logo
गोवा में कांग्रेस विधायकों की भाजपा में ज्वाइनिंग से डरे केजरीवाल, पंजाब के विधायक दिल्ली तलब
पंजाब में आपरेशन लोटस के खतरे को देखते हुए दिल्ली बुलाए आप पार्टी के विधायक 
 
kejriwal



Mhara Hariyana News, New Delhi। मंगलवार को गोवा में हुए राजनैतिक घटनाक्रम के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को डर सताने लगा है कि कहीं भाजपा पंजाब में उनकी सरकार में भी सेंध न लगा दे। आम आदमी पार्टी विधायकों को लेकर किसी भी तरह का कोई जोखिम नहीं उठाना चाहती है। आप पार्टी ने पंजाब में आपरेशन लोटस के खतरे को भांपते हुए पंजाब के सभी विधायकों को दिल्ली तलब किया है। इससे पहले भी पंजाब के विधायक भाजपा पर आरोप लगा चुके हैं कि उन्हें पार्टी ज्वाइन करने की एवज में बड़ी रकम का आफर हुआ है। 


मंगलवार को गोवा में कांग्रेस के 11 में से 8 विधायक बीजेपी में शामिल हो गए। इससे आम आदमी पार्टी को पंजाब में ऑपरेशन लोटस का डर सता रहा है। पार्टी ने बीजेपी पर उनके विधायकों को खरीदने की कोशिश करने के आरोप लगाए हैं। आप के विधायकों ने पंजाब पुलिस के डीजीपी के पास शिकायत भी दर्ज कराई है। दिल्ली के सीएम और आप के संयोजक अरविन्द केजरीवाल ने पंजाब के सभी विधायकों को दिल्ली बुलाया है। वहीं, पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि बीजेपी का ‘ऑपरेशन लोटस’ पंजाब में भी फेल हो गया है।
 
  
पंजाब के सभी विधायक दिल्ली तलब
दरअसल, आम आदमी पार्टी ने बीजेपी पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया है। पार्टी को विधायकों के टूटने का डर इतना सता रहा है कि अरविन्द केजरीवाल ने पार्टी के सभी विधायकों और राज्यसभा सदस्यों को 18 सितंबर को दिल्ली पहुंचने के निर्देश दिये हैं। है। पंजाब के ही एक वरिष्ठ विधायक ने इसकी पुष्टि की है। इस बैठक में केजरीवाल सभी विधायकों को एकजुट रहने और बीजेपी को घेरने की की रणनीति बना सकते हैं। हिमाचल प्रदेश और गुजरात चुनावों को देखते हुए ये बैठक काफी महत्वपूर्ण मानी जा रही है।

बीजेपी ने AAP के आरोपों को नकारा
वहीं बीजेपी ने आम आदमी पार्टी के इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है। भाजपा ने कहा है कि आप पार्टी अंतर कलह से जूझ रही है इसलिए उन्हें पार्टी में टूट का डर सता रहा है।