logo

शाह सतनाम जी कॉलेज ऑफ एजुकेशन में लैंगिक मुद्दे पर सामूहिक परिचर्चा का आयोजन

 
शाह सतनाम जी कॉलेज ऑफ एजुकेशन में लैंगिक मुद्दे पर सामूहिक परिचर्चा का आयोजन
WhatsApp Group Join Now

सरसा। शाह सतनाम जी कॉलेज ऑफ  एजुकेशन में नई चेतना 2.0 राष्ट्रीय लैंगिक अभियान के उपलक्ष पर लैंगिक मुद्दे पर सामूहिक परिचर्चा की गई। इस कार्यक्रम में बी.एड. प्रथम वर्ष के छात्र अध्यापकों ने भाग लिया। छात्र-अध्यापकों ने सामूहिक परिचर्चा के माध्यम से महिला हिंसा रोकथाम, महिला सशक्तिकरण व स्वास्थ्य के प्रति जागरूक बनाने, लिंग आधारित भेदभाव की विरुद्ध आवाज उठाना, महिला सुरक्षा, समान शिक्षा, महिला हेल्पलाइन, चाइल्ड हेल्पलाइन,यौन उत्पीडऩ रोकथाम,घरेलू हिंसा की रोकथाम के संबंध में चर्चा और जानकारी दी गई। कॉलेज प्राचार्या डॉ. रजनी बाला ने छात्र अध्यापकों को संबोधित करते हुए बताया कि राष्ट्रीय लिंग नीति असमानताओं को कम करने और सामाजिक,आर्थिक और राजनीतिक विकास में महिलाओं, पुरुषों, लड़कों और लड़कियों की भागीदारी को बढ़ाना है।

लैगिंग समानता का अभिप्राय लक्ष्य के साथ अर्थव्यवस्था की विभिन्न क्षेत्रों में लिंग को मुख्य धारा में लाने के लिए दिशा-निर्देश प्रदान करती है। शिक्षा के द्वारा ही लोगों में  जागरुकता आ सकती है। इसलिए शिक्षित होने के साथ-साथ हमें अपने अधिकारों और कर्तव्यों का पालन करना भी जरूरी है। इस अवसर पर सभी स्टाफ  सदस्य उपस्थित रहे।