logo

दिल्ली-NCR में कोहरे का कहर! विजिबिलिटी बेहद कम, उत्तर भारत में शीतलहर का थर्ड डिग्री टॉर्चर

Fog havoc in Delhi-NCR! Very low visibility, third degree torture of Sheetlahar in North India

 
दिल्ली-NCR में कोहरे का कहर! विजिबिलिटी बेहद कम, उत्तर भारत में शीतलहर का थर्ड डिग्री टॉर्चर


आज का मौसम: देश में हर दिन मौसम का मिजाज बदल रहा है. कहीं बारिश हो रही है तो कहीं बर्फबारी. वहीं कई राज्यों में कोल्ड डे जैसी स्थिति है. दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश सहित पूरा उत्तर भारत शीतलहर की चपेट में है. मौसम विभाग ने कहा है कि अगले 4-5 दिनों इन राज्यों में तक ऐसी ही स्थिति रहेगी. आईएमडी के मुताबिक, पंजाब से बिहार, हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में घना कोहरा छाया रहेगा.


पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में शीत लहर की स्थिति जारी रह सकती है. इसके अलावा मौसम विभाग ने तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह पर हल्की बारिश की संभावना जताई है. वहीं, हिमाचल प्रदेश में जबरदस्त हिमपात का अनुमान है.

दिल्ली-NCR में घना कोहरा
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में शीत लहर का प्रकोप जारी है. यहां कड़ाके की ठंड पड़ रही है. शुक्रवार को दक्षिण-पश्चिम दिल्ली के आयानगर में न्यूनतम तापमान गिरकर 1.8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया था. दिन प्रति दिन दिल्ली में ठंड बढ़ती ही जा रही है. मौसम विभाग के मुताबिक, आज दिल्ली में न्यूनतम तापमान 4-5 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है जबकि अधिकतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस रह सकता है. इसके अलावा बहुत अधिक घना कोहरा छाए रहने की भी संभावना है. विजिबिलिटी 10 मीटर तक दिख सकती है. खराब मौसम के कारण दिल्ली एयरपोर्ट ने फॉग अलर्ट जारी कर दिया है.

गुरुवार को दिल्ली में न्यूनतम तापमान तीन डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था, जो पिछले दो साल में जनवरी में दर्ज सबसे कम तापमान था. इससे दिल्ली में कई हिल स्टेशन के मुकाबले अधिक ठंड रही. आईएमडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सात जनवरी से उत्तर-पश्चिम भारत में एक नए पश्चिमी विक्षोभ के कारण ठंड से थोड़ी राहत मिलने के आसार हैं.

राजस्थान में कड़ाके की ठंड, कई जगह पारा शून्य
राजस्थान में भी कड़ाके की ठंड का दौर जारी है. राज्य में कई जगहों पर पारा शून्य तक गिर गया. हालांकि, मौसम विभाग का कहना है कि शनिवार यानी आज से लोगों को शीत लहर के प्रकोप से थोड़ी राहत मिल सकती है. मौसम केंद्र जयपुर के प्रवक्ता ने बताया कि एक कमजोर पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव से आगामी 24 घंटों के दौरान राज्य के अधिकांश हिस्सों में न्यूनतम और अधिकतम तापमान में दो से चार डिग्री सेल्सियस तक की बढ़ोतरी होने की संभावना है. वहीं, पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से आगामी दो-तीन दिन उत्तर-पश्चिमी राजस्थान के गंगानगर, हनुमानगढ़, चूरू और आसपास के क्षेत्रों में आंशिक रूप से बादल छाए रह सकते हैं. हालांकि, वहां बूंदाबांदी या बारिश होने के आसार नहीं हैं.

मध्य प्रदेश में शीतलहर
मध्य प्रदेश में भी शीतलहर की स्थिति है. शुक्रवार को कड़ाके की ठंड के कारण भोपाल और इंदौर सहित कुछ जिलों में नर्सरी से लेकर आठवीं कक्षा तक के स्कूल बंद कर दिए गए. राज्य में सबसे कम न्यूनतम तापमान नौगांव कस्बे में 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मध्य प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में सुबह के समय सड़कों पर वाहनों की आवाजाही कम देखी गई और लोग ठंड से बचने के लिए अलाव जलाते भी नजर आए। आईएमडी के पूर्वानुमान के अनुसार, राज्य में अगले तीन दिनों तक ऐसा ही मौसम बने रहने की संभावना है.

हरियाणा और पंजाब में ठंड का कहर जारी
हरियाणा और पंजाब में भी ठंड का कहर जारी है. शुक्रवार को दोनों राज्यों में न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे दर्ज किया गया. मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, हरियाणा का सबसे ठंडा क्षेत्र नारनौल रहा जहां न्यूनतम तापमान 2.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. आज दोनों जहगों पर जबरदस्त कोहरा छाए रहने की संभावना है.