर इस मामले की जांच सीबीआई को सौंपने का अनुरोध करने का निर्णय लिया है.

खाप पंचायत में दिया गया था अल्टीमेटम
गोवा पुलिस ने इस मामले के संबंध में पांच लोगों को गिरफ्तार किया था, जिनमें से दो व्यक्ति फोगाट के सहयोगी हैं. पुलिस ने इन दोनों पर हत्या के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है. सर्व जातीय खाप महापंचायत ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत सरकार को पार्टी की नेता सोनाली फोगाट की मौत के मामले में 23 सितंबर तक केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) की जांच की सिफारिश करने का अल्टीमेटम दिया था.

इसके पहले ही राज्य सरकार ने उनकी मांग मान ली है. हिसार के जाट धर्मशाला में महापंचायत का आयोजन किया गया था. सोनाली फोगाट की बेटी यशोधरा और परिवार के अन्य सदस्यों ने भी बैठक में भाग लिया.

गोवा में हुई थी मृत्यू
फोगाट (43) की अगस्त के अंत में गोवा पहुंचने के कुछ घंटों बाद मृत्यु हो गई थी. संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत की जांच की जा रही है. इस मामले में फोगाट के पीए सांगवान सहित एक और आरोपी को जेल भेज दिया गया है.

महापंचायत में निर्णय हुआ कि अगर सरकार मामले की सीबीआई से जांच कराने में विफल रहती है, तो 24 सितंबर को ऐसी ही एक और बैठक आयोजित की जाएगी. पूरे हरियाणा और अन्य राज्यों के खाप प्रतिनिधि 24 सितंबर को बैठक में भाग लेंगे और कड़ा निर्णय लेंगे.


अब तक गोवा पुलिस कर रही थी जांच
फोगाट की मौत के मामले में गोवा पुलिस जांच कर रही है. उन्होंने हिसार, रोहतक और गुरुग्राम सहित हरियाणा में भी छानबीन की थी. फोगाट के परिवार के सदस्य मामले में सीबीआई जांच की मांग पर अड़े हुए हैं और कह रहे हैं कि वे गोवा पुलिस की जांच से असंतुष्ट हैं.

फोगाट के परिवार के कुछ सदस्यों ने पूर्व में कहा था कि अगर गोवा सरकार प्रमुख जांच एजेंसी से जांच की सिफारिश नहीं करती है, तो वे मामले में सीबीआई जांच का अनुरोध करते हुए एक अदालत के समक्ष याचिका दायर करेंगे. फोगाट और उनके साथियों ने 22 और 23 अगस्त की दरम्यानी रात को गोवा के कर्लीज रेस्टोरेंट में पार्टी की थी.