logo

सांसद हनुमान बैनीवाल ने सचिन पायलट को कांग्रेस छोड़कर नहीं पार्टी बनाने की दी सलाह

बोले' पायलट अगर नई पार्टी बनाते हैं तो जबरदस्त प्रभाव होगा,  हम गठबंधन करेंगे
 
 
d
WhatsApp Group Join Now

Mhara Hariyana News, Jaipur। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (RLP) के प्रमुख और सांसद हनुमान बैनीवाल National Democratic Party (RLP) chief and MP Hanuman Bainiwal ने सचिन पायलट Sachin Pilot को कांग्रेस छोड़कर नई पार्टी बनाने की सलाह दी है। बैनीवाल ने कहा- वे तो चाहते हैं कि सचिन पायलट का जिस तरह कांग्रेस में बार-बार अपमान हो रहा है। उन्हें कांग्रेस छोड़ देनी चाहिए। बैनीवाल ने कहा कि सचिन पायलट अगर नई पार्टी बनाते हैं तो हम उनसे गठबंधन करेंगे। 
बैनीवाल ने कहा कि वे सचिन पायलअ को कहते हैं कि आप अलग पार्टी बनाएं। पायलट अगर नई पार्टी बनाते हैं। जबरदस्त माहौल बनेगा। इसका प्रभाव होगा।

बोले कांग्रेस-बीजेपी बहुत पीछे चली जाएगी
सांसद हनुमान बैनीवाल ने कहा कि अगर ऐसा होता है तो कांग्रेस- बीजेपी बहुत पीछे चली जाएगी। सांसद ने कहा कि वे राजेश पायलट के साथ फिर गठबंधन कर सकते हैं। पायलट के पार्टी बनाने से कांग्रेस की फूट का फायदा मिलेगा। बीजेपी में भी फूट है, उसका भी फायदा होगा।
सांसद हनुमान बैनीवाल ने क​हा कि सचिन के पिता तो बहुत बड़े नेता थे। उन्होंने मंत्री पद से लेकर बड़े पदों पर काम किया। पायलट खुद भी मंत्री, डिप्टी सीएम रहे। हम लोगों ने पार्टी बनाई। हमारा तो कोई बड़ा बैकग्राउंड ही नहीं था। हम तो कभी सत्ता में नहीं रहे। पिछले 40 साल का सफर हम तो विपक्ष में रहकर ही लड़ते रहे हैं।

बीजेपी में हर कोई सीएम 
सांसद हनुमान बैनीवाल ने कहा- बीजेपी BJP और कांग्रेस Congress में फूट है। बीजेपी में 12 से 13 नेता मुख्यमंत्री के दावेदार हैं। हर कोई सीएम बना हुआ है। पूर्व सीएम वसुंधरा राजे Vasundhara Raje का अब राजस्थान में प्रभाव नहीं रहा। वसुंधरा राजे का प्रभाव होता तो पिछली बार भी वे थीं। रिजल्ट क्या रहा, सबके सामने है। पिछली बार कई सीटों पर मैंने भी मदद की थी। इस बार बीजेपी BJP की राह बिल्कुल भी आसान नहीं है।


कांग्रेस-बीजेपी से गठबंधन नहीं करेगी RLP
सांसद हनुमान बैनीवाल ने कहा- राजस्थान में बीजेपी और कांग्रेस को रोकने के लिए वे काम करेंगे। कांग्रेस Congress और बीजेपी BJP से कोई गठबंधन नहीं होगा। हम सभी 200 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस, बीजेपी के खिलाफ जो भी दल लड़ रहे हैं, राजस्थान में जिसका जैसा प्रभाव है। उससे हम गठबंधन पर विचार करेंगे। अलग-अलग इलाकों में कई दलों का प्रभाव है। कई जगह ट्राइबल पार्टी का प्रभाव है। कई जगह बसपा BSP तो कोई दूसरी पार्टियां भी हैं। गठबंधन पर विचार हो सकता है।

कांग्रेस, बीजेपी से मुक्ति चाहती है जनता 
सांसद हनुमान बैनीवाल ने कहा- पिछली बार भी गठबंधन के लिए हमने बात की थी। बीएसपी BSP के साथ बातचीत नहीं हो पाई थी। इसलिए गठबंधन नहीं हो पाया था। उन्होंने कहा कि राजस्थान का युवा बदलाव चाहता है। कांग्रेस और बीजेपी ने जिस तरह मिलकर राजस्थान को लूटा है, उससे जनता त्रस्त हो चुकी है। जनता दोनों से अब मुक्ति चाहती है। राजस्थान Rajasthan आज क्राइम Crime में टॉप Top पर आ गया, प्रदेश को बदनाम कर दिया।


राजस्थान में तीसरा मोर्चा अब पहला बनेगा
सांसद हनुमान बैनीवाल ने कहा- राजस्थान में तीसरा मोर्चा इस बार पहला मोर्चा बनेगा। आरएलपी RLP ने मजबूती से लड़ाई लड़ी है। पिछले उप-चुनावों में बीजेपी का हाल देख लीजिए। मौजूदा प्रदेशाध्यक्ष के इलाके में उप-चुनाव में बीजेपी तीसरे और चौथे नंबर पर रही। नौजवानों की पहली पसंद हमारी पार्टी है। उन्होंने कहा कि कोई बड़ी बात नहीं है कि हम लोग इस बार सत्ता के बहुत करीब आ जाएं। हम चाहते हैं कि तीसरे मोर्चे के वोट बंटे नहीं। इस बार हम सब मिलकर दो करोड़ वोट ले सकते हैं। इससे कांग्रेस और बीजेपी सत्ता में आने से रुक जाएगी।

बैनीवाल की पायलट को सलाह के सियासी मायने
सांसद हनुमान बेनीवाल पहले भी सचिन पायलट को नई पार्टी बनाने की सलाह दे चुके हैं। अब कांग्रेस की आपसी खींचतान के बीच बैनीवाल ने पायलट को नई पार्टी बनाने पर साथ देने का ऑफर देकर फिर सियासी हलकों में चर्चाएं शुरू कर दी है।  राजनीतिक जानकार बैनीवाल के बयान को रणनीति से जोड़कर देख रहे हैं। राजनीतिक जानकारों का माना है कि हनुमान बैनीवाल अपनी पार्टी का विस्तार करने और वोट शेयर बढ़ाने के लिए मजबूत गठबंधन साथी की तलाश में है। सचिन पायलट Sachin Pilot का प्रदेश भर में एक फोलोअर्स बेस है। बैनीवाल की निगाह उन्हीं पायलट समर्थकों पर है। बैनीवाल ने पायलट समर्थकों का ध्यान खींचने के लिए रणनीति के तहत बयान दिया है। इसे नरेटिव और पर्सेप्शन बनाने की रणनीति के तौर पर देखा जा रहा है।