logo

Success Story of Vijay Shekhar Sharma: ब्याज के रुपए से खड़ा किया 480 अरब का बिजनेस, पढ़िए इनकी सफलता की पूरी कहानी

 
Success Story of Vijay Shekhar Sharma
WhatsApp Group Join Now

Success Story of Vijay Shekhar Sharma: आज हम आपको एक ऐसी सफलता की कहानी के बारे में बताने जा रहे है जिसके बारे में आपने कभी सुना भी नहीं होगा। इन्होनें ब्याज के रुपये 480 अरब का बिजनेस खड़ा कर दिया। तो आइए नीचे खबर में जानते है इनकी सफलता की पूरी कहानी के बारे में विस्तार से...  

नई दिल्ली: पेटीएम के मालिक विजय शेखर शर्मा (Vijay Shekhar Sharma) अलीगढ़ के एक हिंदी मीडियम स्कूल मे पढ़े लिखे हैं. विजय काफी टैलेंटेड हैं. उन्होंने 14 साल की उम्र में ही 12वीं कक्षा पास कर ली थी.

वे सभी विषयों में काफी अच्छे थे. उनके माता पिता और शिक्षक उनकी पढ़ाई से काफी खुश रहते थे. स्कूल की पढ़ाई खत्म करने के बाद विजय शेखर शर्मा ने दिल्ली के एक इंजीनियरिंग कॉलेज में दाखिला लिया लेकिन यह वही स्थान था जहां से उनकी जिंदगी बदल गई.


जब विजय शेखर इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने दिल्ली आए तो उन्हें हिंदी और इंग्लिश के बीच का बहुत बड़ा अंतर पता चला। हिंदी मीडियम से पढ़े विजय शेखर शर्मा की इंग्लिश उस समय अच्छी नहीं थी। इसके चलते साथ पढ़ने वाले इंग्लिश मीडियम के छात्र कई बार मज़ाक भी उड़ाते थे।


हालांकि उन्हें कुछ ऐसे साथी भी मिले जिन्होंने इंग्लिश सीखने में उनकी मदद की। इंग्लिश को लेकर बहुत परेशानियां सामने आईं विजय के, वह फेल भी हुए, लेकिन उन्होंने ये मन बना लिया कि वह इसे सीख के ही दम लेंगे। ये उनकी इच्छाशक्ति ही थी जिसके दम पर उन्होंने जल्द ही इंग्लिश भाषा सीख ली।


वर्तमान के व‍ित्‍त वर्ष की दूसरी और तीसरी त‍िमाही में पेटीएम (Paytm) के नतीजों ने कंपनी के शेयर में जान डाली थी. लेक‍िन भारतीय र‍िजर्व बैंक (RBI) ने अब पेटीएम पेमेंट बैंक के ख‍िलाफ कड़ी कार्रवाई की है.

आरबीआई के आदेश में पेटीएम पेमेंट बैंक पर जमा लेने पर रोक लगा दी गई है. आरबीआई ने 1 मार्च से पेटीएम पेमेंट बैंक के ग्राहकों की बैंकिंग सर्विस रोकने का आदेश द‍िया है.


र‍िजर्व बैंक ने यह कदम पेटीएम पेमेंट बैंक (Paytm Payment Bank) की तरफ से लगातार की जा रही न‍ियमों की अनदेखी के बाद उठाया है. केंद्रीय बैंक के इस कदम के बाद पेटीएम के शेयर में फ‍िर से ग‍िरावट आ सकती है. बुधवार शाम को आई इस खबर का असर गुरुवार सुबह पेटीएम के शेयर पर देखने को म‍िल सकता है.


जब 2150 से 438 रुपये पर आया शेयर

मौजूदा व‍ित्‍त वर्ष की प‍िछली तीन त‍िमाही से पेटीएम की स्‍थ‍िति में लगातार सुधार हो रहा है. पेटीएम का शेयर भी प‍िछले द‍िनों अक्‍टूबर 2023 में 52 हफ्ते के र‍िकॉर्ड लेवल 998 रुपये पर पहुंच गया था.

हालांक‍ि इस शेयर का ऑल टाइम हाई 2150 रुपये का है. एक साल बाद ही नवंबर 2022 में शेयर ऑल टाइम लो 438 रुपये पर देखा गया था. शेयर के इस लेवल पर आने के बाद न‍िवेशकों को भारी नुकसान हुआ था.

