logo

4 दिन बैंक सेवाएं रहेगी बाधित, करोड़ों लोग नहीं निकाल पाएंगे Bank से पैसा

बैंक यूनियन ने 30 और 31 जनवरी को बैंक हड़ताल का ऐलान किया है. इसके साथ ही 28 जनवरी को चौथा शनिवार है, जिसकी वजह से बैंक बंद रहेंगे. वहीं, 29 जनवरी को रविवार की वजह से बैंक की छुट्टी रहेगी.
 
4 दिन बैंक सेवाएं रहेगी बाधित, करोड़ों लोग नहीं निकाल पाएंगे Bank से पैसा

Bank services Disrupt- करोड़ों बैंक ग्राहकों के लिए बड़ी खबर आ रही है. जनवरी के आखिरी हफ्ते में बैंक जाने वाले ग्राहकों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. ऐसा इसलिए क्योंकि 28 जनवरी से लेकर 31 जनवरी तक बैंक बंद रहेंगे और उनकी सेवाएं बाधित रह सकती है. बता दें, बैंक यूनियन की तरफ से 2 दिन की हड़ताल करने का फैसला लिया गया है. बैंक हड़ताल की वजह से एटीएम से कैश निकालने से लेकर कई सेवाएं प्रभावित हो सकती हैं.


बैंक यूनियन ने 30 और 31 जनवरी को बैंक हड़ताल का ऐलान किया है. इसके साथ ही 28 जनवरी को चौथा शनिवार है, जिसकी वजह से बैंक बंद रहेंगे. वहीं, 29 जनवरी को रविवार की वजह से बैंक की छुट्टी रहेगी. तो आप अपने जरूरी कामों को शुक्रवार या उससे पहले ही निपटा लें या फिर बैंक खुलने के बाद 1 फरवरी काम करा सकते हैं. लेकिन, इस बीच अगर आपको कैश की जरूरत पड़ी तो उसमे आपको समस्या आ सकती है.

क्यों हो रही है हड़ताल?
मुंबई में यूनाईटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन की बैठक हुई जिसमें बैंक यूनियनों ने दो दिनों के हड़ताल पर जाने का फैसला किया है. बैंक यूनियन अपनी मांगों को पूरा करने के लिए सरकार पर दबाव बनाने के लिए हड़ताल पर जा रहे हैं.

5 दिन किया जाए बैंकिंग कामकाज
ऑल इंडिया बैंक एम्पलॉयज एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी सी एच वेंकटचलम ने बताया कि यूनाइटेड फोरम की बैठक हुई है, जिसमें 2 दिन की हड़ताल पर जाने का फैसला लिया गया है. उन्होंने बताया है कि बैंक यूनियनों की मांग है कि बैंकिंग कामकाज को 5 दिन किया जाए. इसके साथ ही पेंशन को भी रिव्यु करके अपडेट किया जाए.

सैलरी भी है हड़ताल की वजह
इसके साथ ही कर्मचारियों की मांग है कि एनपीएस को खत्म कर दिया जाए और वेतन में भी बढ़ोतरी के लिए बातचीत की जाए. इन सब के अलावा सभी कैडरों में भर्ती प्रक्रिया शुरू करने की मांग की गई है. इन सभी मांगों को लेकर यूनियन ने हड़ताल पर जाने का फैसला लिया है.