logo
15 सितंबर से 2 अक्टूबर तक चलाया जाएगा स्वच्छता ही सेवा अभियान : अतिरिक्त उपायुक्त सुशील कुमार
अतिरिक्त उपायुक्त सुशील कुमार ने स्वच्छता ही सेवा अभियान को लेकर संबंधित विभागों की ली बैठक, दिए आवश्यक दिशा निर्देश
 
sirsa news

Mhara Hariyana News: 
सिरसा
अतिरिक्त उपायुक्त सुशील कुमार ने पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय भारत सरकार की ओर से 15 सितंबर से 2 अक्टूबर तक जिला में चलाए जाने वाले स्वच्छता ही सेवा अभियान को लेकर अपने कार्यालय कक्ष में संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ बैठक की।


अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि स्वच्छता ही सेवा अभियान के तहत सभी गांवों में सफाई अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि सरकार की ओर से तय कार्यक्रम के अनुसार 15 सितंबर से 2 अक्टूबर तक सभी गांवों में स्वच्छता से संबंधित कार्यक्रम किए जाएंगे।

उन्होंने संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्देश दिए कि स्वच्छता ही सेवा मुहिम के अधिक से अधिक संख्या में आमजन की भागीदारी सुनिश्चित करें और समाज में स्वच्छता को लेकर जागृति लाएं ताकि जिला सिरसा स्वच्छ व सुंदर नजर जाए।

उन्होंने बताया कि इस अभियान के दौरान जिला परिषद, विकास एवं पंचायत विभाग, स्वास्थ्य विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, शिक्षा विभाग आदि विभागों का सहयोग लिया जाएगा।


उन्होंने बताया कि इस दौरान ठोस कचरा के उचित निपटान करवाना, सिंगल यूज प्लास्टिक बैन बारे गांवों में ग्राम सभा में प्रस्ताव करवाना, व्यक्तिगत स्वच्छता, गांवों मे ठोस कचरा व तरल कचरा के प्रबंधन के लिए खाद गड्ढा/सोखता गड्ढा बनवाना तथा स्कूली बच्चों द्वारा रैली के माध्यम से लोगों में यह सन्देश देना आदि गतिविधियां शामिल रहेंगी।

वहीं कचरे की घर स्तर पर अलग-अलग छंटाई करना और प्लास्टिक को जलाने से रोकना, सड़क व फिरनी के दोनों तरफ कूड़े के ढेर को साफ करवाना लोगों में सोशल मीडिया के माध्यम से सफाई के प्रति जागरूक करना और 2 अक्टूबर को श्रमदान के माध्यम से सार्वजनिक स्थानों पर श्रमदान करवाना शामिल है।


स्वच्छता ही सेवा अभियान के तहत ये कार्यक्रम होंगे आयोजित :
अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि 15 सितंबर को गांवों में विजुअल क्लीननेस, 16 सितंबर को गांवों में गारबेज क्लीनिंग, 17 सितंबर को सूखा और गीला कूड़ा अलग-अलग रखने बारे सामूहिक जागरूकता, 18 सितंबर को वेस्ट कलेक्शन, 19 सितंबर को डोर टू डोर प्लास्टिक कलेक्शन, 20 सितंबर को तालाबों जोहड़ों आदि के आस-पास के क्षेत्र की सफाई और पौधारोपण, 21 सितंबर को सिंगल यूज प्लास्टिक का प्रयोग न करने बारे जागरूकता, 22 सितंबर को जूट व कपड़े के थैलों का प्रयोग करने बारे जागरूकता, 23 सितंबर को संवाद ओडीएफ प्लस अभियान बारे, 24 सितंबर को स्लोगन लेखन कूड़ा न फैलाने बारे शपथ, 25 सितंबर को विद्यार्थियों द्वारा स्वच्छता व प्लास्टिक वेस्ट न जलाने बारे जागरूकता रैली तथा 26 से 30 सितंबर तक स्वच्छता पर आधारित अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि एक अक्टूबर को स्वच्छता में उत्कृष्ट करने वाले वर्करों को सम्मानित किया जाएगा तथा 2 अक्टूबर को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के अवसर पर सार्वजनिक स्थानों से प्लास्टिक व कूड़ा एकत्रित करने के लिए श्रमदान कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।