logo

नए शैक्षणिक सत्र से सीडीएलयू से जुड़े कालेजों में लागू होगा एनईपी 2020

 
नए शैक्षणिक सत्र से सीडीएलयू से जुड़े कालेजों में लागू होगा एनईपी 2020 
WhatsApp Group Join Now
सिरसा। चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय सिरसा से संबंधित महाविद्यालयों में शैक्षणिक 2024-25 से एनईपी-2020 को लागू किया जाएगा। मानविकी तथा सामाजिक विज्ञान संकाय के विभिन्न विभागों द्वारा राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुरूप पाठ्यक्रमों का प्रारूप आगामी 10 फरवरी तक तैयार कर लिया जाएगा। यह महत्वपूर्ण निर्णय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर अजमेर सिंह मलिक की अध्यक्षता में आयोजित विभिन्न विभागों के अध्यक्षों की बैठक में लिया गया। प्रोफेसर मलिक ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति से विद्यार्थियों के संपूर्ण व्यक्तित्व का विकास होगा। उन्होंने कहा कि सीडीएलयू ने यूनिवर्सिटी स्कूल फॉर ग्रैजुएट स्टडीज के माध्यम से एनईपी आधारित पाठ्यक्रमों की शुरुआत करने में प्रदेश में अग्रणी भूमिका निभाई थी जिसके काफी उत्साहवर्धक परिणाम सामने आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को गुणवत्ता शिक्षा प्रदान करना विश्वविद्यालय प्रशासन की प्राथमिकता है। कुलपति ने विभागाध्यक्षों को निर्देश दिए कि वे विभिन्न प्रोग्राम्स के सिलेबस के अंदर नवीनतम सामग्री डाले जिसे पढ़कर बच्चे न केवल राष्ट्रीय स्तर पर बल्कि वैश्विक स्तर पर अपना लोहा मनवा सके। बैठक में समय सारणी की यूनीफॉर्मिटी की बात भी रखी गई और विद्यार्थियों को मासिव ओपन ऑनलाइन कोर्सेज (मूक) के माध्यम से शिक्षा ग्रहण करने के लिए प्रेरित करने के निर्देश कुलपति द्वारा दिए गए। कुलपति ने विभाग अध्यक्षों से कहा कि वे नवीनतम प्रोग्राम्स को सर्च करके आईक्यूएसी में दे ताकि गुणवत्ता परक शिक्षा विद्यार्थियों को प्रदान की जा सके। बैठक के दौरान विभाग अध्यक्षों को विभिन्न संगठनों के साथ एमओयू करने के लिए भी प्रेरित किया गया। बैठक में यह भी फैसला लिया गया कि विद्यार्थियों को व्यवहारिक रूप से दक्ष करने के लिए नेशनल बुक ट्रस्ट, विभिन्न मीडिया हाउसेस तथा विषय से संबंधित संगठनों में विद्यार्थियों की ट्रेनिंग को सिलेबस का पार्ट बनाया जाए। इस बैठक में विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ राजेश बंसल, शैक्षणिक मामलों के अधिष्ठाता प्रोफेसर सुरेश गहलावत, एनईपी कोऑर्डिनेटर प्रोफेसर सुरेंदर सिंह सहित विभिन्न विभागों के अध्यक्ष उपस्थित थे।