logo

‘सावरकर ने नहीं, नेहरू ने देशद्रोह किया’, राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए उनकी गिरफ्तारी की मांग

'Not Savarkar, Nehru committed treason', hits back at Rahul Gandhi, demands his arrest

 
'Not Savarkar, Nehru committed treason', hits back at Rahul Gandhi, demands his arrest

Mhara Hariyana News:

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी का महाराष्ट्र में भारत जोड़ो यात्रा का आज (17 नवंबर, गुरुवार) 11 वां दिन है. उन्होंने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में विनायक दामोदर सावरकर द्वारा अंग्रेजी सरकार को लिखी चिट्ठी दिखाते हुए कहा कि उन्होंने अंग्रेजों से माफी मांगी थी और उनसे कहा था, ‘सर, मैं आपका नौकर रहना चाहता हूं.’ राहुल गांधी के इस बयान से सावरकर के पोते रणजीत सावरकर भड़क गए. उन्होंने राहुल गांधी की गिरफ्तारी की मांग करते हुए मुंबई के दादर स्थित शिवाजी पार्क पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवा दी.


राहुल गांधी ने कहा कि, ‘सर मैं आपका नौकर रहना चाहता हूं, मैने नहीं लिखा सावरकर जी ने अंग्रेजों को लिखा था.’ गांधी, नेहरू, पटेल भी जेल में गए. उन्होंने माफी नहीं मांगी. लेकिन सावरकर ने माफी मांग ली. रणजीत सावरकर ने कहा कि देशद्रोह सावरकर ने नहीं, नेहरू ने किया और पत्र दिखाने पर ही आऊं तो यह भी दिखाया जा सकता है कि गांधी जी ने भी माफी मांगी थी. सावरकर से जुड़े इस विवाद से महाराष्ट्र की राजनीति गरमा गई है.

कैबिनेट मीटिंग में राहुल के बयान का बहिष्कार, महाराष्ट्र कई जगह प्रदर्शन
आज महाराष्ट्र सरकार की कैबिनेट मीटिंग में राहुल गांधी के इस बयान की भर्त्सना की गई. महाराष्ट्र के ठाणे, नागपुर, सोलापुर और नासिक समेत अलग-अलग ठिकानों पर राहुल गांधी के विरोध में सावरकर समर्थकों और बीजेपी कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन शुरू कर दिया है. राज ठाकरे ने अपने कार्यकर्ताओं को आदेश दिया कि कल (18 नवंबर, शुक्रवार) को राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को कालाे झंडे दिखाएं.

‘भारत जोड़ो यात्रा पर रोक लगाएं’- ‘हिम्मत है तो यात्रा रोक कर दिखाएं’
उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कल मुंबई की एक सभा में कहा कि राहुल गांधी वीर सावरकर को लेकर इतना नीच बयान दे रहे हैं और आदित्य ठाकरे राहुल गांधी से जाकर भारत जोड़ो यात्रा के दौरान गले मिल रहे हैं. कल शिंदे गुट के राहुल शेवाले ने मांग की थी कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को महाराष्ट्र में ही रोक दिया जाए. इसके जवाब में आज राहुल गांधी ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि उनके साथ लाखों कार्यकर्ता हैं, अगर हिम्मत है, तो रोक कर दिखाएं.

राहुल गांधी के बयान से उद्धव ठाकरे ने किया किनारा
इसका जवाब आज उद्धव ठाकरे ने अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह कह कर दिया कि वे राहुल गांधी के बयान से सहमत नहीं हैं. लेकिन सावरकर और अन्य क्रांतिकारियों ने अपने बलिदान से जो देश को आजादी दी, आज वो आजादी और संविधान खतरे में है. इसलिए इसे बचाने के लिए वे किसी के भी गले मिल सकते हैं. अगर बीजेपी महबूबा मुफ्ती के साथ जा सकती है तो ठाकरे गांधी के साथ क्यों नहीं जा सकते? उद्धव ठाकरे ने कहा कि आजादी की लड़ाई में भाग ना लेने वाले इस बारे में बयानबाजी कर रहे हैं. आज बालासाहेब की पुण्य तिथि है, इसी सिलसिले में उद्धव ठाकरे उन्हें श्रद्धांजलि देने बालासाहेब ठाकरे स्मृति स्थल पर पहुंचे थे.

‘राहुल से गले मिलने वाले आदित्य का करें गोमूत्र से शुद्धिकरण’
लेकिन इससे एक दिन पहले बुधवार को सीएम एकनाथ शिंदे यहां श्रद्धांजलि देने अपने गुट के नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ पहुंचे. उनके जाने के बाद ठाकरे गुट के नेताओं ने गोमूत्र से स्मृति स्थल का शुद्धिकरण किया और कहा कि गद्दारों के आने से यह जगह अपवित्र हो गई है. इस पर शिंदे गुट ने कहा कि शुद्धिकरण आदित्य ठाकरे का करना जरूरी है जो सावरकर पर नीच वक्तव्य देने वाले राहुल गांधी से गले मिलते हैं.


‘सावरकर से इतना प्यार तो क्यों नहीं उन्हें भारत रत्न दे देते, किसने रोका है?’
इसके जवाब में संजय राउत ने कहा कि सावरकर हमारे तो आदर्श हैं. दो ही हिंदू हृदयसम्राट हुए हैं- सावरकर और बालासाहेब ठाकरे. लेकिन उन्हें (बीजेपी, फडणवीस) अगर सावरकर से इतना ही प्यार है तो क्यों नहीं वे उन्हें ‘भारत रत्न’ दे रहे हैं. किसने रोका है उन्हें?