logo

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने गणतंत्र दिवस समारोह में फहराया तिरंगा

भव्य मार्च पास्ट की सलामी ली तथा जिला वासियों के नाम दिया अपना शुभ संदेश
 
 
उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने गणतंत्र दिवस समारोह में फहराया तिरंगा
WhatsApp Group Join Now

सिरसा। हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने 75वें गणतंत्र दिवस पर स्थानीय शहीद भगत सिंह स्टेडियम में आयोजित जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में बतौर मुख्यातिथि तिरंगा फहरा कर जिलावासियों को अपना शुभ संदेश दिया। इस दौरान उन्होंने भव्य मार्च पास्ट की सलामी भी ली। इससे पहले उन्होंने शहीद व स्वतंत्रता सेनानी स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित कर शहीदों व स्वतंत्रता सेनानियों को भी याद किया।

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने गणतंत्र दिवस समारोह में फहराया तिरंगा
उप मुख्यमंत्री ने आजादी के स्वतंत्रता संग्राम में योगदान देने वाले वीर शहीदों व स्वतंत्रता सेनानियों, महात्मा गांधी, भगत सिंह, चंद्र शेखर आजाद, लाला लाजपत राय, सरदार बल्लभ भाई पटेल और लाल बहादुर शास्त्री, पंडित दीनदयाल उपाध्याय, चौ. देवीलाल को याद किया और श्रद्धांजलि दी। हमारे महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने भारत में पूर्ण स्वराज के लिए लंबे समय तक संघर्ष किया है। उन्होंने ऐसा इसलिए किया ताकि उनकी आने वाली पीढ़ियां किसी की गुलाम बनकर न रहे और स्वतंत्र रूप से अपने अधिकारों का निर्वहन कर सके।

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने गणतंत्र दिवस समारोह में फहराया तिरंगा
उन्होंने जिला सिरसा से समाजसेवा में उत्कृष्टï कार्य करने वाले भाई गुरविंद्र सिंह को पदम श्री बधाई दी। साथ ही उन्होंने विज्ञान के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने पर हरी ओम, राम कृष्ण सिहाग, कला के क्षेत्र में महावीर गुड्डïु को सम्मान मिलने पर बधाई दी।
उन्होंने कहा कि हमारे देश के गणतंत्र ने देशवासियों को सामाजिक समरसता तथा जनप्रतिनिधित्व का अधिकार दिया है। स्वतंत्रता के बाद से ही भारत दुनिया में एक बड़ी ताकत के तौर पर अपनी पहचान बनाने में कामयाब रहा है। इसका श्रेय हमारे उन राजनेताओं को, यहां के कर्मठ किसान-मजदूरों को, कारीगरों को तथा साईंसदानों को जाता है जिन्होंने दिन-रात एक करके इस देश को विकास की गति प्रदान की। आज हमारा भारत देश प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में चंहुमुखी प्रगति कर रहा है।

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने गणतंत्र दिवस समारोह में फहराया तिरंगा
उप मुख्यमंत्री ने कहा कि सदियों की प्रतीक्षा और सदियों का अभूतपूर्व धैर्य, अनगिनत बलिदान, त्याग और तपस्या के बाद हमारे प्रभु श्री राम का मंदिर अयोध्या में स्थापित हुआ है। उन्होंने कहा कि हरियाणा ने भी प्रदेश के सामाजिक-आथिक विकास को नए आयाम प्रदान किये हैं। शिक्षा, स्वास्थ्य एवं खेलों में हमने नई ऊँचाइयों को छूआ है। हमारी कितनी ही नीतियों और योजनाओं का देश के दूसरे राज्य अनुसरण कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने युद्ध के दौरान शहीद हुए हरियाणा के सैनिकों और अर्ध-सैनिक बलों के जवानों की अनुग्रह राशि 20 लाख रुपये से बढ़ाकर 50 लाख रुपये कर दी है। इसी प्रकार, आई.ई.डी. बलास्ट में शहीद होने पर भी अनुग्रह राशि 20 लाख रुपये से बढ़ाकर 50 लाख रुपये की गई है। अब तक शहीदों के 367 आश्रितों को अनुकम्पा के आधार पर नौकरी भी प्रदान की गई है।

