logo

कुरुक्षेत्र से "इंडिया" गठबंधन को जिताने के लिए आम आदमी पार्टी के चुनावी कैंपेन का आगाज

"बदलेंगे कुरुक्षेत्र, बदलेंगे हरियाणा, इब्बके इंडिया को जिताना" नारे की लॉचिंग के साथ हुई शुरुआत
 
ed
WhatsApp Group Join Now
आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पंजाब सीएम सरकार भगवंत मान ने किया शुरू
कुरुक्षेत्र/चंडीगढ़, 10 मार्च। 

आम आदमी पार्टी ने रविवार को कुरुक्षेत्र से चुनावी कैंपेन का आगाज किया। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद अरविंद केजरीवाल और पंजाब के लोकप्रिय मुख्यमंत्री सरकार भगवंत सिंह मान ने "बदलेंगे कुरुक्षेत्र, बदलेंगे हरियाणा, इब्बके इंडिया को जिताना" नारे के साथ चुनावी कैंपेन का आगाज किया। उनके साथ आम आदमी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष और कुरुक्षेत्र से इंडिया गठबंधन के तहत आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी डॉ. सुशील गुप्ता, आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष अनुराग ढांडा और प्रदेश उपाध्यक्ष और पूर्व मंत्री बलबीर सिंह सैनी भी मौजूद रहे। कार्यक्रम में प्रदेशभर से आम आदमी पार्टी के पदाधिकारी, कार्यकर्ता और समर्थक मौजूद रहे।

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने चुनावी कैंपेन जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि एक महीने के बाद लोकसभा का चुनाव है। किसी भी समय आचार संहिता लग सकती है। इस बार कुरुक्षेत्र लोकसभा से "इंडिया" गठबंधन की तरफ से आम आदमी पार्टी के लोकसभा प्रत्याशी डॉ. सुशील गुप्ता हैं। बहुत सारी पार्टियां आपके पास आएंगी। मैं ज्यादा लच्छेदार बातें नहीं करता। मैं आपकी बात करूंगा।

"मैं आपसे पूछना चाहता हूं इन 10 सांसदों ने पिछले 10 साल में आपके लिए क्या किया?"

उन्होंने कहा की मैं आपकी बात करूंगा, अपनी सोचो, अपने घर की सोचो, देश की सोचो। बाकी इन पार्टियों के चक्कर में क्या पड़ा है? इन पार्टियों ने तो 75 साल में देश को लूट लिया। एक महीने बाद चुनाव है, इस चुनाव में आपको अपना सांसद चुनना है। किसे वोट दें ? पिछले दस साल से आप हरियाणा की 10 की 10 सीटें बीजेपी को दे रहे हो। बीजेपी के एमपी जीता कर भेज रहे हो। मैं आपसे पूछना चाहता हूं इन 10 सांसदों ने पिछले 10 साल में आपके लिए क्या किया? कोई एक काम किया हो तो मुझे बताओ, मैं राजनीति छोड़ दूंगा।

"ये जनता के सांसद नहीं हैं, ये बीजेपी के एमपी हैं, बीजेपी के गुलाम हैं"

उन्होंने कहा कि इन 10 के 10 सांसदों ने जनता के लिए कुछ नहीं किया। ये जनता के सांसद नहीं हैं, ये बीजेपी के एमपी हैं। बीजेपी के गुलाम हैं। बीजेपी कहती है उठ तो उठते हैं, बीजेपी कहती है बैठ तो बैठते हैं। आपके ऊपर इतनी मुसीबत आई तो कहां थे ये लोग? हमारी हरियाणा की पहलवान बेटियों के साथ अत्याचार किए गए, गलत काम किया गया, उनके साथ छेड़छाड़ हुई।जब वे धरना प्रदर्शन करने के लिए दिल्ली गई तो उन्हें लाठियों से पीटा गया। मैं गया था जंतर मंतर पर उनका साथ देने के लिए। आपके 10 एमपी कहां थे? तालियां बजा रहे थे जब आपकी बेटियों के साथ छेड़छाड़ की गई। घर में बैठकर पार्टियां कर रहे थे, जब आपकी बेटियों को छेड़ा जा रहा था।

