logo

Kisan News: इस राज्य में किसानों को फसल के नुकसान पर सरकार देगी 10 हजार रुपये तक मुआवजा

 
Kisan News: इस राज्य में किसानों को फसल के नुकसान पर सरकार देगी 10 हजार रुपये तक मुआवजा
WhatsApp Group Join Now

केंद्र और राज्य सरकार की तरफ से किसानों के लिए कई योजनाएं चलायी जा रही हैं. बेमौसम बारिश और प्राकृतिक आपदा से किसानों को होने वाले नुकसान से बचाने के लिए बिहार सरकार ने किसानों के हित में बिहार राज्य फसल सहायता योजना (Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana) शुरू की है.


इसके तहत किसानों का फसल बीमा (Crop Insurance) सरकार की ओर से किया जाता है. इसका उद्देश्य प्राकृतिक आपदाओं के समय किसानों की फसल को होने वाले नुकसान को कम करना है. तो चलिए जानते हैं इसको लेकर डीटेल.

किसे मिलेगा इस योजना का लाभ?

इस योजना का लाभ बिहार के किसान ही उठा सकते हैं. खरीफ 2023 मौसम के लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है. इसके साथ ही रैयत और गैर-रैयत किसानों, आंशिक तौर पर रैयत और गैर-रैयत किसानों को इसका लाभ मिलेगा. 

क्या है बिहार राज्य फसल सहायता योजना?

इस योजना के लिए अगर आप आवेदन करना चाहते हैं तो जल्द से जल्द इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कर लें. किसी भी प्राकृतिक आपदा जैसे कि बाढ़, सूखा पड़ना आदि के कारण फसल की बर्बादी हो जाती है.

तो किसानों को इस योजना के माध्यम से आर्थिक सहायता दी जाती है. इस योजना के माध्यम से किसानों को ₹7500 प्रति हेक्टेयर 20% तक का नुकसान होने पर प्रदान किया जाता है.


किस फसल पर मिलता है योजना का लाभ?

इस योजना के तहत खरीफ फसल धान, मक्का, सोयाबीन, आलू, बैगन, टमाटर और गोभी शामिल है. राज्य के सभी 38 जिले के किसानों को इस योजना का लाभ मिलेगा.

क्या है इस योजना की शर्ते?

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के तहत एक फसल से ज्यादा फसलों के चयन की सुविधा है. योजना के तहत अधिकतम 2 हेक्टेयर प्रति किसान के लिए सहायता राशि का भुगतान किया जाएगा. नगर पंचायत/ नगर परिषद क्षेत्र के किसान भी योजना का लाभ का लेने के लिए योग्य हैं.


फसल का बीमा कैसे चेक करें?

आवेदन करने के 72 घंटे के भीतर बीमा कंपनी, संबंधित बैंक, स्थानीय कृषि विभाग सरकार / जिला अधिकारियों या हमारे टोल फ्री नंबर (1800 200 7710) के माध्यम से या राष्ट्रीय फसल बीमा पोर्टल पर सूचना देगी.

इस डायरेक्ट लिंक से करें आवेदन


https://dbtagriculture.bihar.gov.in/RegFarmer/

इन डॉक्यूमेंट की होगी जरूरत

इस योजना मे आवेदन करने के लिए आपको कुछ डॉक्यूमेंट की जरूरत होगी. जैसे-

पासपोर्ट साइज फोटो (50 kB से कम होना चाहिए )

पहचान पत्र

बैंक पासबुक के पहले पेज की कॉपी

आवासीय प्रमाण पत्र

ऐसे करना होगा आवेदन

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana 2024 में ऑनलाइन आवेदन के लिए सबसे पहले आपको आधिकारीक वेबसाइट http://state.bihar.gov.in/cooperative पर जाना होगा.

होम पेज पर आने के बाद आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना / अधिप्राप्ति हेतु निबंधन के लिए यहाँ क्लिक करे का ऑप्शन मिलेगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा.

क्लिक  करते ही एक नया पेज खुल जाएगा, यहां पर आपको कृषि विभाग में किसान निबंधन के लिए यहां क्लिक करें.

क्लिक  करने के बाद आपके सामने  प्रत्यक्ष लाभ अंतरण, कृषि विभाग, बिहार सरकार   की आधिकारिक वेबसाइट  खुल जाएगी.

यहां पर आपको रजिस्ट्रेशन के टैब में ही आपको रजिस्ट्रेशन करना होगा.

क्लिक करने के बाद आपके सामने इसका  पंजीकरण फॉर्म  खुल जाएगा, अब आपको इस पंजीकरण फॉर्म को स्टेप बाय स्टेप करके ध्यानपूर्वक सही से भरना होगा.

लास्ट में आपको  सबमिट  के ऑप्शन पर क्लिक कर इसका लॉगिन आई.डी और पासवर्ड  बनाना होगा.

इसके बाद बिहार राज्य फसल सहायता योजना हेतु आवेदन करें.  पंजीकरण करने के बाद आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना एवं अधिप्राप्ति  – सहकारिता विभाग  की आधिकारीक वेबसाइट  के होमपेज पर आना होगा.

अब यहां पर आपको यहां पर आपको  आवेदन  के विकल्प मिलेंगे.क्लिक करने के बाद आपके सामने इसका  आवेदन फॉर्म  खुलेगा जिसे आपको ध्यानपूर्वक भरना होगा.

इसके बाद मांगी गई सभी दस्तावेजों को स्कैन करके अपलोड करना होगा और लास्ट में आपको  सबमिट  के विकल्प पर क्लिक कर इसकी रसीद प्राप्त लेनी है.

किसी भी अन्य सहायता के लिए कॉल सेंटर में भी कॉल कर सकते हैं. किसानों की सहायता के लिए टॉल फ्री नंबर  180001800110 जारी किया गया है. इसके अलावा आप प्रखण्ड सहकारिता प्रसार पदाधिकारी / कार्यपालक सहायक से मदद ले सकते हैं.

कब होती है रबी की फसल?

रबी की फसल अक्टूबर-नवम्बर के महीनों में बोई जाती है.  इनकी कटाई अप्रैल से जून तक की जाती है. इस समय होने वाली फसलों में  गेहूं, जौ,आलू, चना, मसूर, अलसी, मटर और सरसों है