logo

अजनाला थाने पर खालिस्तान समर्थकों के हमले के प्रकरण में बोली kangana ranot , पंजाब में जो आज हो रहा है, वह मैने 2 साल पहले बता दिया था

 
रेड करने गई पुलिस से हाथापाई, दो आरोपी भागे, घर से लाखों की करेंसी बरामद
WhatsApp Group Join Now

Mhara Hariyana News, Amritsar। 
पंजाब के अजनाला पुलिस थाने पर खालिस्तान समर्थकों के हमले में बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनोट की एंट्री हो गई है। कंगना ने सोशल मीडिया के जरिए पंजाब को टारगेट किया है। कंगना ने लिखा- पंजाब में जो आज हो रहा है, वह मैने 2 साल पहले बता दिया था। मेरे खिलाफ कई केस दर्ज किए गए। अरेस्ट वारंट भी जारी हुए। मेरी कार पर पंजाब में अटैक किया गया, लेकिन वही हुआ जो मैंने कहा था। अब समय आ गया है कि नॉन खालिस्तानी सिखों को अपनी स्थिति और मंशा क्लियर करनी चाहिए।

खालिस्तान समर्थक अमृतपाल की अगुआई में हुआ हमला
अजनाला थाने में 23 फरवरी को बंदूक-तलवारों से लैस खालिस्तान समर्थक घुस गए। ये वारिस पंजाब दे संगठन के मुखी भाई अमृतपाल सिंह के समर्थक थे। अमृतपाल खुद भी वहां पहुंचा। ये लोग अमृतपाल के करीबी साथी लवप्रीत सिंह तूफान को छुड़ाने की मांग के ल​िए वहां पहुंचे थे।
इस दौरान पुलिस ने बैरिकेड लगाकर उन्हें रोक दिया। हालांकि बाद में अमृतपाल श्री गुरू ग्रंथ साहिब की पालकी लेकर वहां पहुंच गया जिसे देखकर पुलिस पीछे हट गई। इसका फायदा उठा खालिस्तान समर्थकों ने पुलिस वालों को पीटा और थाने के अंदर घुस गए।

 

 

कंगना ने किसान आंदोलन पर की थी टिप्पणियां
कंगना रनोट ने 2 साल पहले दिल्ली बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन को लेकर तल्ख टिप्पणियां की थी। इसमें कंगना ने बुजुर्ग महिला को 100-100 रुपए लेकर धरने में शामिल होने वाली औरत कहा था।

बठिंडा के गांव बहादुरगढ़ जंडिया की रहने वाली 87 वर्षीय महिला किसान महिंदर कौर को लेकर कंगना ने यह ट्वीट किया था। जिसके बाद महिंदर कौर ने बठिंडा कोर्ट में मानहानि का केस कर दिया। इस मामले में कंगना रनोट के खिलाफ बठिंडा कोर्ट से वारंट जारी हुआ।

इसके बाद कंगना रनोट शिमला से कीरतपुर साहिब के जरिए चंडीगढ़ जा रही थी। पंजाब-हिमाचल बॉर्डर पर किसानों ने उन्हें घेर लिया। उन्होंने कंगना से किसान आंदोलन पर की टिप्पणियों के लिए माफी मांगने को कहा।

काफी देर बाद पुलिस मुश्किल से कंगना को वहां से निकालकर ले गई। किसानों ने कहा कि कंगना ने माफी मांगी।