किसानों ने कहा फसलों के पूरे दाम दो, बदले में आंसू गैस के गोले मिले, गोलियां मिलीं और लाठियां मिलीं

उन्होंने कहा अभी जब हरियाणा और पंजाब के किसान दिल्ली जाना चाहते थे, उनको बॉर्डर पर रोक लिया गया। क्या कसूर था किसानों का ? यही तो बोल रहे थे कि फसलों के पूरे दाम दो। किसानों को फसलों के पूरे दाम मिलने चाहिए, लेकिन किसानों को बदले में क्या मिला? ऊपर से गोले छोड़ दिए गए। चाइना और पाकिस्तान पर गोले छोड़ने की हिम्मत नहीं है इनकी, किसानों के ऊपर गोले छोड़े गए। एक किसान का बेटा शहीद हो गया। जब किसानों के ऊपर गोले छोड़े जा रहे थे, आंसू गैस के गोले छोड़े जा रहे थे, रबड़ की गोली मार रहे थे। वाटर कैनन मार रहे थे तो कहां थे आपके 10 एमपी ?  उस समय ये बीजेपी के सांसद तालियां बजा रहे थे। इनको बहुत मजा आ रहा था कि किसानों को पीट रहे हैं।

"जब बेरोजगार युवाओं को पुलिस ने दौड़ा दौड़ा कर सड़कों पर पीटा, ये सांसद युवाओं की बेरोजगारी का मजाक उड़ा रहे थे"

उन्होंने कहा कि जब पिछले साल बाढ़ से किसानों की फसल तबाह हो गई थी, पूरे हरियाणा के किसानों में तबाही मची हुई थी। बेचारा किसान लूट गया। चारों तरफ किसान के रहे थे हमको मुआवजा दे दो, मुआवजा दे दो। खट्टर सरकार ने किसी को मुआवजा नहीं दिया। तब कहां थे ये 10 एमपी। किसी ने आप लोगों की आवाज नहीं उठाई। जब बेरोजगार युवाओं को पुलिस ने दौड़ा दौड़ा कर सड़कों पर पीटा, बेरोजगार युवा सड़कों पर नौकरी मांग रहे थे। तब कहां थे आपके दस के दस बीजेपी एमपी? ये तालियां बजा रहे थे, आपकी बेरोजगारी का मजाक उड़ा रहे थे। हद तो तब हो गई जब आपकी खट्टर सरकार ने बेरोजगार युवाओं को यूक्रेन भेज दिया युद्ध के अंदर मरने के लिए। मेरे को तो देख कर रोना आ गया।

"खट्टर सरकार ने बेरोजगार युवाओं को युद्ध के अंदर यूक्रेन भेज दिया"

उन्होंने कहा अगर कहीं युद्ध हो जाए तो सारी दुनिया के देश अपने नागरिकों को वहां से निकलते हैं। खट्टर सरकार ने हरियाणा के बेरोजगार युवकों को बेवकूफ बनाकर मरने के लिए यूक्रेन भेज दिया। मैं वीडियो देखता हूं कि युवक बोलते हैं मम्मी पापा मुझे वापस बुला लो, मैं कहां फंस गया? कहां थे ये 10 के 10 एमपी? इस बार गलती में मत करना। इस चक्कर में मत पड़ना कि हम अपना प्रधानमंत्री बनाएंगे। हम इस बार अपना सांसद बनाएंगे। ऐसा सांसद बनाना जो आपके सुख दुख में काम आए।

उन्होंने कहा सुशील गुप्ता को सांसद बनाओगे तो कम से अपना घर होगा। वहां अपना घर समझ के बैठ तो सकते हो। हरियाणा के व्यापारियों को इतनी दिक्कत होती है। मेरे से मिलने आते हैं व्यापारी, उनका दर्द समझता है सुशील गुप्ता। व्यापारियों का कोई मसला होगा तो कम से कम अपना आदमी तो बैठा है संसद के अंदर। कम से कम अपनी आवाज तो उठाएंगे। बीजेपी के गुलाम तो नहीं हैं। इस बार अपने आदमी को संसद भेजो। किसानों की आवाज तो उठाएंगे संसद के अंदर खड़े हो कर।व्यापारियों और किसानों को अपना आदमी चुनकर संसद भेजना है जो आपकी आवाज उठाएगा।

