logo

परिवहन मंत्री के आश्वासन के बाद रोडवेज की हड़ताल वापस

सवारियों ने ली राहत की सांस, हत्यारोपियों को पकड़ने के लिए बनेगी एसआइटी 
 
sirsa


Mhara Hariyana News, Sirsa। रोडवेज के बस चालक की जीप तले देकर हत्या किए जाने के मामले में आरोपितयों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर रोडवेज कर्मचारी यूनियन द्वारा दूसरे दिन भी बुलाई गई हड़ताल को वापस ले लिया है। परिवहन मंत्री ने कर्मचारी यूनियन के नेताओं को आश्वासन दिया कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। हड़ताल वापस लेने के बाद शुक्रवार को आम दिनों की भांति रोडवेज बसें चली।

हड़ताल खुलने के कारण आमजन ने राहत की सांस ली। वर्णनीय है कि रोडवेज द्वारा बुधवार को बसों का चक्का जाम किया गया था, जिस कारण प्रदेशभर में हजारों यात्रियों को परेशानी हुई थी। शाम को रोडवेज यूनियन ने हड़ताल को नौ सितंबर को रात 12 बजे तब बढ़ा दिया था परंतु बाद में परिवहनमंत्री हरियाणा मूल चंद शर्माने कर्मचारियों को आश्वास्त किया, जिसके बाद हड़ताल स्थगित कर ली गई। 

हरियाणा रोडवेज वर्कर यूनियन संबंधित सर्व कर्मचारी संघ के प्रधान हिम्मत सिंह राणा ने बताया कि परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा रात को दूसरे दौर की वार्ता हुई। इसमें महानिदेशक वीरेंद्र दहिया भी मौजूद रहे। बैठक में सहमति बनी कि हत्यारों को पकड़ने के लिए SIT गठित कर दी गई है। जल्द ही पकड़ लिया जाएगा।

बैठक में परिवहन मंत्री ने थार गाड़ी जीप के खिलाफ सख्त कार्रवाई व मुआवजे की मांग को पूरी करने का आश्वासन दिया है। मृतक के परिवार को 50 लाख के मुआवजे की सिफारिश मुख्यमंत्री से करने की बात कही है। जिसके बाद हड़ताल को वापस कर लिया गया है। जिसके बाद अब रोडवेज बसें सामान्य की तरह ही चलेंगी।

बता दें कि 6 सितंबर को दिल्ली डिपो के चालक जगबीर सिंह की थार जीप के चालक द्वारा कुचलकर हत्या करने पर दुख प्रकट किया गया। साथ ही दोषियों को अब तक पुलिस द्वारा गिरफ्तार नहीं किया गया। जिसके कारण रोडवेज कर्मचारियों में रोष है। चालक को न्याय दिलाने के लिए राज्य के हरियाणा रोडवेज कर्मचारी सांझा मोर्चा ने 8 सितंबर को पूर्ण रूप से चक्का जाम करने का निर्णय लिया। जिसे 9 सितंबर के लिए भी बढ़ा दिया था। लेकिन मांग पूरी होने पर हड़ताल को खत्म कर दिया गया है।