logo

बर्बाद हो जाएगा रूस? ब्रिटेन के पूर्व PM जॉनसन ने बताई 3 कंडीशन, बोले- जिनपिंग के गुंडे हैं पुतिन

Will Russia be ruined? Former UK PM Johnson told 3 conditions, said - Putin is Jinping's goon

 
Will Russia be ruined? Former UK PM Johnson told 3 conditions, said - Putin is Jinping's goon

Mhara Hariyana News:

यूनाइटेड किंगडम के पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने एक कार्यक्रम के दौरान यूक्रेन और रूस के बीच चल रहे युद्ध पर खुलकर अपने विचार रखे. इस दौरान उन्होंने 3 स्थितियां बताई हैं जो इस युद्द के खत्म होने के बाद सामने आ सकती हैं. उन्होंने कयास लगाते हुए कहा कि इस युद्ध में आखिर में रूस हारेगा और इसका फायदा सीधे तौर पर चीन को मिलेगा. इस युद्ध से रूस का हथियारों का एक्पोर्ट भी प्रभावित होगा. जॉनसन ने भारत और ब्रिटेन के बीच संबंधों पर भी खुलकर चर्चा की और कहा कि भारत और ब्रिटेन को मिलकर चलना होगा यह दोनों देशों के बहुत जरूरी है. दरअसल बोरिस जॉनसन हिंदुस्तान टाइम्स लीडरशिप समिट के आखिरी दिन संबोधित करते हुए बोल रहे थे.


जॉनसन जिन्होंने हाल ही में ब्रिटेन के पद से इस्तीफा दिया था, उन्होंने भारत और ब्रिटेन के बीच पेंडिंग ट्रेड एग्रीमेंट पर भी चर्चा की. उन्होंने कहा कि जबसे मैंने ऑफिस छोड़ा है तब से वह एग्रीमेंट ठंडे बस्ते में चला गया है. यूक्रेन और रूस के बीच युद्ध पर बोरिस ने तीन प्रिडिक्शन दिए हैं.

‘देशभक्ति’ से हारेंगे पुतिन
पहले प्रिडिक्शन में जॉनसन ने कहा, पुतिन इस युद्ध में हार जाएंगे, उन्हें एक देश की जनता अपनी देशभक्ति से आराम से हरा देगी. मैं आपको बता दूं कि यूके उन्हें सपोर्ट करता रहेगा. इकोनोमिकली, पोलिटिकली और मिलिट्रिरिली. जब तक वह अपने देश को वापस नहीं ले लेते. जॉनसन ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन को ‘मास्टर ऑफ प्रोपगेंडा’ भी कहा और चेतावनी भी दी कि वह अपनी ‘तय हार’ को रूस के लिए जीत में बदल देंगे और वह रूसी नागरिकों से यह उम्मीद करेंगे कि वह इस स्टोरी को गुटक जाएं.

हथियारों का मार्केट हो रहा खराब
दूसरे प्रिडिक्शन में उन्होंने कहा, रूस के मिलेट्री औजारों का एक्सपोर्ट भी इससे बहुत बुरी तरह से इफेक्टिव होगा. जो भी हो रहा है (यूक्रेन में) वह रूसी हथियारों के लिए बहुत बुरा विज्ञापन है. 60 प्रतिशत मिसाइलें इनमें से बेकार निकल रही हैं. यह मेरे पहले टेनिस मैच से भी कम एक्युरेट हैं. वहीं चीन के बने हुए टायर रूसी हथियारों से लैस वाहनों के नीचे फट रहे हैं.