"मैं दिल्ली से आपके बीच हाथ जोड़कर, आपके पैर छूकर आपकी वोट मांगने आया हूं"

उन्होंने कहा कि बीजेपी के सांसद कभी आपकी आवाज नहीं बन सकते। आजकल तो ये बीजेपी वाले पूरे देश में घूम घूम कर बोल रहे हैं कि हमारी तो 370 सीटें आ रही हैं। हमें आपकी वोट चाहिए ही नहीं? तो क्यों दे रहे हो वोट ? मैं दिल्ली से आपके बीच आया हूं वोट मांगने। हाथ जोड़कर, आपके पैर छूकर आपकी वोट मांगने आया हूं। सुशील गुप्ता जी घर घर घूमकर आपके पैर छूकर वोट मांग रहे हैं। हमें आपकी वोट चाहिए। हमें आपकी वोट लेकर जितना है। बीजेपी वालों को तो आपकी वोट चाहिए ही नहीं। हमें आपकी वोट चाहिएं।

"कुरुक्षेत्र की सीट जीता दो, आगे खट्टर सरकार का जाने का इंतजाम हो जायेगा"

उन्होंने कहा कि आज पूरे देश के अंदर दो किस्म के लोग हैं। कोई आदमी या तो देश भक्त है या अंध भक्त है। जीतने देशभक्त हैं मेरे गेल हो लो। जीतने अंध भक्त हैं उनके गेल हो लो। हमें अंध भक्त नहीं चाहिए। सारे अंधभक्त उनके गेल हो लो और सारे देश भक्त हमारे गेल हो लो। आज खट्टर साहब ने 10 साल के अंदर हरियाणा का बेड़ा गर्क कर दिया। हर बच्चा बच्चा चाहता है कि खट्टर सरकार जल्दी से जल्दी जानी चाहिए। कुरुक्षेत्र की सीट जीता दो, आगे खट्टर सरकार का जाने का इंतजाम हो जायेगा।

उन्होंने कहा आज से कुरुक्षेत्र में आम आदमी पार्टी अपना कैंपेन लॉन्च कर रही है। कैंपेन का हमारा नारा है बदलेंगे कुरुक्षेत्र, बदलेंगे हरियाणा, इब्बके इंडिया को है जिताना। कुरुक्षेत्र बदलेगा तो हरियाणा बदलेगा और हरियाणा बदलेगा तो "इंडिया" जीतेगा। आप लोगों को ये चुनाव लड़ना है। सुशील जी आपके पड़ोस में ही रहते हैं। आधे घंटे की दूरी पर इनका गांव है शामलो कलां।आपके बीच के रहने वाले इंसान हैं।


"ये धर्म और अधर्म की लड़ाई, आप लोगों को तय करना है आप धर्म के साथ हैं या अधर्म के साथ"

कुरुक्षेत्र तो सबसे पवित्र धरती है। जहां धर्म युद्ध लड़ा गया था। धर्म और अधर्म के बीच की लड़ाई है। पांडव जीते थे, कौरवों के पास क्या नहीं था, सब कुछ था उनके पास। इतनी बड़ी फौज और धन धान्य था।
पांडवों के साथ भगवान श्री कृष्ण थे। हम भी चार आदमी हैं, बड़े छोटे आदमी हैं। हमारे साथ भी भगवान श्री कृष्ण हैं। हमारे साथ हमारा धर्म है। ये धर्म और अधर्म की लड़ाई है। आप लोगों को तय करना है आप धर्म के साथ हैं या अधर्म के साथ है।

