logo

कहां छिपा है शातिर सिनवार? हमास का ‘कसाई’ इजराइल के लिए बना सिरदर्द, मोसाद भी फेल!

 
कहां छिपा है शातिर सिनवार? हमास का ‘कसाई’ इजराइल के लिए बना सिरदर्द, मोसाद भी फेल!
WhatsApp Group Join Now

गाजा के हमास कमांडर याह्या सिनवार का नाम इस वक्त इजरायल की हिटलिस्ट में सबसे ऊपर है. 10 दिन पहले ही इजरायल ने ये दावा किया था कि खान यूनिस में याह्या सिनवार एक बंकर के अंदर छिपा है. सिनवार को पूरी तरह घेर लिया गया और जल्दी ही उसको ढेर कर दिया जाएगा, लेकिन इजरायल का ये दावा हकीकत नहीं बन सका. याह्या सिनवार अब भी जिंदा है. अब भी वह युद्ध की कमान संभाले हुए है और इजरायल के लिए मुसीबत बना हुआ है. सिनवार को जानने वाले इजरायली कमांडर ये भी मान रहे हैं कि वो गाजा या जॉर्डन में तेल अवीव में भी हो सकता है.


याह्या सिनवार ही वो नाम है, जो गाजा में हमास का नेतृत्व कर रहा है. सिनवार का मतबल है हमास के युद्ध की रणनीति. सिनवार का मतलब है अल कस्साम ब्रिगेड का हौसला. सिनवार ही हमास और अल कस्साम को हथियारों की सप्लाई का काम संभालता है. युद्ध की रणनीति तैयार करना भी सिनवार का काम है. लड़ाकों के लिए रसद सप्लाई भी सिनवार के जरिए होती है. यानी सिनवार की मौत का मतलब होगा, एक गोली से हमास की कई विंग का ढेर हो जाना.


इजरायल में छिपा हो सकता है सिनवार

5 दिसंबर तक याह्या सिनवार गाजा में था. इजरायल का दावा था कि सेना उसके करीब पहुंच चुकी है. 6 दिसंबर को भी इजरायल ने ये दावा किया कि वो सिनवार के बहुत करीब है, लेकिन सिनवार अबतक इजरायल की पकड़ में नहीं आया है. इजरायल के पूर्व सैनिक और शिन बेट यूनिट के कई पूर्व कमांडर ये मानते हैं कि सिनवार गाजा से निकल चुका है. शिन बेट यूनिट के एक पूर्व कमांडर ने कहा है कि सिनवार इजरायल में छिपा हो सकता है.

इस कमांडर ने 1982 में सिनवार को गिरफ्तार किया था. तब सिनवार को फारा जेल में रखा गया था. सिनवार ने तब कहा था कि वो IDF से बचने के लिए इजरायल में छिपना पड़ा तो छिप जाएगा, लेकिन इजरायली जेल में नहीं रहेगा. युद्ध शुरू होने के बाद से ये माना जा रहा है कि सिनवार गाजा में कहीं छिपा है लेकिन ये भी हो सकता है कि वो तेल अवीव या गाजा के किसी दूसरे शहर में हो.

अपना हुलिया बदलने में माहिर है सिनवार

याह्या सिनवार हमास की इंटेलिजेंस विंग में काम कर चुका है. 1982 में इंटेलिजेंस विंग में काम करते हुए वो गिरफ्तार हुआ था. सिनवार अपना हुलिया बदलने में माहिर है. सिनवार ने कई साल हिब्रू भाषा लिखनी-बोलनी सीखी है. वो यहूदियों के रहन-सहन के तौर तरीके जानता है. यहूदियों की उपासना पद्धति भी सिनवार जानता है. यानी सिनवार इजरायल के आम यहूदियों के बीच घुल-मिलकर रह सकता है. इसीलिए माना जा रहा है कि वो इजरायल भी छिपा हो सकता है.

यह भी पढ़ें- कौन होगा गाजा का गॉडफादर? जंग के बीच अमेरिका ने सेट किया प्लान

इस वक्त हमास की टॉप लीडरशिप इजरायल के टारगेट पर है, लेकिन दुनिया की सबसे मशहूर इंटेलिजेंस एजेंसी मोसाद भी इन्हें नहीं ढूंढ पा रही है. युद्ध से पहले हमास के तमाम बड़े लीडर्स और कमांडर गाजा में मौजूद थे, मगर जैसे ही इजरायल से जंग शुरू हुई हमास की राजनीतिक विंग का प्रमुख इस्माइल हानिया कतर जा पहुंचा. मगर अब इस्माइल हानिया कतर से फरार हो चुका है. हानिया का फोन भी स्विच ऑफ बताया जा रहा है.

जंग के बीच हमास के कमांडर फरार

हानिया की तरह हमास का डिप्टी चीफ सालेह अल अरौरी भी कतर में छिपा था, लेकिन वो भी हानिया के साथ कतर को छोड़ चुका है. उसका भी मोबाइल स्विच ऑफ है.
हमास का टॉप कमांडर खालिद मशाल, जो हानिया का करीबी बताया जाता है, वो भी हानिया के साथ कतर से फरार हो चुका है.
हमास की मिलिट्री विंग का प्रमुख मोहम्मद दाएफ भी गाजा में छिपा था, लेकिन वो भी अब गाजा को छोड़ चुका है.
वहीं हमास की अल कस्साम ब्रिगेड के प्रवक्ता अबू अबैदा युद्ध के दौरान लेबनान में छिपा था, मगर इस वक्त अबू अबैदा लेबनान को छोड़ कर फरार हो चुका है.
हमास की पोलित ब्यूरो का मेंबर ओसामा हमदान भी लेबबान से भाग निकला है.
हमास गुट के विदेश मंत्री महमूद अल जहर के जॉर्डन से फरार होने की भी खबरें सामने आ रही है.
हमास के चीफ कमांडर अबू मरजक गाजा से मिस्र पहुंचे था, लेकिन अबू मरजक अब मिस्र से भाग निकला है.
वहीं अल कस्साम ब्रिगेड का चीफ मार्वन ईसा गाजा में मौजूद था. IDF से जंग लड़ रहा था, लेकिन उसके भी गाजा से फरार होने की खबरें सामने आ रही है.
हमास की लीडरशिप को खत्म करना जरूरी

इजरायल पहुंचे अमेरिका के NSA जेल सुलिवन ने भी इजरायल को यही टारगेट दिया है कि युद्ध जल्दी खत्म करने का तरीका हमास की लीडरशिप को खत्म करना होगा, लेकिन अभी तक गाजा कमांडर याह्या सिनवार को ही इजरायल खत्म नहीं कर पाया है.