logo

कौन हैं आनंद मिश्रा जिन्होंने ‘आजादी की जिंदगी’ के लिए छोड़ दी IPS की नौकरी?

 
कौन हैं आनंद मिश्रा जिन्होंने ‘आजादी की जिंदगी’ के लिए छोड़ दी IPS की नौकरी?
WhatsApp Group Join Now


असम-मेघालय कैडर के आईपीएस ऑफिसर आनंद मिश्रा ने पुलिस सर्विस से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने इस्तीफा देते हुए कहा है कि वो आजादी की जिंदगी जीना चाहते हैं. हालांकि, आनंद मिश्रा के बारे में कहा जा रहा है कि वो बिहार में लोकसभा चुनाव लड़ सकते हैं. इस तरह फिटनेस से लेकर अपनी कार्य कुशलता के लिए मशहूर IPS आनंद एक बार फिर चर्चा में आ गए हैं.


12 साल बतौर IPS सेवा देने वाले आनंद मिश्रा के अचानक इस्तीफा का कनेक्शन मई महीने में मणिपुर में हुए जातीय हिंसा से जोड़कर भी देखा जा रहा है. बता दें कि, IPS आनंद मणिपुर हिंसा की जांच के लिए बनाई गई SIT का भी हिस्सा रह चुके हैं. यंगेस्ट आईपीएस के तौर पर चर्चित आनंद मिश्रा की कहानी लाखों युवाओं को प्रेरित करने वाली है. आइए उनके करियर पर एक नजर डालते हैं.

22 की उम्र में बनें IAS
आईपीएस आनंद मिश्रा ने यूपीएससी सिविल सर्विस की परीक्षा महज 22 के उम्र में क्रैक कर ली थी. आनंद मिश्रा का जन्म साल 1989 में बिहार के बक्सर जिले में हुआ था. उनके पिता कोलकाता में हिंदुस्तान मोटर्स में इंजीनियर थे. स्कूलिंग के बाद कोलकाता के जेवियर्स कॉलेज से आनंद ने ग्रेजुएशन किया और सिविल सर्विस की तैयारी में लग गए.