पंजाब के सीएम भगवंत मान ने कहा कि एतिहासिक नगरी कुरुक्षेत्र की धरती पर हमारे लिए चलकर आए सब लोगों का एक एक कदम हमारे सर माथे पर है। आज हरियाणा में कुरुक्षेत्र से आम आदमी पार्टी लोकसभा की और आपकी आवाज को संसद में पहुंचाने की प्रचार मुहिम की शुरुआत करने आए हैं। आज कुरुक्षेत्र की धरती से हरियाणा को बदलने की शुरुआत होने जा रही है। आज का दिन पंजाब के इतिहास में भी बहुत महत्वपूर्ण है। क्योंकि आज ही के दिन दो साल पहले पंजाब को 92 सीटें मिल चुकी थी। पंजाब में आम आदमी पार्टी ने बड़े बड़े किलों को पस्त किया था। उन्होंने कहा कि आज हम आपसे अपील करने आए हैं कि देश का संविधान खतरे में है, संविधान और देश को बचाना जरुरी है। क्योंकि इस देश की सत्ता पर अहंकारी लोग बैठे हैं लेकिन अहंकार और भगवान को बैर होता है और जनता में भगवान बसता है। यदि जनता चाहे तो फर्स से अर्श पर और अहंकारी का अर्श से फर्श पर ला सकती है। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने देश की दशा और दिशा बदल कर रख दी, बड़ी बड़ी पार्टियों को अपना एजेंडा बदलने पर मजबूर कर दिया और अरविंद केजरीवाल ने नाम की नहीं काम की राजनीति की शुरुआत की।

"10 साल पुरानी आम आदमी पार्टी की दो राज्यों में सरकार और 10 राज्यसभा सदस्य"
ws
उन्होंने कहा कि दिल्ली के रामलीला मैदान से अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के रुप में एक छोटी सी क्रांति और दीया जलाया। जिसमें लोग अपने विश्वास और प्यार का तेल दे रहे हैं। जिस कारण मात्र 10 साल में इस छोटी सी पार्टी की दो राज्यों में सरकार है, 10 मेंबर राज्यसभा में हैं, 5 विधायक गुजरात में और दो विधायक गोवा में है, दिल्ली में एमसीडी, चंडीगढ़ में मेयर, मध्यप्रदेश के संगरोली में मेयर और आने वाले दिनों में 13 सीटें पंजाब से, एक सीट कुरुक्षेत्र से और दिल्ली से लोकसभा सीटें आने वाली हैं। इसके अलावा 90 की 90 सीटें हरियाणा में जीत रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब पंजाब और दिल्ली में कैंपेन करते थे तो पत्रकार कहते थे कि आप सर्वे में नहीं आते तो मैने कहा कि हम सर्वे में नहीं आते सीधा सरकार में आते हैं। दिल्ली में पहली बार 70 में से 67, दूसरी बार 70 में सें 62 और पंजाब में पहली बार हुआ कि कांग्रेस, अकाली दल और भाजपा के बिना किसी पार्टी की 117 में 92 सीटें आई हों।

"पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार मात्र दो साल में 42992 नौकरियां दे चुकी"

उन्होंने कहा कि मेरी जनता से अपील है कि अरविंद केजरीवाल को मजबूत करो। आज का नारा है लड़ेंगे कुरुक्षेत्र, बदलेंगे हरियाणा, अबकी बार इंडिया को जीताना। सबको मौका देकर देख लिया इसलिए इस बार अपने आपको वोट देना है और बदलाव लाना है। पंजाब और दिल्ली ने बदल लिया, अब हरियाणा को बदलेंगे। उन्होंने कहा कि पंजाब में सरकार बनने के बाद किसी स्टेडियम में नहीं भगत सिंह के गांव में शपथ ग्रहण समारोह हुआ था। पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार मात्र दो साल में 42992 नौकरियां दे चुकी है। पंजाब में 90 प्रतिशत घरों का बिजली बिल जीरो आता है। सरकारी स्कूल और अस्पताल अच्छे बन रहे हैं। हम लोगों की मजबूरी को मर्जी में बदल देंगे। यदि स्कूल और अस्पताल अच्छे नहीं होंगे तो लोगों को मजबूरी में प्राइवेट में जाना पड़ता है और यदि सुविधाएं एक समान होंगी तो लोग मर्जी अपनी मर्जी से जाएंगे।

"आम आदमी पार्टी नफरत, धर्म और जात-पात की नहीं काम की राजनीति करती है"

