logo

देश की हर महिला के उत्थान में सहायक साबित होगी कांग्रेस की नारी न्याय गारंटी: कुमारी सैलजा

कांग्रेस की नारी न्याय गारंटी की पांच योजनाओं से आधी आबादी का ऊंचा होगा जीवन स्तर
 
sd
WhatsApp Group Join Now

चंडीगढ, 14 मार्च। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव, पूर्व केंद्रीय मंत्री, कांग्रेस कार्यसमिति की सदस्य, हरियाणा कांग्रेस की पूर्व प्रदेशाध्यक्ष और उत्तराखंड की प्रभारी कुमारी सैलजा ने कहा कि इस देश की आधी आबादी को पूरा हक देने के लिए कांग्रेस की अनेक कल्याणकारी योजनाएं हैं। अब कांग्रेस पार्टी ने नारी न्याय गारंटी की घोषणा की है। 

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने देश में महिलाओं के अधिकार के लिए पांच नारी न्याय गारंटी की घोषणा की है जो निश्चित रूप से देश की महिलाओं के उत्थान में कारगर साबित होंगी। उन्होंने बताया कि जो गारंटी की घोषणा की गई है उनमें से महालक्ष्मी गारंटी के तहत सभी गरीब परिवार की एक महिला को सालाना 1 लाख रुपए की मदद दी जाएगी। दूसरी घोषणा मेंं आधी आबादी-पूरा हक के तहत केंद्र सरकार की नई भर्तियों में आधा हिस्सा महिलाओं के लिए आरक्षित होगा। इसी प्रकार तीसरी घोषणा में शक्ति का सम्मान के तहत आंगनवाड़ी, आशा और मिड-डे मील वर्कर्स के मासिक वेतन में केंद्र सरकार का योगदान दोगुना होगा। चौथी घोषणा अधिकार मैत्री है, जिसके तहत हर पंचायत में महिलाओं को जागरूक करने के लिए अधिकार मैत्री की नियुक्ति होगी जो महिलाओं के लिए कानून संबंधी मामलों में सहायक होगी। 

इसी प्रकार कांग्रेस की पांचवीं घोषणा के अनुसार सावित्री बाई फुले हॉस्टल के कामकाजी महिलाओं के लिए केंद्र सरकार हर जिले में हॉस्टल बनवाएगी। कांग्रेस ने महिलाओं के उत्थान के लिए उक्त पांच घोषणाओं का ऐलान किया है, जिससे देश के सभी वर्गों की महिलाओं को लाभ दिया जाना सुनिश्चित किया जाएगा। स्वाभाविक है कि उक्त नारी न्याय गारंटी के तहत घोषित की गई योजनाओं से महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा मिलेगा। कुमारी सैलजा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी जो कहती है, उसे पूरा करती है। दूसरी तरफ भाजपा की सरकार है जो महज जुमलेबाजी करती है। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता से वादा किया था कि उनके खाते में 15-15 लाख रुपये आएंगे। क्या आज तक किसी के खाते में 15 लाख रुपये आए हैं, नहीं। क्योंकि भाजपा सिर्फ जनता को गुमराह करके वोट हासिल करना चाहती है। महिलाओं के ऊपर दिनोंदिन अत्याचार बढ़ रहे हैं। भाजपा की सरकार ने लोकसभा व विधानसभा चुनावों में महिला आरक्षण का जो कानून बनाया है, वह भी जुमला है क्योंकि इन लोकसभा चुनाव में सरकार ने उसे लागू नहीं किया है। लेकिन कांग्रेस पार्टी की ऐसी नीति नहीं है। कांग्रेस जो कहती है, वह करती है। कांग्रेस पार्टी ने देश को मनरेगा के तहत रोजगार का हक दिया है। आरटीआई का अधिकार दिया है। शिक्षा का अधिकार दिया है। उसी तरह अब नारी न्याय गारंटी को भी कांग्रेस सरकार बनने पर धरातल पर उतारा जाएगा और देश की महिलाओं के संपूर्ण विकास एवं उत्थान के लिए काम किया जाएगा।