logo
सावधान ! सिरसा शहर में घूम रहे हैं ठग, आर्मी अफसर बताकर कर सकते हैं आपके साथ ठगी
आर्मी अफसर बनकर सिरसा में फ्राड के मामले सामने आ रहे है।
 
Attention ! Thugs are roaming in Sirsa city, they can cheat you by telling army officers

सिरसा। आर्मी अफसर बनकर सिरसा में फ्राड के मामले सामने आ रहे है। नोहरिया बाजार स्थित एक डिपार्टमेंट संचालक अश्विनी से करीब 98 हजार रुपए की ठगी हुई है। दुकान संचालक अश्विनी ने साइबर क्राइम थाना में शिकायत दी है। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

अश्विनी ने गुरुवार शाम को बताया कि सिरसा में एयरफोर्स के नाम पर फ्रॉड हो रहा है। कुछ दिन पहले उनकी भादरा बाजार स्थित होलसेल की दुकान से आटा के पैकेट खरीदे थे, जिसके 500 रुपए उन्होंने पेटीएम कर दिए। अश्विनी ने बताया कि उनके पास फोन आया कि एयरफोर्स में 30 गट्टïे आटा भेज दीजिए। पेमेंट ऑनलाइन करने की बात कहकर ठग ने पेटीएम नंबर मांग लिया। अश्विनी ने बताया कि उसने उस ठग को पेटीएम नंबर दे दिया।

इसके बाद 2 रुपए पेटीएम में आ गए। इसके बाद ठग ने कहा कि आपकी 30 हजार रुपए की पेेमेंट है लेकिन इस पेमेंट को पहले आपको पेटीएम वैलेट में एड करने होंगे। ठग ने कहा कि एयरफोर्स के खाते से पेयर होने के लिए 30 हजार रुपए पेटीएम करने पड़ेंगे, जिस पर उसने विश्वास में आकर कर दिए।

उसके बाद ठग ने क्यूआर कोड भेज दिया जिसे स्कैन करते ही 22 हजार 220 रुपए कट गए। इस पर फोन पर बातचीत हुई तो ठग ने कहा कि चिंता मत कीजिए, आर्मी की पेमेंट कहीं नहीं जाएगी, पेमेंट इक्ट्ठी आ जाएगी। उसने एक कोड और भेजा जिसे स्कैन करते ही 44 हजार 440 रुपए कट गए। संदेह हुआ तो एयरफोर्स चला गया, तो मालूम हुआ कि ठगी हुई है।

एयरफोर्स के नाम पर हो रही ठगी, संज्ञान लेना चाहिए

अश्विनी ने बताया कि एयरफोर्स के नाम पर ठगी हो रही है, उन्हें संज्ञान लेना चाहिए। उसके साथ ठगी के बारे में जब उन्होंने एयरफोर्स कर्मियों से बातचीत की, तो उन्होंने कहा कि ठगी आपके साथ हुई है, हम कुछ नहीं कर सकते। अश्विनी ने बताया कि उसने साइबर क्राइम में शिकायत दी। अपने स्तर पर जांच की तो मालूम हुआ कि कॉल करने वाले यूपी के है, बैंक खाता दिल्ली का है। आसपास के दुकानदारों के पास भी ऐसी कॉल्स आ रही है। लोगों से अपील हैं कि फेक कॉल्स से बचे। क्यूआर कोड स्कैन न करें और बैंक खाते की जानकारी किसी को न दें।