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी कहते हैं कि वन नेशन वन इलेक्शन ये वन नेशन वन एजुकेशन क्यों नहीं हो सकती। पंजाब में दिल्ली से सीखकर पंजाब में आम आदमी पार्टी 829 मोहल्ला क्लीनीक बना चुकी है और एक करोड़ से ज्यादा लोग वहां से दवाई लेकर ठीक हो चुके हैं। अरविंद केजरीवाल कहते हैं नफरत, धर्म और जात पात की राजनीति नहीं करनी है बल्कि काम की राजनीति करनी है। उन्होंने कहा कि पहले आम आदमी पार्टी ने बिजली माफ करने की, नौकरी देने की और शहीदों को एक करोड़ रुपए की गारंटी दी थी। तो भाजपा अब हमारे गारंटी शब्द को कॉपी कर लिया। जब भाजपा के लिए बजने लगी खतरे की घंटियां तब पीएम मोदी को याद आई अरविंद केजरीवाल की गारंटियां।

"इस बार झाडू से ही पूरे हिंदुस्तान का भ्रष्टाचार साफ करें"

उन्होंने कहा कि भाजपा ने लोलिपोप देने शुरु कर दिए हैं। परसों ही 100 रुपए सिलेंडर सस्ता किया है लेकिन 1100 रुपए का किसने किया था। पांच साल लूट कर अब 100 रुपए कम कर दिए। इसलिए अरविंद केजरीवाल कहते हैं कि हर साल तीन चार बार चुनाव होना चाहिए इस बहाने कुछ तो देकर जाते हैं। इसलिए इस बार झाडू के निशान पर बटन दबाना है। क्योंकि कमल कीचड़ में खिलता है और झाडू कीचड़ की सफाई करता है। इस बार झाडू से पूरे हिंदुस्तान का भ्रष्टाचार साफ करना है। अंग्रजों ने भी इतना नहीं लूटा था जितना इन्होंने लूट लिया। हमने सत्ता चोरों के हाथ दे रखी है इस बार इमानदारों को दे दो सब चोरियां बंद हो जाएंगी।

"इस बार डबल की नहीं नए इंजन की जरूरत"

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार दिल्ली में काम नहीं करने देती। केंद्र के कहने पर राज्यपाल ने मोहल्ली क्लीनिक की बिजली काट दी और दवाइयां रोक दी। जलबोर्ड का भट्ठा बैठा दिया और केंद्र ने पंजाब का भी 8 हजार करोड़ रुपए रोक रखे हैं। हम इसलिए आपके पास आए हैं कि यदि लोकसभा चुनाव जीतकर हमारे लोकसभा और राज्यसभा सांसद एक साथ बोलेंगे तो कोई हरियाणा और पंजाब का हक का पैसा नहीं रोक सकता। हम लोकतंत्र को बचाने के लिए आपके पास आएं हैं। अब डबल की नहीं नए इंजन की जरुरत है। केजरीवाल कहते हैं कि यदि मैंने काम किए है तो वोट देना नहीं तो मत देना। ये बोलने के लिए जिगरा चाहिए। पीएम मोदी ने 15 लाख का वादा किया था जो जुमना निकला। मैंने पार्लियामेंट में बोल दिया था 15 लाख की रकम लिखता हूं तो कलम रूक जाती है। काले धन के बारे में सोचता हूं तो स्याही सुख जाती है। मोदी जी हर बात ही जुमला निकली। अब तो ये शक है कि क्या चाय बनानी आती है। मुझे लगता नहीं कि चाय बनानी आती है। कहते हैं स्टेशन ही बाद में बना था जहां वे चाय बेचते थे। इसलिए डॉ. सुशील गुप्ता के हाथ मजबूत करने के लिए कुरुक्षेत्र, हरियाणा को बदलने और इंडिया गठबंधन को जीताने का नारा है उस पर जनता हमारा साथ दे। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल जहां भी जाते हैं भाजपा सुपड़ा साफ कर देते हैं इसलिए लगातार ईडी के नोटिस भेजे जा रहे हैं। हम वो पत्ते नहीं जो साख से टूटकर गिर जाएंगे इसलिए आंधियों से कह दो अपनी औकात में रहे। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी का मकसद केवल देश और संविधान को बचाना है