logo

रोहतक में कोरियर के नाम पर ठगी: पहले ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के 5 रुपए किए चार्ज, फिर 46500 रुपए की धोखाधड़ी

कॉल करने पर बात करने ने पहले एक ऐप डाउनलोड करवाई और फिर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के नाम पर 5 रुपए चार्ज किए। इसके बाद 5 ट्रांजेक्शन में कुल 46500 रुपए की धोखाधड़ी कर ली।
 
रोहतक में कोरियर के नाम पर ठगी: पहले ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के 5 रुपए किए चार्ज, फिर 46500 रुपए की धोखाधड़ी

Mhara Hariyana News, Rohtak

हरियाणा के रोहतक जिले के गांव कन्हैली निवासी व्यक्ति से कोरियर के नाम पर ठगी का मामला सामने आया है। पीड़ित ने कोरियर करवाने के लिए गूगल से नंबर सर्च किया था। कॉल करने पर बात करने ने पहले एक ऐप डाउनलोड करवाई और फिर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के नाम पर 5 रुपए चार्ज किए। इसके बाद 5 ट्रांजेक्शन में कुल 46500 रुपए की धोखाधड़ी कर ली।

गांव कन्हैली निवासी गौरव ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसे सामान कोरियर करवाना था। इसलिए गूगल से फोन नंबर सर्च किया। वहां पर मिले फोन नंबर पर कॉल किया तो वह नहीं मिला, लेकिन उसके तुरंत बाद फोन पर कॉल आई। जब कोरियर करवाने के लिए कहा तो फोन पर सामने वाले ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए कहा।

ऐप करवाई डाउनलोड
गौरव ने बताया कि ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए गूगल पे या फोन पे से 5 रुपए भुगतान करने के लिए कहा। इसके बाद उसके वाट्सएप नंबर पर डिलिवरी टूडे पार्सल ऐप भेजी गई। उसके कहे अनुसार गौरव ने उस ऐप को डाउनलोड किया। उसमें 5 विकल्प थे, जिसमें फोन नंबर, बैंक का नाम, राशि व गूगल पे का पिन डालने पर अकाउंट से 5 रुपए कट गए।

कटे हुए 5 रुपए भेजे वापस
गौरव ने कहा कि जब तक उसे यह पता चला कि फर्जी ऐप है, तब तक अकाउंट से 5 रुपए कट चुके थे। कॉल कट चुकी थी, जिसके बाद सामने से बार-बार कॉल आती रही। जब बात की और 5 रुपए वापस मांगे तो सामने से 5 रुपए वापस अकाउंट में भेज दिए गए, लेकिन इसके बाद और पैसे कट गए।

दूसरे अकाउंट में पैसे किए ट्रांसफर
गौरव ने बताया कि जब इस ठगी का पता लगा तो वह अपने उस बैंक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में ट्रांसफर कर रहा था, लेकिन पैसे ट्रांसफर नहीं हुए। जब बैंक में 100 रुपए डलवाए तो वे आ गए, लेकिन निकले नहीं। अगले दिन भी रुपए आने का इंतजार करता रहा।

46500 की ठगी
गौरव ने बताया कि उसके अकांउट से पैसे कटने लगे। कुल 5 ट्रांजेक्शन में कुल 46 हजार 500 रुपए कटे, जिनमें से 4 ट्रांजेक्शन में 10-10 हजार रुपए व 5वीं ट्रांजेक्शन में 6 हजार 500 रुपए कट गए, जिसकी शिकायत पुलिस को दी गई। पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।