logo
नौकरियां बेचने के विरोध में 'आपÓ ने प्रदेश सरकार का पुतला फूंक कर किया प्रदर्शन
मनोहर लाल जी झूठ बोलकर जनता को कर रहे गुमराह - विरेन्द्र कुमार
 
मनोहर लाल जी झूठ बोलकर जनता को कर रहे गुमराह - विरेन्द्र कुमार


सिरसा

भाजपा-जजपा गठबन्धन सरकार में बिना पर्ची-खर्ची के नौकरियां देने के झूठे दावे पोल खुल गई है क्योंकि फतेहाबाद के विधायक दुड़ाराम पर नौकरियों की एवज में कथित तौर पर सरेआम लाखों रूपये लेने का मामला सामने आने पर साबित हो गया है कि गठबन्धन सरकार में नौकरियों की बोली लगा कर बेचा जा रहा है। इसी के विरोध में आम आदमी पार्टी जिला सिरसा इकाई द्वारा हरियाणा सरकार का पुतला फूंक कर विरोध प्रदर्शन किया गया।

इस सम्बन्ध में आम आदमी पार्टी की महिला नेत्री पूनम गोदारा, स्वर्ण कौर, जसप्रीत कौर, सुखदीप कौर, ममता कम्बोज, प्रकाश कौर के नेतृत्व में आई.टी.आई. कॉलेज चौक पर एकत्रित हुए और सरकार के खिलाफ जबरदस्त नारेबाजी करते हुए जुलूस की शक्ल में शिव चौक पर पहुंचे और सरकार का पुतला फूंककर प्रदर्शन किया गया।

राष्ट्रीय परिषद् सदस्य विरेन्द्र कुमार, जोन अध्यक्ष कुलदीप गदराना, वरिष्ठ नेता हैप्पी रानियां व राजेन्द्र देसूजोधा ने संयुक्त रूप से कहा कि हरियाणा में 30 लाख युवक बेरोजगार हैं।

पिछले सात सालों से गठबन्धन सरकार में बिना पर्ची-खर्ची के योग्यता के आधार पर नौकरियां देने का ढिंढोरा पीटा जा रहा है। प्रदेश के तथाकथित यशस्वी व  ईमानदार मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पिछले सात सालों से सफेद झूठ बोल रहे है जबकि वास्तविकता यह है कि सरेआम बोली लगाकर नौकरियां बेची जा रही हैं। फतेहाबाद के भाजपा विधायक दूड़ाराम के प्रकरण में साबित हो गया है कि सरकार के विधायकों द्वारा सरेआम नौकरियां बेचकर करोड़ों रूपया एकत्रित किया जा रहा है। विधायक और मंत्री नौकरियां बेचने में संलिप्त हैं, जबकि मनोहर लाल जी पिछले सात सालों से झूठ बोलकर प्रदेश की जनता को गुमराह कर रहे हंै। दर्जनों व्यक्तियों द्वारा भाजपा विधायक दूड़ाराम पर नौकरियों की एवज में लाखों रूपये ठगने का आरोप लगाया गया है।

विधायक दूड़ाराम के ड्राइवर ने सुसाइड नोट में विधायक के निजी सचिव पर नौकरियों की एवज में  लाखों रूपये की ठगी का आरोप लगाते हुए जहर खा लिया। विधायक दूड़ाराम द्वारा ड्राईवर पर दबाव बनाकर उसका बयान बदलवाया गया। स्पष्ट है कि अकेले दूड़ाराम ही नहीं सरकार के सभी विधायक और मंत्री भी नौकरियां बेचने के काले धंधे में संलिप्त हैं। इस अवसर पर वरिष्ठ नेता श्यामलाल मेहता, कुलदीप भाम्भू, मनजीत सिंह बठला, महाबीर चौबुर्जा, अनिल चंदेल, सुजल अनेजा, मनप्रीत सिंह, राकेश जैन, संजय गोस्वामी, चन्द्र बेगू, सुरजीत सिंह बेगू, हरबंस लाल, राजकुमार नागर, फौजा सिंह, दलीप सिंह, प्रेम कुमार, करणवीर, सौरभ राठौर, अरुण सिंह, राजकुमार वधवा, प्रमोद वधवा, आयुष, अनमोल, अभिषेक गोदारा, सुरेश कुमार चामल, सतनाम कम्बोज, जगदीश अबूबशहर, संदीप बराड़, नवदीप सिंह, चन औलख, मनीष कुमार, बूटा सलारपुर, लक्ष्मण, दारासिंह रानिया, स्वर्ण सिंह, जतिन, विजय मोंगा सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।