logo

सीआईए सिरसा तथा चौपटा थाना की सयुंक्त पुलिस टीम ने लूटपाट करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया, तीन आरोपी काबू ।

 
सीआईए सिरसा तथा चौपटा थाना की सयुंक्त पुलिस टीम ने लूटपाट करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया, तीन आरोपी काबू  ।
WhatsApp Group Join Now

सिरसा --- पुलिस अधीक्षक विक्रांत भूषण के निर्देश पर गठित सीआईए सिरसा तथा चौपटा थाना की सयुंक्त पुलिस टीम ने महत्वपूर्ण सुराग जुटाते हुए शक्कर मंदोरी, चाडीवाल तथा वीरुवाला गुडा गांवों में स्थित शराब ठेको॔ पर  लूटपाट करने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है।

 इस संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए सीआईए  सिरसा प्रभारी इंस्पेक्टर धर्मवीर सिंह ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों की पहचान राजेश पुत्र भूप सिंह निवासी नेहराना थाना चोपटा ,वीरेंद्र उर्फ काका पुत्र गुरचरण सिंह तथा लाभ सिंह उर्फ लवप्रीत पुत्र विंदर सिंह निवासियान गांव अलीकां, जिला सिरसा के रूप में हुई है।  सीआईए प्रभारी ने बताया कि काबू किए गए तीनों आरोपीयान के कब्जा से वारदातों में प्रयुक्त किया गया मोटरसाइकिल भी बरामद कर लिया गया है ।  

उन्होंने बताया कि बरामद किया गया मोटरसाइकिल पकड़े गए आरोपियों ने करीब एक माह पूर्व पंजाब के गांव मानखेड़ा क्षेत्र से छीना था ।सीआईए सिरसा प्रभारी इंस्पेक्टर धर्मवीर सिंह ने बताया कि बीते सोमवार  की सुबह चोपटा थाना क्षेत्र के गांव शक्कर मंदोरी क्षेत्र में आरोपियों ने शराब ठेके से करीब 4700 रूपऐ की नगदी ठेके के सेल्समैन को चोट मार कर लूट ली थी । उन्होंने बताया कि इस  वारदात को सुलझाने के लिए पुलिस अधीक्षक विक्रांत भूषण ने सीआईए सिरसा तथा चोपटा थाना की सयुंक्त पुलिस टीम का गठन कर इस वारदात को शीघ्र अति शीघ्र सुलझाने के निर्देश दिए थे । 

उन्होंने बताया कि इस संबंध में शक्कर मंदोरी शराब ठेके के सेल्समैन ओमप्रकाश की शिकायत पर नाथूसरी चोपटा थाना में विभिन्न आपराधिक धाराओं के तहत अभियोग दर्ज कर जांच शुरू की गई थी। सीआईए प्रभारी ने बताया कि इस वारदात को सुलझाने के लिए  सयुंक्त पुलिस टीम ने महत्वपूर्ण सुराग जुटाए और उनके  आधार पर घटना के आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।

 उन्होंने बताया कि पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में गांव चाडीवाल तथा वीरू वाला गुडा के शराब ठेकों पर हुई लूटपाट की वारदातों को भी स्वीकार किया है। उन्होंने बताया कि पकड़े गए युवक नशा करने के आदी है ,और नशा पूर्ति के लिए ही अक्सर अपराधिक वारदातों को अंजाम देते हैं। सीआईए प्रभारी धर्मवीर सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए युवकों को अदालत में पेश कर रिमांड हासिल किया जाएगा और रिमांड अवधि के दौरान उनकी निशान देही पर शराब ठेकों पर हुई लूटपाट की राशि बरामद की जाएगी