logo
Sidhu Moosewala murder case: मूसेवाला हत्याकांड का अजरबैजान और केन्या से निकला लिंक, विदेश मंत्रालय हुई अलर्ट मोड पर!
अजरबैजान में गिरफ्तार संदिग्ध का नाम सचिन बिश्नोई बताया जाता है.
 
Sidhu Moosewala murder case: Link of Moosewala murder case to Azerbaijan and Kenya, Foreign Ministry on alert mode!

Mhara Hariyana News: 
मूसेवाला हत्याकांड का केन्या और अजरबैजान से निकला लिंक, विदेश मंत्रालय अलर्ट मोड पर!पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला

चंद महीने पहले ही हुए पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड के तार केन्या और अजरबैजान से जुड़े हुए मिल रहे हैं. जो कत्ल पंजाब में अंजाम दिया गया हो भला उसका केन्या और अजरबैजान से क्या लेना देना? ऐसे ही और भी तमाम सवालों के जवाब तलाशने में जुटी हैं भारतीय जांच एजेंसियां और पंजाब पुलिस.


कहा तो यह भी जा रहा है कि इस सिलसिले में दो संदिग्धों को दबोचा भी गया है. इन संदिग्धों की गिरफ्तारी तो नहीं हुई है मगर इन्हें हिरासत में लिए जाने की पुष्टि हो रही है. इस बारे में बीते दिनों विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने भी पुष्टि की थी.

प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा था कि, हमारे अधिकारी इस मसले पर लगातार दोनों ही देश के अधिकारियों के संपर्क में बने हुए हैं. केन्या और अजरबैजान से जिन दो संदिग्धों को पकड़ा गया है, उनसे अभी तक दोन ही देशों की पुलिस और अन्य जांच एजेंसियां संयुक्त रूप से पूछताछ में जुटी है.

सचिन बिश्नोई के गिरफ्तार होने से मिलेगी कई अहम जानकारी

अजरबैजान में गिरफ्तार संदिग्ध का नाम सचिन बिश्नोई बताया जाता है. जोकि भारत के बदनाम गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई गैंग का मास्टरमाइंड और शार्प शूटर माना जा रहा है. खबरों के मुताबिक यह सचिन बिश्नोई ही लॉरेंस बिश्नोई गैंग का विदेशों में दारोमदरा संभाले हुए है. इसको हिरासत में लिए जाने से भारतीय जांच एजेंसियों और पुलिस को और भी काफी कुछ हासिल होने की उम्मीद है.

यहां बताना जरूरी है कि बीती 29 मई को ही पंजाब के मानसा जिलांतर्गत जवाहरके गांव में अज्ञात हमलावरों ने पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला का कत्ल कर डाला था. उस हत्याकांड में शामिल जहां दो शूटर पंजाब पुलिस के साथ मुठभेड़ में ढेर कर दिए गए. वहीं अब तक कई 10 से ज्यादा बदमाश और हमलावर गिरफ्तार किए जा चुके हैं. इनमें से कई शूटर दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार करके पंजाब पुलिस को सौंपे थे.


भारतीय एजेंसियों के मुताबिक अजरबैजान में गिरफ्तार सचिन बिश्नोई के कब्जे से जाली पासपोर्ट भी मिला है. सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड का मास्टरमाइंड भी भारतीय एजेंसियां और पंजाब पुलिस अजरबैजान में गिरफ्तार इसी सचिन को मानकर चल रही हैं. विदेश मंत्रालय के सूत्रों और खबरों की मानें तो सचिन का असली नाम सचिन थापन है.

जबकि उसके पास से जब्त हुए पासपोर्ट पर तिलक राज टुटेजा दर्ज मिला है. पासपोर्ट में पिता का फर्जी नाम भीम सेन लिखा है. असल में उसके पिता का सही नाम शिव दत्त पता चला है. अजरबैजान में हिरासत में लिए जाने के वक्त बरामद फर्जी पासपोर्ट पर सचिन का पता भी फर्जी मिला है. जिसके मुताबिक यह पता इसने दिल्ली के संगम विहार का दिया है. अ

सल में सचिन रहने वाला गांव पोस्ट दतारियां वाली जिला फजलका, पंजाब का है. सचिन के पकड़े जाने से पहले पुलिस ने भी दावा किया था कि, सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड वाले दिन, घटना से ठीक पहले सिद्धू मूसेवाला के घर की रेकी करने वाला संदीप उर्फ केकड़ा, इसी सचिन के इशारे पर सिद्धू के घर पहुंचा था. उसके साथ सेल्फी लेने के बहाने से.