logo

रानियां रोड़ स्थित खेत्रपाल धर्मशाला में 15 वां विशाल संकीर्तन व भंडारे का आयोजन

जय बाबा खेत्रपाल सेवा समिति को गोबिंद कांडा ने दी 51 हजार रुपये की सहयोग राशि
 
 
रानियां रोड़ स्थित खेत्रपाल धर्मशाला में 15 वां विशाल संकीर्तन व  भंडारे का आयोजन
WhatsApp Group Join Now

Mhara Hariyana News, Sirsa
सिरसा। जय बाबा खेत्रपाल सेवा समिति सिरसा की ओर से बाबा खेत्रपाल धर्मशाला में 15वां विशाल संकीर्तन और भंडारे का आयोजन किया गया। जिसमें बतौर मुख्य अतिथि सिरसा के विधायक, पूर्व गृहराज्यमंत्री एवं हलोपा सुप्रीमो गोपाल कांडा के अनुज वरिष्ठ भाजपा नेता गोबिंद कांडा ने पूजा अर्चना की। उन्होंने समिति को अपनी ओर से 51 हजार रुपये की सहयोग राशि प्रदान की।

रानियां रोड़ स्थित खेत्रपाल धर्मशाला में 15 वां विशाल संकीर्तन व  भंडारे का आयोजन

साथ ही लंगर और सत्संग हॉल के निर्माण के लिए  दो लाख रुपये देने की घोषणा की। आयोजकों ने सभी अतिथियों को शॉल ओढ़ाकर व प्रसाद प्रदान कर सम्मानित किया।
रानियां रोड गली जंडीवाली स्थित बाबा खेत्रपाल धर्मशाला में बेबे रामप्यारी और बाबा आशादेवा के आशीर्वाद से आयोजित इस संकीर्तन में  सुजावलपुर धाम की गद्दीनशीन बाबा रजनी देवी, अंगेे्रज नरूला, धाम के व्यवस्थापक चिमनलाल नरूला, भ्गत कुलवंत राय नरूला, बाबा राजेश ग्रोवर बाजेकां वाले ने ज्योति प्रचंड की। बाबा खेत्रपाल सुजावलपुर धाम की ओर से गुरूबक्श सिंह राही अबोहरवाले,  कंवर सुखदेव मस्ती पंचकूला, अनीश चंचल अरोडा  अबोहर ने बाबा खेत्रपाल की महिमा का गुणगान किया। इस आयोजन में मुख्य अतिथि के रूप से गोबिंद कांडा  शामिल हुए। उनका समिति के पदाधिकारियों ने फू ल मालाएं पहनाकर स्वागत किया और संकीर्त स्थल तक ले गए।  गोबिंद कांडा ने बाबा खेत्रपाल के दरबार में पूजा अर्चना कर शीश नवाया। इस मौके पर भंडारे में हजारों श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया। उन्होंने अपनी ओर से समिति को 51 हजार रुपये की सहयोग राशि प्रदान की। उन्होंने समिति की ओर से प्रस्तावित
लंगर और सत्संग हॉल  निर्माण के लिए दो लाख रुपये देने की घोषणा की।
इससे पूर्व जय बाबा खेत्रपाल सेवा समिति के सरंक्षक भगत ओमप्रकाश बब्बर, प्रधान सोमनाथ नरूला, उप प्रधान प्रवीन कुमार बब्बर,  महासचिव प्रेम कुमार फुटेला, सचिव अशोक कुमार नरूला, विजय कुमार सेठी, रामलाल मोंगा, रमेश मानकटाला, निर्मल कुमार बजाज, एडवोकेट बिहारी लाल नरूला, चाननलाल मक्कड, कृष्णलाल छाबडा, प्रकाशचंद कोचर, नरेश धींगडा, विनोद कुमार बब्बर, नरेश ग्रोवर, रवि फुटेला ने गोबिंद  कांडा और उनके साथ आए  हलोपा जिला प्रधान  जय सिंह कुुसुंभी,  इंद्रोश लक्ष्या गुज्जर,नरेंद्र कटारिया, राकेश प्रधान, गुरमेज सिंह, राज मेहता   अनमोल मक्कड, विधायक के पीए  हरिप्रकाश शर्मा,लक्ष्मण गुज्जर, विजय यादव, सुरेंद्र दत्त आदि आदि का स्वागत किया।
इस  मौके पर श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए गोबिंद कांडा ने कहा कि  भारत-पाक सीमा से सटे गांव सुजावलपुर में मंदिर बाबा खेत्रपाल की स्थापना बेबे राम प्यारी ने आजादी की जंग के बाद वर्ष 1947 में की थी। इस मंदिर को लेकर मान्यता है कि यहां आए भक्तजनों की हर मनोकामना पूरी होती है। आज यह मंदिर एक धार्मिक स्थल का रूप ले चुका है जहां हर महीने की चौदस को लगने वाले मेले में हजारों की संख्या में श्रद्धालु मंदिर व समाधि पर आकर शीश झुकाते हैं। बेबे राम प्यारी ने 89 वर्ष की आयु में 1993 में चोला छोड़ा। उन्होंने लगभग 46-47 वर्ष मंदिर में सेवा की तथा लोगों का कल्याण किया। बेबे राम प्यारी के चोला छोडऩे के बाद मंदिर की सेवा आशा देवी जी को सौंपी गई। वह दिन-रात श्रद्धालुओं की सेवा में लगी रही थी।  भगत चिमन लाल नरूला के मार्ग दर्शन में यह मंदिर एक धार्मिक स्थल का रूप धारण कर चुका है। बताते हैं कि जब भी भारत पाक सीमा पर तनाव की स्थिति पैदा होती तो गांव के लोग बेबे जी के पास पहुंच जाते व बेबे राम प्यारी उनका उत्साह व हौसला बढ़ाते हुए उन्हें गांव में ही रहने को प्रेरित करती हैं व कहती हैं कि उन्हें कोई समस्या नहीं होगी।