logo

प्रोफेसर दीप्ति धर्माणी भिवानी विश्वविद्यालय की कुलपति नियुक्त हुई

राज्यपाल ने प्रोफेसर दीप्ति धर्माणी भिवानी विश्वविद्यालय की कुलपति नियुक्त किया
 
s
WhatsApp Group Join Now


सिरसा। हरियाणा के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने बुधवार को प्रोफ़ेसर दीप्ती धर्माणी को चौधरी बंसीलाल विश्वविद्यालय भिवानी की कुलपति के पद पर नियुक्त किया. प्रो धर्माणी इससे पूर्व चौधरी देवी लाल विश्वविद्यालय सिरसा में अंग्रेजी विभाग में प्रोफ़ेसर, अधिष्ठाता शैक्षणिक मामले, मानविकी संकाय में अधिष्ठाता, अभियांत्रिकी एवं तकनीकी संकाय में अधिष्ठाता, एजुकेशन संकाय में अधिष्ठाता तथा सामाजिक विज्ञान संकाय में अधिष्ठाता और अंग्रेजी, पत्रकारिता एवं जनसंचार, उर्जा एवं पर्यावरण विज्ञान, हिंदी, संस्कृत, पंजाबी, लोक प्रशासन, संगीत, इतिहास एवं भूगोल विभागों के विभागाध्यक्ष रह चुकी है.

 प्रो धर्माणी चौधरी देवी लाल विश्वविद्यालय सिरसा में युवा कल्याण विभाग के निदेशक रही. प्रो धर्माणी की शिक्षा दीक्षा कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से स्नातक से लेकर पीएचडी तक हुई है. उन्होंने उस्मानिया विश्वविद्यालय हैदराबाद से पोस्ट डॉक्टरल की उपाधि हासिल की. प्रो दीप्ती धर्माणी को 40 वर्ष का शैक्षिक, रिसर्च एवं प्रशासनिक अनुभव है जिसमें वे 1983 में आदर्श महाविद्यालय भिवानी में प्राध्यापक, सीएमके महिला महाविद्यालय सिरसा प्राध्यापक के रूप में सेवाएँ दी और विभिन्न विषयों पर 4 पुस्तकें व 27 राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय रिसर्च पेपर प्रकाशित हुए। वे 34 एमफिल शोधार्थी एवं 9 पीएचडी शोधार्थियो के पर्यवेक्षक भी रही.  

प्रो धर्माणी चौधरी देवी लाल विश्वविद्यालय सिरसा, जेसी बोस विज्ञान एवं अभियांत्रिकी विश्वविद्यालय फरीदाबाद एवं दीन बंधु छोटूराम विज्ञान एवं अभियांत्रिकी विश्वविद्यालय मुरथल की कार्यकारी परिषद के सदस्य रही है. वे केंदीय विश्वविद्यालय हिमाचल प्रदेश, कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र तथा चौधरी देवी लाल विश्वविद्यालय सिरसा की शैक्षणिक परिषद के सदस्य रही. वे कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र, चौधरी देवी लाल विश्वविद्यालय सिरसा, चौधरी रणबीर सिंह विश्वविद्यालय जींद की कोर्ट की सदस्य भी रही. इसके अतितिक्त प्रो धर्माणी हरियाणा के विभिन्न विश्वविद्यालयों के यूजी बिओएस, पीजी बिओएस, डीआरसी एवं ओडिनेंस कमेटी तथा सलेक्शन कमेटी, इंस्पेक्शन कमेटी इत्यादि में सदस्य रही है.