logo

प्राचीन शनिदेव मंदिर का जीर्णोद्वार कार्य जोरों पर, गर्भगृह की छत पर डाला लैंटर

- मकर सक्रांति व शनैश्चरी अमावस्या पर भगवान की पूजा पाठ के साथ साथ मंदिर निर्माण में भी दें सहयोग
 
प्राचीन शनिदेव मंदिर का जीर्णोद्वार कार्य जोरों पर, गर्भगृह की छत पर डाला लैंटर

Mhara Hariyana News:

सिरसा। नोहरिया बाजार स्थित प्राचीन शनिदेव मंदिर का जीर्णोद्वार कार्य तीव्र गति से चल रहा है। इसी क्रम में वीरवार को मंदिर के गर्भगृह की छत का लेंटर डाला गया।

प्राचीन शनिदेव मंदिर का जीर्णोद्वार कार्य जोरों पर, गर्भगृह की छत पर डाला लैंटर

करीब 225 वर्ष पुराने इस ऐतिहासिक मंदिर का जीर्णोद्वार श्रद्धालुओं के सहयोग से करवाया जा रहा है। मंदिर के प्रबंधन का कार्य देख रही श्री शनि देव मंदिर चेरिटेबल ट्रस्ट के द्वारा शनि भक्तों के सहयोग से इस प्राचीन मंदिर को भव्य रूप प्रदान किया जा रहा है।
नोहरिया बाजार स्थित प्राचीन शनिदेव मंदिर में वीरवार को प्रथम भाग में छत का लेंटर डाला गया।  श्री शनि देव मंदिर चेरिटेबल ट्रस्ट के द्वारा मंदिर को तीन भागों में बनवाने का निर्णय लिया है ताकि मंदिर में पूजा पाठ भी अनवरत जारी रहे तथा श्रद्धालु अपने इष्ट भगवान शनिदेव जी की पूजा व दर्शन करते रहें।

वीरवार को मंदिर में करीब 2000 वर्ग फीट का लेंटर डाला गया। मंदिर के गर्भ गृह में भगवान शनिदेव जी अति प्राचीनतम प्रतिमा स्थापित होगी। इसके अलावा शनि जी को तेल अर्पित करने वाला शिला स्वरूप, नव ग्रह और शनिदेव के नौ रूप स्थापित किए जाएंगे। मंदिर के एक भाग में मां दुर्गा व हनुमान जी की प्रतिमाएं स्थापित होगी। इसके अलावा मंदिर में स्थापित शिवालय को भी नया रूप प्रदान कर भव्य बनाया जाएगा।
 श्री शनि देव मंदिर चेरिटेबल ट्रस्ट के प्रधान चंद्रमोहन भृगुवंशी व आनंद भार्गव ने बताया कि शनि भक्तों के सहयोग से मंदिर को भव्य रूप प्रदान किया जा रहा है। मंदिर में श्रद्धालुओं की सुविधाओं के लिए भी प्रबंध किए जाएंगे। विशाल सत्संग पंडाल बनाया जाएगा। मंदिर का भव्य प्रवेश द्वार, पूजा पाठ के लिए विभिन्न तरह के पेड़ पौधे लगाए जाएंगे।
----
मंदिर के निर्माण में क्षेत्रवासियों की तरफ से भरपूर सहयोग मिल रहा है
प्राचीन शनिदेव मंदिर के निर्माण में क्षेत्रवासियों की तरफ से भरपूर सहयोग मिल रहा है। श्री बाबा तारा कुटिया के मुख्य सेवक गोबिंद कांडा ने मंदिर निर्माण कार्य का नींव रख कर आरंभ किया था तथा अपनी तरफ से पांच लाख रुपये देने की घोषणा की थी। इसके अलावा भी समाजसेवी लोगों के द्वारा निर्माण सामग्री व अन्य सहयोग दिया जा रहा है।  श्री शनि देव मंदिर चेरिटेबल ट्रस्ट के प्रधान चंद्रमोहन भृगुवंशी व आनंद भार्गव ने बताया कि मंदिर निर्माण के लिए जो सज्जन सहयोग देना चाहते हैं वे मंदिर में संपर्क कर सकते हैं इसके अलावा  श्री शनि देव मंदिर चेरिटेबल ट्रस्ट के अकाउंट नंबर 41498076294, आईएफएससी कोड एसबीआइएन 0016833 के नाम से भेज सकते हैं।
----------
मकर सक्रांति व शनैश्चरी अमावस्या पर भगवान की पूजा पाठ के साथ साथ मंदिर निर्माण में भी दें सहयोग
 श्री शनि देव मंदिर चेरिटेबल ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने बताया कि 14 जनवरी को मकर सक्रांति पर्व है और आगामी 21 जनवरी को शनैश्चरी अमावस्या है। दोनों ही दिन शनिदेव जी की पूजा के लिए अति उत्तम है। मकर सक्रांति व शनैश्चरी अमावस्या पर नोहरिया बाजार स्थित प्राचीन मंदिर में भगवान शनिदेव की 225 वर्ष पुरानी ऐतिहासिक प्रतिमा की पूजा करें और मंदिर निर्माण के अति शुभ कार्य में सहयोग देकर भगवान का आशीर्वाद प्राप्त करें।