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने गणतंत्र दिवस समारोह में फहराया तिरंगा
उन्होंने कहा कि 'सुशासन से सेवाÓ के संकल्प के साथ जनसेवा का दायित्व संभालने वाली वर्तमान सरकार ने प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के 'सबका साथ-सबका विकासÓ और 'हरियाणा एक-हरियाणवी एकÓ के मूलमंत्र पर चलते हुए समस्त हरियाणा और प्रत्येक हरियाणवी की तरक्की और उत्थान के लिए निरंतर कार्य किया है। वर्ष 2024 को Óसंकल्प से परिणामÓ वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि आज जनता और सरकार का संपर्क सीधा है। हमने प्रशासन में मानव हस्तक्षेप को न्यूनतम करने के लिए आई.टी. का बड़े पैमाने पर सफल प्रयोग किया है। आज हर सरकारी योजना के पारदर्शी तरीके से लागू किए जाने से घर बैठे गरीब की बेटी की शादी का शगुन, बुजुर्ग, विधवा व दिव्यांगों की पेंशन, बी.पी.एल. कार्ड, चिरायु कार्ड का लाभ, किसानों को उनकी फसल का भुगतान कम्प्यूटर की एक क्लिक से सीधे पात्र के खाते में जाता है। हमने सरकारी कर्मचारियों के लिए चिकित्सा सुविधा में कैशलेस प्रणाली को भी लागू किया है।

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने गणतंत्र दिवस समारोह में फहराया तिरंगा
उन्होंने कहा कि गरीबों के सिर पर छत उपलब्ध करवाने के लिए 'प्रधानमंत्री आवास योजनाÓ के तहत 36 हजार से अधिक मकान बनाए गए हैं, जबकि 16 हजार मकान बनाए जा रहे हैं। हर गरीब को राशन मिलने में परेशानी न हो और कोई उसका हक न मार सके, इसके लिए राशन वितरण व्यवस्था को तकनीक के माध्यम से पारदर्शी बनाया है। अब कोई भी व्यक्ति फर्जी तरीके से राशन प्राप्त नहीं कर सकता। गरीबों का अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में पढाने का सपना साकार करने के लिए 'चिराग योजनाÓ चलाई गई है। यही नहीं, कौशल रोजगार निगम के माध्यम से कर्मचारियों की भर्ती में भी गरीब परिवारों के युवाओं को प्राथमिकता दी जा रही है।

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने गणतंत्र दिवस समारोह में फहराया तिरंगा

उन्होंने कहा कि सरकार ने कृषि, उद्योग, व्यापार, रोजगार, शिक्षा, स्वास्थ्य आदि हर क्षेत्र में भी ई-गवर्नेंस के माध्यम से क्रांतिकारी बदलाव किए हैं। जिस प्रकार, परिवार पहचान पत्र के डेटा से विभिन्न योजनाओं का लाभ लोगों को घर बैठे ही मिल रहा है, उसी प्रकार, कृषि क्षेत्र में Óमेरी फसल-मेरा ब्यौराÓ पोर्टल बनाकर किसान कल्याण की अनेक योजनाओं को इससे जोडा गया है। फसल बिक्री की राशि, खराबे का मुआवजा, भावांतर भरपाई की राशि, मेरा पानी-मेरी विरासत, धान की सीधे ही बिजाई की प्रोत्साहन राशि आदि इस पोर्टल के माध्यम से सीधे ही किसान के खाते में जमा की जाती है। न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 14 फसलों की खरीद करने वाला हरियाणा देश का पहला राज्य है।

उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने गणतंत्र दिवस समारोह में फहराया तिरंगा
उन्होंने कहा कि हमने युवाओं की योग्यता का सम्मान किया है। आपको पता है कि 1 लाख 10 हजार से अधिक युवाओं को योग्यता के आधार पर सरकारी नौकरियां दी हैं। आउटसोर्सिंग सेवाओं में युवाओं को ठेकेदारों के शोषण से बचाने के लिए 'हरियाणा कौशल रोजगार निगमÓ बनाया है।


उन्होंने कहा कि हमने गांवों के विकास में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए पंचायती राज संस्थाओं में महिलाओं को 50 प्रतिशत प्रतिनिधित्व दिया है। हमारी सरकार प्रदेश के शहरों और कस्बों में आधारभूत संरचना सुदृढ़ बनाने पर विशेष बल दे रही हैं। गुरुग्राम, करनाल, फरीदाबाद और पंचकूला को स्मार्ट सिटी बनाया जा रहा है। गुरुग्राम, फरीदाबाद और पंचकूला के विकास के लिए मेट्रोपोलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी का गठन किया गया है।


उप मुख्यमंत्री ने कह कि पिछले साढ़े 9 वर्षों में हमारे राज्य में 33,000 किलोमीटर लंबी सड़कों का सुधार और लगभग 7000 किलोमीटर नई सड़कों का  निर्माण किया गया है। आज प्रदेश का हर जिला नेशनल हाईवे से जुड़ गया है। इतना ही नहीं, 72 किलोमीटर लंबा ईस्टर्न डेडिकेटिड फ्रेट कॉरिडोर तथा 506 किलोमीटर लंबा वेस्टर्न डेडिकेटिड फ्रेट कॉरिडोर हरियाणा से होकर गुजरेगा, जिसका हरियाणा को बहुत बड़ा लाभ मिलने वाला है। केएमपी के साथ-साथ हरियाणा ऑर्बिटल रेल कॉरिडोर भी बन रहा है और दिल्ली के सरायं काले खां से करनाल तक आरआरटीएस रेल लाइन भी स्थापित की जा रही है। इन सब परियोजनाओं के पूरा होने से प्रदेश की जनता को बहुत लाभ होगा।


उन्होंने कहा कि हिसार एयरपोर्ट का विस्तारीकरण करके पहली उड़ान अप्रैल 2024 से शुरु कर दी जाएगी। गुरुग्राम में लगभग 30 एकड़ में हैली हब तैयार किया जाएगा, जहां से हेलीकॉप्टर किराये पर मिल सकेंगे। हरियाणा स्काई एडवेंचर स्पोर्टस को बढावा देने वाला पहला राज्य है।


उन्होंने कहा कि हम सबको यह प्रतिज्ञा करनी होगी कि हमें भी अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए आने वाली पीढ़ियों के लिए बेहतर भविष्य बनाना होगा। हम मिलकर भारत देश को एक मजबूत राष्ट्र बनाएंगे। हम सब मिलकर सशक्त भारत विकसित भारत का निर्माण करेंगे। सभी नागरिकों को संविधान के प्रति सजग करेंगे और सबको समान रूप से जीने का अवसर प्रदान करेंगे।


ये रहे मौजूद
समारोह में पूर्व मंत्री भागीराम, मुख्यमंत्री के पूर्व राजनीतिक सलाहकार जगदीश चोपड़ा, जजपा जिलाध्यक्ष अशोक वर्मा, सर्वजीत मसीतां, हरी सिंह भारी, एडीजीपी श्रीकांत जाधव, उपायुक्त पार्थ गुप्ता, सीडीएलयू के कुलपति अजमेर सिंह मलिक, पुलिस अधीक्षक विक्रांत भूषण, एडीसी डा. विवेक भारती, एएसपी दीप्ति गर्ग, एसीयूटी शाश्वत सांगवान, एसडीएम राजेंद्र कुमार, सीटीएम अजय सिंह सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी व आमजन मौजूद थे।