logo

New Pay Commission: बड़ा अपडेट! कर्मचारियों की लगी लाटरी, सैलरी में हुआ 15144 रुपए का तगड़ा इजाफा, साथ में बढ़ गया डीए

 
New Pay Commission: बड़ा अपडेट! कर्मचारियों की लगी लाटरी, सैलरी में हुआ 15144 रुपए का तगड़ा इजाफा, साथ में बढ़ गया डीए
WhatsApp Group Join Now

New Delhi : 7th Pay Commission DA Hike: देशभर के केंद्रीय कर्मचारियों (Central government employees) के लिए बड़ी खुशखबरी है. आखिरकार अब बढ़े हुए महंगाई भत्ते (DA Hike)का इंतजार जल्द ही खत्म होने वाला है.

सरकार जल्द ही ये पैसा कर्मचारियों के खाते में ट्रांसफर करने जा रही है. AICPI के आंकड़ों से अबतक साफ हो गया है कि सरकार इस बार भी कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 4 फीसदी का इजाफा करने जा रही है.

यानी कि अब से कर्मचारियों को 46 फीसदी की दर से महंगाई भत्ता मिलेगा. अब आप ये जान लें कि आपकी सैलरी में कितना इजाफा होने जा रहा है. 

बेसिक सैलरी पर होती है कैलकुलेशन

महंगाई भत्ते की कैलकुलेशन हमेशा ही बेसिक सैलरी पर की जाती है. अगर किसी कर्मचारी की बेसिक सैलरी 20,000 रुपये है तो इस पर ही डीए की कैलकुलेशन की जाएगी. अगर डीए में 4 फीसदी की बढ़ोतरी होती है तो उसकी सैलरी में प्रतिमाह के हिसाब से करीब 800 रुपये की बढ़ोतरी हो जाएगी.

आइए आपको बताते हैं कि आपकी सैलरी में कितना इजाफा हो जाएगा-

>> बेसिक सैलरी (BasicPay) - 31550 रुपये
>> नया महंगाई भत्ता (DA)- 46 फीसदी - 14513 रुपये/महीना
>> मौजूदा महंगाई भत्ते (DA)- 42 फीसदी - 13251 रुपये/महीना
>> 4 फीसदी महंगाई भत्ता (DA) बढ़ने पर - 1262 रुपये (हर महीने) ज्यादा आएंगे
>> सालाना महंगाई भत्ता- 4 फीसदी बढ़ने पर 15144 रुपये ज्यादा मिलेंगे
>> कुल सालाना महंगाई भत्ता- 1,74,156 रुपये (46 फीसदी पर) हो जाएगा

जल्द होगा ऑफिशियल ऐलान

7th pay matrix के मुताबिक, छोटे ग्रेड के कर्मचारियों से लेकर ऑफिसर ग्रेड तक सभी की सैलरी में बंपर इजाफा होगा. फिलहाल जुलाई महीने में बढ़ने वाले महंगाई भत्ते का आंकड़ा तो तय हो गया है,

लेकन अभी तक इसका अधिकारिक ऐलान नहीं किया गया है. इसका ऐलान सरकार की तरफ से अगस्त या फिर सितंबर महीने में किया जा सकता है. 

वित्त मंत्रालय जारी करता है नोटिफिकेशन

आमतौर पर सितंबर में ही महंगाई भत्ते को कैबिनेट से मंजूरी दी जाती है. इसके बाद वित्त मंत्रालय इसे नोटिफाई करता है और उसके बाद केंद्र सरकार के कर्मचारियों को इसका भुगतान होता है. इस बढ़े हुए महंगाई भत्ते का जो अंतर दो महीने का रहता है उसे एरियर के रूप में केंद्रीय कर्मचारियों को दिया जाता है.