logo

महाकाल मंदिर में दर्शन को लेकर विवाद, ‘पहले मैं’ के चक्कर में भक्तों के बीच चले लात-घूंसे-VIDEO

Controversy over darshan in Mahakal temple, kick-punches between devotees in the affair of 'I first'-VIDEO

 
Controversy over darshan in Mahakal temple, kick-punches between devotees in the affair of 'I first'-VIDEO

Mhara Hariyana News:

मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में बाबा महाकाल के दरबार में श्रद्धालुओं के बीच विवाद व मारपीट की घटना सामने आई है. जहां आज जब महाकाल मंदिर में दर्शन करने के लिए श्रद्धालु पहुंचे तो आपस में ही भिड़ गए. इस दौरान उनके बीच लात घूंसे भी चले. वहीं, मंदिर के अंदर श्रद्धालुओं के बीच हुई मारपीट की घटना का वीडियो सामने आया है. जोकि तेजी से वायरल हो रहा है. बता दें कि, जिन श्रद्धालुओ के बीच विवाद हुआ वह रसीद वाली लाइन में लगे हुए थे. लाइन में आगे निकलने की होड़ में उनके बीच धक्का-मुक्की व कहासुनी हो गई जिसके बाद उनके बीच मारपीट होने लगी.


दरअसल, विश्व प्रसिद्ध बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन में जब से श्री महाकाल लोक का लोकार्पण हुआ है. तभी से यहां दोगनी भीड़ पहुंच रही है, जिससे व्यवस्थाएं भी गड़बड़ा रही हैं. ऐसी ही एक घटना एक बार फिर महाकाल मंदिर में उस वक्त घटी जब मंदिर में बाबा महाकाल के दर्शन करने के लिए पहुंचे श्रद्धालुओं के बीच विवाद हो गया और मारपीट हो गई. जिन भक्तों के बीच मारपीट हुई वो 1500 रुपए रसीद वाली लाइन में लगे हुए थे.

श्रद्धालुओं के बीच जमकर चले लात-घूंसे

जानिए क्या है मामला?
इसी दौरान लाइन में ही आगे निकलने की होड़ में उनके बीच विवाद हो गया और मारपीट हो गई. कुछ देर तक विवाद और हंगामा होने के बाद लोगों ने बीच बचाव किया और तब कहीं जानकर मामला शांत हुआ. बता दें कि, महाकाल मंदिर में आने वाले भक्तों की भीड़ को देखते हुए मंदिर समिति ने गर्भगृह में जाने के लिए 1500 रुपए की रसीद लेना अनिवार्य किया है. लेकिन रसीद के लिए आए दिन विवाद की स्थिति बन रही है.

महाकाल लोक के लोकार्पण के बाद बढ रही भक्तों की भीड़
वहीं, महाकाल का आंगन साढ़े 800 करोड़ रुपए से ज्यादा की लागत से सज रहा है. यहां बने अद्भुत महाकाल लोक को निहारने रोजाना डेढ़ से दो लाख लोग पहुंच रहे हैं. इतनी भीड़ आने के चलते दर्शन को लेकर रोज हंगामे की स्थिति बन रही है. दरअसल, भीड़ को देखते हुए मंदिर प्रशासन ने 1500 रुपए की टिकट कटाकर दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को ही गर्भगृह में जाने की अनुमति दी है. इसका भी कोटा सीमित है, जिसमें 1500 रुपए के 580 टिकट ही रोज जारी किए जा रहे हैं.

1500 की टिकट के लिए भक्तों में हो रहे विवाद
इस दौरान श्रद्धालु बड़े गणपति मंदिर के पास बने प्रोटोकॉल ऑफिस से रसीद लेकर मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश करते हैं. जहां 11 अक्टूबर के बाद से भीड़ के बढ़ने की वजह से रोजाना प्रोटोकॉल ऑफिस पर विवाद की स्थिति बन रही है. ऐसे में महाकाल मंदिर मे आए दिन 1500 की टिकट के लिए श्रद्धालुओ में जमकर विवाद हो रहे है.

गर्भगृह मे दर्शन की है कुछ ऐसी व्यवस्था
महाकाल मंदिर समिति ने पहले मंगलवार से शुक्रवार तक आम भक्तों के लिए भीड़ कम होने की स्थिति मे गर्भगृह से दर्शन व्यवस्था को फ्री थी, लेकिन बीते एक महीने से भीड़ का दबाव रोजाना बढ़ रहा है,जिसके चलते निशुल्क दर्शन नहीं हो पा रहे हैं. ऐसे में श्रद्धालुओं के गर्भगृह में दर्शन के लिए मंदिर समिति रोजाना 1500 रुपए में श्रद्धालुओं के लिए एक टिकट जारी करती है. इसका दिन भर में महज 580 टिकट का कोटा तय है.