logo

Sirsa News: चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय द्वारा मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

 
Sirsa News: चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय द्वारा मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस
WhatsApp Group Join Now

Mhara Hariyana News, New Delhi: चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय सिरसा के युवा कल्याण निदेशालय द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर विभिन्न सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में सिरसा की सांसद सुनीता दुग्गल ने मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की। उन्होंने उपस्थितजनों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रत्येक जन को महिला दिवस के महत्त्व के बारे में जानकरी होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि महिला प्रत्येक जन के जीवन का अभिन्न अंग है जो अनेक रूप में उनके साथ रहती हैं। इनमें सबसे पहले और सबसे महत्त्वपूर्ण रूप माँ का है जिसके द्वारा एक जीव इस धरती पर आता है। उन्होंने कहा कि यदि किसी घर में माँ, बेटी या बहन न हो तो वो घर अधूरा लगता है।

जिनके पास ये रिश्ते है उन्हें उनका पूरा सम्मान करना चाहिए। उन्होंने नारी के सम्मान के लिए सभी उपस्थितजनो को आह्वान किया कि वे अपने बच्चों में अच्छे संस्कार पैदा करे। उन्होंने महिलाओं को भी खुद को सशक्त बनाने का आह्वान किया और उन्हें महिला दिवस की शुभकामनाए दी।

इस कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर अजमेर सिंह मलिक ने कहा कि आज के समय में महिलाए पुरुषों के समान हैं। वे हर क्षेत्र में अग्र भूमिका निभा रही है। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय की छात्राएं भी राष्ट्र व अंतर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं जैसे खेल, सांस्कृतिक आदि क्षेत्रों में उच्च कोटि का प्रदर्शन विश्वविद्यालय का नाम रोशन कर रही है। इस अवसर पर युवा कलाकारों को सम्मानित भी किया गया।

युवा कल्याण निदेशालय, निदेशक डॉ. मन्जू नेहरा ने बताया कि इस कार्यक्रम में विभिन्न सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं जैसे सोलो हरियाणवी डांस महिला, सोलो हरियाणवी डांस पुरुष, सोलो पंजाबी डांस महिला, सोलो पंजाबी डांस पुरुष, सोलो राजस्थानी डांस, सोलो वेस्टर्न डांस, सोलो सिंगिंग, ऑन द स्पॉट पेंटिंग आदि का आयोजन करवाया गया है। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ राजेश कुमार बंसल, शैक्षणिक मामलों के अधिष्ठाता प्रोफेसर सुरेश गहलावत, प्रोफेसर कासिफ, प्रोफेसर जोगिन्दर दुहन, एम एम कॉलेज, फतेहबाद के प्रिंसिपल डॉ गुरचरण सहित विभिन्न विभागों के प्राध्यापक उपस्थित थे।