logo

समर्पण व सेवा भाव से ही मिलता है जीवन में सच्चा आनंद : राज्यपाल प्रो. गणेशी लाल

उड़ीसा के महामहिम राज्यपाल प्रो. गणेशीलाल ने गांव मोरीवाला में किया निर्मित भाई कन्हैया शिक्षा संस्थान का शुभारंभ
 
rf
WhatsApp Group Join Now

Mhara Hariyana News, sirsa, सिरसा। उड़ीसा के महामहिम राज्यपाल प्रो. गणेशी लाल ने रविवार को भाई कन्हैया मानव सेवा ट्रस्ट द्वारा स्व. श्री सत्ï नारायण गोयल की याद में गांव मोरीवाला में निर्मित भाई कन्हैया शिक्षा संस्थान का शुभारंभ किया। यह स्कूल विशेष तौर पर दिव्यांग छात्रों के लिए बनाया गया है, जिसमें बच्चों की किताबें, बैग, स्टेशनरी के साथ-साथ भोजन की व्यवस्था भी नि:शुल्क रहेगी। इसके अलावा किसी प्रकार की स्कूल फीस या एडमिशन फीस भी नहीं ली जाएगी। इस अवसर पर राष्टï्रीय स्वास्थ्य मिशन हरियाणा के मैनेजिंग डायरेक्टर प्रभजोत सिंह, रेवाड़ी के उपायुक्त अशोक गर्ग, समाजसेवी मनीष सिंगला, भाई कन्हैया आश्रम के प्रधान सेवक गुरविंद्र सिंह, योगेश मेहता, पूर्व चेयरमैन अमीर चावला, संजीव जैन, राज्यपाल के निजी सचिव विनोद स्वामी, नवनियुक्त एचसीएस मोनिका मोयल, ओएसडी इंद्रजीत खुराना, हरपिंद्र शर्मा, सरपंच कुलबीर, बलबीर, नवदीप, मोंटू मौजूद रहे।


राज्यपाल प्रो. गणेशी लाल ने कहा कि मानव सेवा सबसे बड़ी सेवा है और भाई कन्हैया मानव सेवा ट्रस्ट इस कार्य को बखूबी कर रहा है। ट्रस्ट द्वारा जिस समर्पण भाव व तमन्यता से कार्य किया जा रहा है, यह बहुत ही सराहनीय है। सेवा का आनंद अलग ही प्रकार का होता है, केवल सेवा करने वाले व्यक्ति का मन ही जानता है कि उसे इसमें कितना आनंद मिलता है। उन्होंने कहा कि भविष्य में इस स्कूल के लिए किसी भी प्रकार के सहयोग व सहायता के लिए वे हमेशा तत्पर रहेंगे, जो उनका व उनके परिवार का सौभाग्य होगा।

sd
राष्टï्रीय स्वास्थ्य मिशन हरियाणा के मैनेजिंग डायरेक्टर प्रभजोत सिंह ने कहा कि जो व्यक्ति सेवा भाव के काम में लगे रहते हैं, वे धन्य है। भाई कन्हैया ने अपना जीवन मानव सेवा को समॢपत किया है। इस दुनिया में शिक्षा से बड़ा कोई दान नहीं है, क्योंकि एक शिक्षित व्यक्ति ही सभ्य समाज के निर्माण में अपनी अहम भूमिका निभा सकता है। यह ट्रस्ट मानव की जितनी सेवा कर रही है, उसे ब्यान नहीं किया जा सकता है।


कार्यक्रम में मौजूद रेवाड़ी के उपायुक्त अशोक गर्ग ने कहा कि भाई कन्हैया मानव सेवा ट्रस्ट संस्थाओं के माध्यम से अधिक से अधिक असहाय बच्चों व व्यक्तियों के जीवन में बदलाव आ सके, जिससे वे समाज की मुख्यधारा में जुड़ सकें। इस पुण्य कार्य में हर व्यक्ति को अपने सामर्थ्य अनुसार सहयोग करना चाहिए। उन्होंने भाई कन्हैया मानव सेवा ट्रस्ट द्वारा किए जा रहे सामाजिक कार्यों की बखूबी सराहना की। मानव सेवा ही सच्ची सेवा है और भाई कन्हैया मानव सेवा ट्रस्ट इस पुण्य कार्य को पूरी निष्ठïा से निभा रही है।
कार्यक्रम में दिव्यांग बच्चों ने सराहनीय व दिल का छू लेने वाली प्रस्तुतियां दी। संस्थान द्वारा स्कूल के निर्माण में सहयोग देने वाली सामाजिक संस्थाओं व अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।