logo

सरकार ने सब्जी, फलों व अनाज पर मार्केट फीस एवं HRDF समाप्त नहीं किया तो प्रदेश का व्यापारी हरियाणा बंद करके सड़कों पर करेगा जोरदार आंदोलन

 
सरकार ने सब्जी, फलों व अनाज पर मार्केट फीस एवं HRDF समाप्त नहीं किया तो प्रदेश का व्यापारी हरियाणा बंद करके सड़कों पर करेगा जोरदार आंदोलन
WhatsApp Group Join Now

सिरसा। हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के प्रांतीय अध्यक्ष व अखिल भारतीय व्यापार मंडल के मुख्य राष्ट्रीय महासचिव बजरंग गर्ग ने व्यापारियों की मीटिंग लेने के उपरांत निजी होटल में पत्रकार वार्ता में कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा सब्जी व फलों पर एक मुश्त मार्केट फीस लगाने व 1 प्रतिशत एचआरडीएफ  लगाने के विरोध में 20 दिसंबर को पूरे हरियाणा की सब्जी व फल मंडियों में हड़ताल रहेगी। सरकार द्वारा सब्जी व फलों पर मार्केट फीस व एच आर डी एफ  लगाने के विरोध में प्रदेश के आढ़ती व किसानों में बड़ी भारी नाराजगी है। 20 दिसंबर को हरियाणा में हड़ताल ऐतिहासिक होगी।

प्रदेश में एक भी सब्जी व फलों की दुकान खुली नहीं मिलेगी। बजरंग गर्ग ने कहा कि किसानों व आढ़तियों की मांग पर हमने पिछली सरकार से बातचीत करके सब्जी व फलों पर से मार्केट फीस माफ  करवाई थी, मगर भाजपा सरकार ने किसानों द्वारा पैदा की जा रही सब्जी-फल पर दोबारा मार्केट फीस व एच आर डी एफ  लगा दिया है जो सरासर गलत है। जबकि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर व कृषि मंत्री जे. पी. दलाल ने सब्जी व फलों पर मार्केट फीस समाप्त करने की घोषणा की थी। सरकार ने यह भी कहा था कि सब्जी व फल पर मार्केट फीस व एच आर डी एफ  माफ  करने से आढ़तियों व किसानों को 30 करोड़ रुपए का लाभ होगा। सरकार ने मार्केट फीस व एच आर डी एफ  हटाने की अधिसूचना जारी नहीं की, उल्टा आढ़तियों व किसानों को तंग करने के लिए एक मुश्त मार्केट फीस व एक प्रतिशत एचआरडीएफ  सरकार ने लगा दिया। सब्जी व फलों पर मार्केट फीस लगाने से हरियाणा में इंस्पेक्ट्रीराज को बढ़ावा मिलेगा और भ्रष्ट अधिकारी अपने निजी स्वार्थ के लिए किसी भी आढ़तियों को नाजायज तंग करेंगे।

यहां तक की सरकार को जितनी मार्केट फीस प्राप्त होती है उससे ज्यादा मार्केट फीस वसूल करने में सरकारी खर्च हो जाएगा। बजरंग गर्ग ने कहा कि सरकार को अपने वादे के अनुसार सब्जी व फलों पर से मार्केट फीस व एच आर डी एफ  तुरंत प्रभाव से हटनी चाहिए। गर्ग ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 1 जुलाई 2017 को जीएसटी लागू करते हुए घोषणा की थी कि देश में जीएसटी के तहत सिर्फ  एक टैक्स रहेगा मगर केंद्र सरकार ने जीएसटी के तहत 6 प्रकार के टैक्स लगा दिये और जो मार्केट फीस समाप्त करनी थी, वह अभी तक नहीं की है। मोदी को अपने वादे के अनुसार सब्जी, फल व अनाज पर से मार्केट फीस समाप्त करनी चाहिए। अगर सरकार ने मार्केट फीस व एच आर डी एफ  नहीं हटाया तो प्रदेश का व्यापारी किसानों के साथ मिलकर पूरी तरह से हरियाणा बंद करके सड़कों पर उतरकर जोरदार आंदोलन करेगा।

सरकार सब्जी पर मार्केट फीस लगाकर गरीबों के मुंह का निवाला छीनने का काम कर रही है, जो उचित नहीं है। इस अवसर पर व्यापार मंडल प्रदेश महासचिव व जिला प्रधान हीरालाल शर्मा, प्रदेश उप प्रधान आनंद बियानी, प्रदेश सचिव गंगाराम बजाज, युवा प्रधान संदीप मिड्ढा, मोबाइल यूनियन प्रधान विमल स्वामी, रामकुमार सैनी, संजीव गोयल, पी के अरोड़ा, शैरी सिंह, सज्जन मदानी, अशोक कुमार, मोहित आदि व्यापारी प्रतिनिधि भारी संख्या में मौजूद थे।