logo

सिरसा जेजेपी लोकसभा चुनाव कार्यालय का हुआ उद्घाटन

पूर्व उपप्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल को भारत रत्न देने का प्रस्ताव पारित
 
 
w
WhatsApp Group Join Now
नेता बोले, लोस चुनावों के लिए जेजेपी तैयार, तिथि का इंतजार
 

सिरसा। देश में आगामी लोकसभा चुनावों के दृष्टिगत जननायक जनता पार्टी ने अपनी पूरी एक्सरसाइज कर ली है। इसी कड़ी में शनिवार को जेजेपी के सिरसा लोकसभा क्षेत्र के प्रभारी व पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष स. निशान सिंह व सिरसा लोकसभा क्षेत्र के सहप्रभारी अशोक शेरवाल ने संयुक्त रूप से सिरसा जेजेपी लोकसभा चुनाव कार्यालय का उद्घाटन किया।

e

इस दौरान सिरसा जेजेपी लोकसभा कार्यालय में पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं की विशाल भीड़ ने पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ पुरजोर तरीके से पूर्व उपप्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल को भारत रत्न दिए जाने की मांग को लेकर किया प्रस्ताव पास किया और उसे केंद्र सरकार तक भिजवाने का निर्णय लिया। जेजेपी के प्रदेशाध्यक्ष स. निशान सिंह, पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के प्रधान महासचिव राधेश्याम शर्मा, पूर्व विधायक कृष्ण कंबोज, पूर्व मंत्री भागीराम, पूर्व विधायक रमेश खटक, कार्यालय प्रभारी हरिसिंह भारी, एडवोकेट विजय बांसल, प्रदेश सचिव सुरेंद्र बेनीवाल, युवा जिलाध्यक्ष रणदीप सिंह मट्दादू, जिला प्रेस प्रवक्ता अमर सिंह ज्याणी, सिरसा हलकाध्यक्ष सुधीर कुकणा, ऐलनाबाद हलकाध्यक्ष अनिल कासनियां, रानियां हलकाध्यक्ष कुलदीप करीवाला, कालांवाली हलकाध्यक्ष प्रकट सिंह भीमां, यूएलबी के जिला संयोजक राजन बावा, राजेंद्र कसवां, तरसेम मिढ़ा सुमित्रा भारी, पुष्पा नारंग, पूजा महला, सुनीता रानी, निर्मल सिंह मलड़ी, शंगनजीत कुरंगावाली, अजय बांसल एडवोकेट, योगेश मोदी एडवोकेट, राजवीर रोड़, राजेंद्र सरदाना, गुरमंगत गिल, योगेश शर्मा सहित अनेक पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने एक स्वर में कहा कि चौधरी देवीलाल ने अपने कार्यकाल में जहां किसानों, श्रमिकों, बेरोजगारों, युवाओं की बेहतरी के लिए अनेकानेक योजनाएं बनाकर उनका जीवन स्तर बेहतर बनाया वहीं बुजुर्गों के लिए पेंशन योजना लागू कर किसानों के करोड़ों रुपए के ऋ ण माफ कर उन्हें सशक्त बनाया। इतना ही नहीं घुमंतु जाति के बच्चों को शिक्षा से जोडऩे के लिए परस्पर प्रतिदिन एक रुपया प्रतिदिन, खेतीहर मजदूरों को उनकी मेहनत के लिहाज से उनका एक चौथाई हिस्से का लाभ देना, गर्भवती महिलाओं के लिए देवीरूपक योजना सहित ऐसी अनेक लाभकारी योजनाओं को देश प्रदेश में लागू कर सभी वर्गों को लाभान्वित किया। इसी प्रकार सही मायने में उन्होंने जननायक की भूमिका को सार्थक किया। ऐसे में उन्हें भी देश के सबसे बड़े नागरिक सम्मान भारत रत्न से नवाजा जाना चाहिए, जिसके लिए केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजा जाएगा।

सभी पार्टी नेताओं ने इस अवसर पर पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हाराव, चौधरी चरण सिंह व स्वामीनाथन को दिए गए भारत रत्न दिए जाने का स्वागत करते हुए प्रसन्नता जताई। इस अवसर पर प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह ने कार्यकर्ताओं से कहा कि वे मिशन दुष्यंत 2024 को पूरी तरह कामयाब बनाने के लिए आगे आएं। उन्होंने इस मिशन को कामयाब करने के लिए एकजुट होकर काम करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि जननायक जनता पार्टी लोकसभा चुनावों के लिए पूरी तरह तैयार है बस चुनावों की तिथि घोषित किए जाने का इंतजार है।

उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा कि वे अपने स्तर पर तैयारियां रखें और लोगों के बीच जाकर पार्टी की कल्याणकारी योजनाओं व कार्यों के माध्यम से अपने पक्ष में माहौल बनाएं। इस दौरान सिरसा लोकसभा क्षेत्र के सहप्रभारी अशोक शेरवाल व रमेश खटक ने सभी पार्टी पदाधिकारियों का सदस्यता अभियान में दिए गए सहयोग के लिए आभार जताया। उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं की डबवाली रैली को सफल बनाने के लिए भी पीठ थपथपाई। दोनों पार्टी नेताओं ने कहा कि मजबूत संगठन से ही सरकार बनती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस आज संगठन नहीं होने से समाप्ति के कगार पर है लेकिन जेजेपी अपने मजबूत संगठन के आधार पर पूरे हरियाणा की सर्वाधिक मजबूत पार्टी है जिसने बूथ लेवल तक अपना होमवर्क पूरा किया है। उन्होंने तमाम पार्टी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को लोकसभा चुनावों की पूरी तैयारी में जुटने का आह्वान किया। दोनों वरिष्ठ नेताओं ने कहा कि सभी कार्यकर्ता आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर भी तैयार रहें और दुष्यंत चौटाला को मुख्यमंत्री बनाने के लक्ष्य को लेकर आगे बढ़ें। मंच संचालन युवा प्रेस प्रवक्ता नीतिन टांडी ने किया।

इस अवसर पर बलकरण सिंह भंगू, सुखदेव सिहाग, विक्रम सहारण, डॉ. धर्मपाल बालासर सरपंच, राधेश्याम सैनी, सवाई सिंह, प्रहलाद बाना, जयपाल नैन, शमशेर खारियां, जगदीश जोगीवाला, लक्की चौधरी, हॉजी युसुफ खान, रणबीर चाडीवाल, ओम प्रकाश मेहता, अकबर खान, दीपक भाटिया, गुरपाल गंगा, सुखदेव केलनियां, श्रवण जोशी, मनीश मेहता, जगसीर रानियां, सतपाल बेनीवाल, देसराज कंबोज, हवा सिंह, कृष्ण भांभू, बलवीर नागोकी, संदीप खैरेकां, नरेश बालासर, राम कुमार छिंपा, राममूर्ति बाना, लेखराम बरोड़, पलविंद्र तलवाड़ा इत्यादि उपस्थित थे।