logo

TRS के आरोपों पर PM मोदी का जवाब- सिंगरेनी कोलियरीज के निजीकरण का कोई इरादा नहीं

PM Modi's reply on TRS allegations - No intention to privatize Singareni Collieries

 
PM Modi's reply on TRS allegations - No intention to privatize Singareni Collieries

Mhara Hariyana News:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तेलंगाना के दौरे पर हैं. इस दौरान उन्होंने शनिवार को RFCL का यूरिया प्लांट राष्ट्र को किया समर्पित और कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कई मुद्दों पर बात की. इस दौरान उन्होंने सरकारी कोयला खनन कंपनी सिंगरेनी कोलियरीज (एससीसीएल) के निजीकरण को लेकर सरकार का रुख साफ किया और इशारों ही इशारों में टीआरएस पर अफवाह फैलाने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा सिंगरेनी कोलियरीज को लेकर अफवाह उड़ाई जा रही है और इस अफवाह को हैदराबाद से हवा दी जा रही है. नए-नए रंग भरे जा रहे हैं. अफवाह फैलाने वालों को ये पता नहीं है कि झूठ पकड़ा जाएगा.


पीएम मोदी ने कहा, एससीसीएल में 51 फीसदी की भागीदारी राज्य सरकार की है. केंद्र की भागीदारी सिर्फ 49 फीसदी की है. निजीकरण से जुड़ा कोई फैसला केंद्र सरकार कर ही नहीं सकती है. निजीकरण का कोई प्रस्ताव केंद्र के पास विचाराधीन नहीं है औऱ ना ही केंद्र का कोई ईरादा है. मैं आग्रह करता हूं कि किसी भी अफवाह पर ध्यान ना दें और झूठ के व्यापारियों को हैदराबाद में रहने दें.

‘तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने के रास्ते पर भारत’
पीएम मोगी ने आगे कहा कि दुनिया के तमाम विशेषज्ञ कह रहे हैं कि भारत बहुत जल्द दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने के रास्ते पर है. विकास हमारे लिए 24 घंटे, सातों दिन, 12 महीने पूरे देश में चलने वाले मिशन है. हम एक प्रोजेक्ट का लोकार्पण करते हैं तो कई नए प्रोजेक्ट पर काम करना शुरू कर देते हैं.

पीएम मोदी ने कहा, आज विकसित होने की आकांक्षा लिए, आत्मविश्वास से भरा हुआ नया भारत दुनिया के सामने है. मैं आज इस अवसर पर अपने सभी किसान भाइयों और बहनों का स्वागत करता हूं. आज तेलंगाना के लिए विकास परियोजनाओं में 10,000 करोड़ रुपS से अधिक की राशि दी गई है. इससे उद्योगों के साथ-साथ कृषि को भी फलने-फूलने में मदद मिलेगी. फर्टिलाइजर प्लांट हो, नई रेलवे लाइन हो या हाईवे, इनसे औद्योगीकरण को बढ़ावा मिलेगा और रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे. मैं इन विकासात्मक परियोजनाओं के लिए तेलंगाना के लोगों को बधाई देता हूं.