logo

Haryana News मानसिक तौर पर पहले दिन से गठबंधन टूटने के लिए तैयार था : दुष्यंत चौटाला

गठबंधन सरकार टूटने के बाद पहली बार मीडिया से रूबरू हुए पूर्व उपमुख्यमंत्री
 
s
WhatsApp Group Join Now
अगले 4 दिन के अंदर लोकसभा चुनाव में उतरने की घोषणा की जाएगी

Mhara Hariyana News, Chandigarh। हरियाणा के पूर्व उप मुख्यमंत्री दुष्यन्त चौटाला  ने कहा कि मैं मानसिक तौर पर पहले दिन से गठबंधन टूटने के लिए तैयार था, यह राजनीतिक निर्णय होते है कौन सी पार्टी पहले और किस परिस्तिथि में लेगी। पंजाब में राजनीतिक पृष्ठ भूमि का कोई लेवल नही है हरियाणा में तो है

मुझे खुशी है कि हमारी की हुई घोषणा के बाद संत शिरोमणि रवि दास के मंदिर का जल्दबादजी में शिलान्यास रखा जा रहा है।

कल सभी जिला अध्यक्ष, सभी प्रकोष्ठों के साथ बातचीत की, अगले 4 दिन के अंदर लोकसभा चुनाव में उतरने की घोषणा की जाएगी।

लोकसभा और विधानसभा जेजेपी लड़ने का काम करेगी।

नई सरकार से मेरा आग्रह है कि पिछले दिनों जो ओलावृष्टी से फसल का नुकसान हुआ था। उसके मुहावजे की घोषणा की थी। मेरा नए सीएम से अनुरोध है कि आचार संहिता लगने से पहले अगले 20 घण्टे के अंदर मुहावजे की घोषणा करे।

अन्यथा किसानों को ढाई महीने से ज्यादा इंतजार करना पड़ेगा।

यह भी अनुरोध है कि जो प्रोजेक्ट्स हमने चलाये थे उन्हें तुरन्त पूरा किया जाए।

मेरी कभी भी पूर्व सीएम से लड़ाई नही हुई, मेरा उनके साथ काफी अच्छा अनुभव रहा। उनका धन्यवाद करने गया था। उन्होंने साढ़े 4 साल बड़े अच्छे ढंग से गठबंधन को चलाया था।

मुलाकात की चर्चाएं काफी होती है, हम मैदान में उतरेंगे तो किसी एक को नुकसान और किसी एक को फायदा होगा।

हम पहले लोकसभा में 7 सीटों में उतरे उस वक्त 7 लाख वोट हमारी पार्टी को आये, विधानसभा चुनाव में वोट 15% बढ़ा।

जो निर्णय संगठन की लीडरशिप का होगा वह अंतिम फैसला होगा।

हमने एनडीए की मीटिंग में मुद्दा रखा था कि 5100 बुढापा पेंशन की जाए। हम 10 की 10 लोकसभा सीटो पर आपका साथ देगे।

सीएम ने इस्तीफा दिया तो मंत्रिमंडल ने इस्तीफा दिया। सरकार पहले भी अकेले बना सकते थे और अब भी अपने दम पर बीजेपी ने बनाई है।

राजपाठ किसी की बपौती नही है, मेहनत और संघर्ष के साथ विधानसभा और लोकसभा के अंदर भी सदस्य लेकर आएंगे।

जो विप जारी किया गया था उसमे सबको कहा था कि अनुपस्तिथ रहे, 5 लोग जो वहा मौजूद थे उनके खिलाफ संगठन के स्तर पर कार्यवाही की जाएगी।

विश्वास मत वोट से अनुपस्तिथ रहने के लिए कहा था वह विधायको ने किया।

जो हमारे साथ खड़े थे, वह हमारे साथ थे।

आज भी अगर विधानसभा का सत्र होगा तो विप के नाते सभी विधायकों को काम करना होगा नही तो मैं कार्यवाही कर सकता हु।

संगठन विधायको से नही बनता संगठन कार्यकर्त्ताओ से बनता है।

भूपेंदर हुड्डा द्वारा आरोप लगाना बहुत आसान है, जेजेपी किसी अन्य पार्टी के लिये नही बनी है। दीपेन्द्र हुड्डा यह सोचते है कि रोहतक में जेजेपी अपना उम्मीदवार न उतार दे।

हमने बीजेपी को साफ कहा था कि 5100 बुढापा पेंशन की जाए नही तो हम नई सरकार के साथ नही जाएगे।

बीजेपी के साथ रहकर अपनी बातें मनवाई है, हमने अपने मैनिफेस्टो की अधिकतर घोषणाएं पूरी करवाई है।

जेजेपी मेरी ड्यूटी यदि लोकसभा चुनाव लड़ने की लगाती है तो मैं लडूंगा।

सीएम मनोहर लाल के इस्तीफे के बाद मैंने स्टाफ को धन्यवाद कर दिया था, 15 दिनों में पंचकूला के घर मे शिफ्ट हो जाऊंगा।

नए मुख्यमंत्री नायब सैनी को शुभकामनाएं। इनके पास बहुत लिमिटेड समय है। शॉर्ट टर्म के सीएम का टेन्योर पंजाब ने भी देखा है सबको पता है उनका अनुभव कैसा रहा।

one nation one election का मैं पक्षधर हु, लेकिन यह 2029 में संभव हो पाएगा

इलेक्टोरल बांड की लिस्ट जारी हुई है, उसमे जेजेपी नही है