logo

आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सुशील गुप्ता के नेतृत्व में सीएम आवास का घेराव

 
आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सुशील गुप्ता के नेतृत्व में सीएम आवास का घेराव
WhatsApp Group Join Now

आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सुशील गुप्ता के नेतृत्व में बुधवार को आम आदमी पार्टी के हजारों कार्यकर्ताओं और प्रदेश भर के युवाओं ने बेरोजगारी के मुद्दे पर मुख्यमंत्री खट्टर के आवास पर जोरदार प्रदर्शन किया। इससे पूर्व, प्रदेश भर से हजारों युवा और आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता स्वामी विवेकानंद पार्क में पहुंचे और खट्टर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

इस दौरान प्रदेश उपाध्यक्ष बलबीर सैनी, जयपाल शर्मा, हरपाल भट्टी, संगठन मंत्री अश्वनी दुलहेडा, रणदीप राणा, राजेंद्र शर्मा, आदर्शपाल सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष इंदु शर्मा, डॉ. मनीष यादव, डॉ. अनिल रंगा, महिला विंग प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रजनीश जैन और सीवाईएसएस प्रदेश अध्यक्ष आयुष खटकड़ मौजूद भी मौजूद रहे।

सीएम आवास पर जाने के दौरान आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अनुराग ढांडा समेत कई नेताओं पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया। वरिष्ठ अनुराग ढांडा सीएम आवास पर जाने के लिए डटे रहे पुलिस के लाठीचार्ज से उनकी हाथ की हड्डी टूट गई, वहीं अन्य को भी चोट आई। पुलिस ने जबरदस्ती उन्हें बैरिकेडिंग के पास से उठाकर गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान 500 से ज़्यादा कार्यकर्ताओं को भी हिरासत में लिया गया। इस दौरान आम आदमी पार्टी के नेताओं ने जोर शोर से बीजेपी सरकार और मुख्यमंत्री खट्टर के खिलाफ नारेबाजी की। पुलिस ने पांच सौ से ज्यादा कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया।

डॉ. सुशील गुप्ता ने कहा कि आज हरियाणा में पूरे देश में सबसे ज्यादा बेरोजगारी है। आज हरियाणा का पढ़ा लिखा युवक मजदूरी करने को मजबूर है और उनको मजदूरी भी समय पर नहीं मिल रही। बेरोजगारी के कारण हरियाणा का युवा नशे के रास्ते पर चल पड़ा है और हर गांव में खाली जगहों पर सीरिंज पड़ी मिलती हैं। कहीं शराब का नशा है, कहीं चिट्टे का नशा है तो कहीं इंजेक्शन के द्वारा नशा लिया जा रहा है। इसके अलावा हरियाणा का युवा अपराध के रास्ते पर चल पड़ा है। अखबारों की सुर्खियों में छपता है कि हरियाणा में नाबालिग शार्प शूटर सबसे सस्ता मिलता है। बेरोजगारी के कारण हरियाणा का युवा डिप्रेशन के रास्ते पर चलकर आत्महत्या तक करने को मजबूर है। परंतु खट्टर सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही। दो लाख सरकारी नौकरियां खाली होने के बावजूद युवाओं को नौकरी नहीं दे रही और एचकेआरएन के नाम पर युवाओं के साथ धोखा किया जा रहा है।

उन्होंने कहा हरियाणा में बेरोजगारी के कारण अपराध इतना बढ़ गया है कि हरियाणा में नए उद्योग नहीं आ रहे। प्रदेश में नए उद्योग न लगना भी बेरोजगारी का मुख्य कारण है। कुछ दिन पहले गोहाना में 35 राउंड फायर कर दो करोड़ की फिरौती मांगी थी। आज रोहतक के सांपला में फिरौती मांगने की वारदात हो गई। मैं खट्टर सरकार से पूछना चाहता हूं कि हरियाणा में कब तक गोलियां चलती रहेंगी और यहां के व्यापारी डर कर भागते रहेंगे? मैं सीएम खट्टर से पूछना चाहता हूं कि हरियाणा का युवा कब तक अपनी जमीनें बेचकर अवैध रास्ते से विदेशों की ओर पलायन करता रहेगा?

सीएम खट्टर बताए कि हरियाणा के युवाओं को किसी शांतिपूर्ण देश में भेजने की बजाय युद्धग्रस्त देश इजरायल में क्यों भेजा जा रहा है? युवा कह रहे हैं कि हम भूख से मरने के बजाय गोली से मर जाएं, इसलिए इजराइल जाने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि आज हजारों युवा खट्टर सरकार को बताने आए हैं कि भाजपा सरकार हरियाणा युवाओं को बेरोजगारी के किस आलम पर पहुंचा चुकी है। अब हरियाणा का युवा इस भ्रष्टाचारी सरकार को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए तैयार है।

अनुराग ढांडा ने युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि आज हरियाणा का हर युवा त्रस्त है। हरियाणा में 25 लाख युवा बेरोजगार हैं और सरकार से रोजगार मांग रहे हैं। पिछले साढ़े नौ साल में इस सरकार ने युवाओं के रोजगार के लिए कुछ नहीं किया। जिस मुद्दे पर हम इकट्ठा हुए हैं उस पर आज मुख्यमंत्री खट्टर के आवास पर उनसे सवाल पूछने के लिए आए हैं कि हरियाणा में दो लाख सरकारी नौकरी खाली हैं, इसके बावजूद खट्टर सरकार हरियाणा के युवाओं को नौकरी क्यों नहीं दे रही?

उन्होंने कहा कि हम सीएम खट्टर से पूछने आए हैं इनकी सरकार में 30 से ज़्यादा पेपर लीक हो चुके हैं, बार बार विज्ञापन वापस ले लेते हैं और नौकरी देने में घोटाले हो रहे हैं। लेकिन इन्होंने इनके मंत्रियों और विधायकों को जेल में क्यों नहीं डाला जिनकी वजह से पेपर लीक और घोटाले हो रहे हैं। हम सीएम खट्टर से पूछने आए हैं कि ये सरकार हरियाणा के युवाओं को मरने के लिए इजरायल क्यों भेज रही है? जबकि दो लाख सरकारी नौकरी हरियाणा में खाली पड़ी हैं। उन्होंने कहा 6 जनवरी 2023 को मुख्यमंत्री खट्टर ने कहा था कि साल 2023 में 50,000 नौकरी देंगे। लेकिन अभी तक सीएम खट्टर एक हजार नौकरियां भी क्यों नहीं दे पाए ?

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी से युवाओं का दर्द नहीं देखा जाता। इसलिए आम आदमी पार्टी युवाओं की आवाज तो उठाएगी ही चाहे जो मर्जी सजा भुगतनी पड़े। यदि मुख्यमंत्री से सवाल करना गैर कानूनी है तो हमें गिरफ्तार कर लो और जेल में डाल दो। उन्होंने कहा कि चाहे आज आंसू गैस के गोले चले या वाटर कैनन, आज आम आदमी पार्टी के इंकलाबी कार्यकर्ता बैरिकेड्स तोड़ कर रहेंगे। पुलिस के बल पर आम आदमी पार्टी का विरोध प्रदर्शन नहीं दबेगा। सीएम खट्टर को हरियाणा के युवाओं को रोजगार देने के लिए मजबूर कर देंगे। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी दूसरे विपक्षी दलों की तरह घर नहीं बैठ सकती। आम आदमी पार्टी हरियाणा के हर गांव हर गली में जाकर सरकार से सवाल करेगी कि युवाओं को नौकरी क्यों नहीं दी जा रही।