logo
17 सितंबर को देश विदेश में होगी मेगा ब्लड डोनेशन ड्राइव: पदम जैन
कहा, अभातेयुप के बैनर तले आयोजन में अन्य सामाजिक संगठन देंगे सहयोग
 
 
17 सितंबर को देश विदेश में होगी मेगा ब्लड डोनेशन ड्राइव: पदम जैन

Mhara Hariyana News, Sirsa

सिरसा। जैन पंथ के शासनश्री पदम जैन ने कहा कि जैन आचार्य महाश्रमण व आचार्य तुलसी के मानवता भरे दृष्टिकोण को आगे बढ़ाते हुए अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद की ओर से आगामी 17 सितंबर को पूरे भारतवर्ष में रक्तदान शिविर आयोजित किए जाएंगे जो जैन संतों की दृष्टि में सही मायने में मानवीय सेवा का उत्कृष्ट कार्यक्रम है।


वे गुरुवार को तेरापंथी भवन में मीडिया कर्मियों से रूबरू हो रहे थे। उन्होंने कहा कि 17 सितंबर को इस मेगा ब्लड डोनेशन ड्राइव में संस्था की ओर से देश विदेश में 2 हजार से अधिक रक्तदान शिविरों को आयोजित कर डेढ़ लाख यूनिट रक्त एकत्रित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने कहा कि सिरसा में भी इस दिन अभातेयुप की ओर से चार स्थानों पर रक्तदान शिविर आयोजित किए जाएंगे जिसमें जैन धर्मशाला में होने वाले रक्तदान शिविर का शुभारंभ जिला पुलिस अधीक्षक डॉ. अर्पित जैन करेंगे वहीं जिला न्यायालय परिसर में होने वाले रक्तदान शिविर का शुभारंभ सिरसा की सांसद सुनीता दुग्गल करेंगी।

इसी प्रकार शिवशक्ति ब्लड बैंक में रक्तदान शिविर का शुभारंभ उपायुक्त पार्थ गुप्ता करेंगे जबकि प्रीतनगर की गली नंबर 8 में लगने वाले रक्तदान शिविर का शुभारंभ सीएमओ सिरसा करेंगे। शासनश्री पदम जैन ने कहा कि भारत सरकार ने भी जैन समाज की ओर से देश विदेश में चलाई गई मुहिम को जमकर सराहा है और अब भारत सरकार की ओर से ही ई-रक्तकोष की स्थापना की गई है जिसमें सभी राज्यों के जिलों व कस्बों आदि में लगने वाले रक्तदान शिविरों का समूचा डाटा एकत्रित रहेगा।

यदि किसी भी राज्य के जिले में कहीं भी प्राकृतिक आपदा अथवा किसी भी अन्य कारण से रक्त की जरूरत होगी तो तत्काल प्रभाव से ई-रक्तकोष से मदद मिल सकेगी। पदम जैन ने कहा कि जैन पंथ सदैव मानवीय कार्यों को अपने जीवन दर्शन का अभिन्न भाग मानकर उस दिशा में क्रियाशील रहता है। पौधारोपण करना, जल संरक्षण करना, रक्तदान करना सहित अनेक ऐसे सामाजिक व मानवीय कार्य हैं जिनके प्रति जैन पंथ सदैव तत्पर रहता है।

इस दौरान जैन पंथ की साध्वीश्री सुमनश्री ने भी अखिल भारतीय तेरापंथ युवक परिषद की स्थानीय इकाई द्वारा रक्तदान शिविर जैसे महत्वपूर्ण कदमों के लिए उनकी सराहना की। इस दौरान जैन समाज के वरिष्ठ हनुमानमल गुजरानी, तेयुप की स्थानीय इकाई के अध्यक्ष आनंद सुराणा, तेयुप मंत्री कुणाल नौलखा, गौरव गुजरानी भी मौजूद थे।