logo

शाह सतनाम जी गर्ल्स स्कूल में एक दिवसीय शोकेस एग्जीबिशन का आयोजन

छात्राओं ने नवाचारों, विचारों और अपनी परियोजनाओं को मॉडल के रूप में किया प्रदर्शित
 
शाह सतनाम जी गर्ल्स स्कूल में एक दिवसीय शोकेस एग्जीबिशन का आयोजन
WhatsApp Group Join Now

सिरसा। छात्राओं के नवाचारों, विचारों और परियोजनाओं को मंच प्रदान करने के उद्देश्य से शाह सतनाम जी गर्ल्स स्कूल सिरसा में शनिवार को एक दिवसीय शोकेस एग्जिबिशन का आयोजन किया गया। जिसमें छठी से नौवीं व ग्यारहवीं कक्षा की छात्राओं ने साइंस और आर्ट्स विषय संबंधी एक से बढ़कर एक बेहतर मॉडल प्रदर्शित किए। माडल में बच्चों ने अपनी कार्यकुशलता के साथ बौद्धिक मानसिक क्षमता का प्रदर्शन किया। शोकेस एग्जीबिशन में मुख्य अतिथि के रूप में डेरा सच्चा सौदा के सीनियर वाइस चेयरमैन चरणजीत इन्सां ने शिरकत की। मुख्य अतिथि और स्कूल प्रधानाचार्या डा. शीला पूनिया इन्सां व उप प्राचार्या सीमा छाबड़ा इन्सां ने प्रदर्शनी का अवलोकन करने के पश्चात प्रत्येक कक्षा के विजेता मॉडल के विद्यार्थी को नगद पुरस्कार देकर सम्मानित किया। प्रदर्शनी में पहले स्थान पर रहने वाले मॉडल को 2100 रुपए, दूसरे स्थान पर रहने वाले मॉडल को 1100 रुपए व तीसरे स्थान पर रहने वाले मॉडल को 500 रुपए का नगद पुरस्कार दिया गया। प्रदर्शनी में 11वीं आर्ट्स की छात्राओं द्वारा बनाया गया राम मंदिर, राम सेतु के मॉडल भी आकर्षण का केंद्र रहे। इसके अलावा चंद्रयान, एग्रीकल्चर, स्मार्ट सिटी, रेन वाटर हार्वेस्टिंग, सोलर पैनल, इको ब्रिज, एप्लीकेशन ऑफ  कंप्यूटर सहित 150 मॉडल प्रदर्शित किए गए।
         Students displayed innovations, ideas and their projects in the form of models

   मुख्य अतिथि चरणजीत इन्सां ने कहा कि विज्ञान व आर्ट्स प्रदर्शनी से बच्चों में बौद्धिक एवं मानसिक विकास होता है। छात्राओं में मेधा की कमी नहीं है। जरूरत है उसे निखारने की। शाह सतनाम जी गर्ल्स स्कूल यहां पढ़ने वाली छात्राओं को किताबी शिक्षा के साथ-साथ जीवन से जुड़ी अन्य बातें और ज्ञान भी बखूबी दे रहा है। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी शिक्षा से ही अपना भविष्य संवार सकते हैं। साथ ही उन्होंने विद्यालय में दी जा रही शिक्षा की प्रशंसा की।
             

  स्कूल प्रधानाचार्या डा. शीला पूनिया इन्सां ने कहा कि स्कूल का शोकेस एग्जिबिशन कराने का मुख्य उद्देश्य बच्चों को हर क्षेत्र में आगे बढ़ाना है। क्योंकि आज यहां जिन बच्चों ने मॉडल बनाए है, निश्चित ही भविष्य में इन्हीं बच्चों में से कोई ना कोई डॉक्टर, वैज्ञानिक या एक अच्छा आर्टिस्ट होगा। डा. शीला पूनिया इन्सां ने कहा कि स्कूल का समस्त स्टाफ पूज्य गुरु संत डा. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां के मार्गदर्शन पर चलते हुए बच्चों को आगे बढ़ाने के लिए इस तरह के आयोजन करते रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे। हमारा उद्देश्य बच्चों का सर्वांगीण विकास करना है।


- यह मॉडल रहे प्रथम
कक्षा, मॉडल का नाम, विद्यार्थी का नाम
छठी, ह्यूमन हार्ट, कनिका
सातवीं, ड्रिप इरिगेशन, काव्या व आंचल
आठवीं, वाटर एंड एयर पॉल्यूशन, वंशिका, एंजेल व पलक
नौवीं, ज्यामितीय ज्योमैट्रिकल पार्क, संदीप, जसप्रीत व सुखमन
ग्यारहवीं, थ्री डी होलोग्राम मॉडल, विदुषी