कंपनी का मार्केट कैप ग‍िरकर रसातल में पहुंच गया. पेटीएम का संचालन करने वाली कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस ने प‍िछले द‍िनों र‍िकवरी की. आइए जानते हैं पेटीएम की शुरुआत से लेकर 480 अरब रुपये की कंपनी बनने तक की कहानी-

कॉलेज में वेबसाइट बना लाखों रुपये में बेची

पेटीएम के फाउंडर (Founder of Paytm) विजय शेखर शर्मा यूपी के अलीगढ़ ज‍िले के छोटे से गांव के रहने वाले हैं. कॉलेज से पहले उन्‍होंने अलीगढ़ में ही स्‍थानीय स्कूलों से हिंदी माध्यम में पढ़ाई की. कॉलेज में दाख‍िला लेने के ल‍िए वह दिल्ली पहुंचे.

यहां उन्होंने दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन में बैचलर की पढ़ाई की. 1997 में कॉलेज के द‍िनों में ही उन्होंने indiasite.net नाम से वेबसाइट तैयार कर उसे लाखों रुपये में बेच दिया.

ब्‍याज के 8 लाख रुपये से की शुरुआत

इसके बाद वे आगे की पढ़ाई के लिए वह अमेरिका की स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी (Stanford University) चले गए. वह भारत में स्टार्टअप की शुरुआत करने चाहते थे. लेकिन वह यह जानते थे क‍ि उन्‍हें कोई बड़ा सपोर्ट नहीं मिलने वाला.

इन चीजों को ध्‍यान में रखकर उन्होंने बचत करना शुरू कर द‍िया. कुछ द‍िन बाद 2000 में विजय शेखर शर्मा ने 24 प्रत‍िशत सालाना ब्‍याज पर आठ लाख का लोन लेकर पेटीएम की पैरेंट कंपनी वन 97 कम्‍यून‍िकेशन (One97 Communications Ltd) की शुरुआत की. आज इस कंपनी का मार्केट कैप करीब 480 अरब रुपये पर पहुंच गया है.

पेटीएम बैंक की शुरुआत

पेटीएम बैंक की शुरुआत (Launch of Paytm Bank) साल 2016 में हुई थी. Paytm का माल‍िकाना हक रखने वाली One97 Communications को 2015 में आरबीआई (RBI) ने पेमेंट बैंक लाइसेंस द‍िया.

बैंक ने 2017 में अपना कामकाज शुरू किया और  पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड (Paytm Payments Bank Limited) के नाम से जाना जाने लगा. पेटीएम बैंक की तरफ से ग्राहकों को अध‍िकतर वो सभी सुव‍िधाएं दी जाती हैं, जो कोई भी दूसरा सरकारी या न‍िजी बैंक देता है.

कब आया पेटीएम का शेयर?

आपको बता दें कि पेटीएम का शेयर 18 नवंबर 2021 को भारतीय शेयर बाजार में आया था. उस समय यह देश का सबसे बड़ा आईपीओ था, ज‍िसके जर‍िये 18,300 करोड़ रुपये जुटाए गए थे.

पेटीएम के शेयर ने लिस्टिंग के बाद से बाजार में काफी उतार-चढ़ाव देखे हैं. शुरुआत में शेयर की कीमत 2,150 रुपये प्रति शेयर थी, जो 2022 में 438 रुपये प्रति शेयर तक गिर गई. बाद में शेयर की कीमत में तेजी देखने को मिली.

शेयर का मौजूदा समय में हाल

पेटीएम की पेरेंट कंपनी (Paytm's parent company) One97 Communications के दूसरे तिमाही के नतीजे में कंपनी का घाटा कम हुआ था. ज‍िसके बाद शेयर की कीमत में तेजी देखी गई. अक्‍टूबर 2023 में शेयर की कीमत 52 वीक के हाई पर पहुंच गई.

उस समय पेटीएम का हाई 998.30 रुपये रहा. यही अब पेटीएम का 52 वीक हाई भी बन गया. जबक‍ि इसका 52 हफ्ते का लो 516 रुपये है. बुधवार को कंपनी का शेयर 761 रुपये पर बंद हुआ. कारोबारी सत्र के दौरान इसने 774 रुपये के हाई और 753.85 रुपये के लो लेवल पर कारोबार क‍िया.