logo
नवरात्र महोत्सव :26 सितंबर से शारदीय नवरात्रि,गज पर सवार होकर आएगी मां दुर्गा
आराधना का पर्व नवरात्रा 26 सितम्बर को घर घर घट स्थापना के साथ शुरू होगा। मेहरानगढ़ स्थित मां चामुंडा मंदिर शहर के सभी नवदुर्गा मंदिरों में तैयारियां शुरू हो गई है।
 
नवरात्र महोत्सव :26 सितंबर से शारदीय नवरात्रि,गज पर सवार होकर आएगी मां दुर्गा

Mhara Hariyana News

मां दुर्गा की उपासना: आराधना का पर्व नवरात्रा 26 सितम्बर को घर घर घट स्थापना के साथ शुरू होगा। मेहरानगढ़ स्थित मां चामुंडा मंदिर शहर के सभी नवदुर्गा मंदिरों में तैयारियां शुरू हो गई है। कोरानाकाल के दो साल बाद शारदीय नवरात्र महोत्सव के लिए इस बार जगह जगह होने वाले डांडिया कार्यक्रम को लेकर विशेष उत्साह है। कई जगहों पर डांडिया विशेषज्ञों के संयोजन में रिहर्सल भी शुरू हो चुकी है। नेहरू पार्क दुर्गाबाड़ी सहित विभिन्न जगह पर कोविडकाल के दो साल बाद मां दुर्गा की पवित्र माटी से मूर्तियों का निर्माण शुरू किया गया है।

यूं तो मां दुर्गा का वाहन सिंह को माना जाता है, लेकिन हर साल नवरात्रि के समय तिथि के अनुसार माता अलग-अलग वाहनों पर सवार होकर धरती पर आती हैं। शारदीय नवरात्रि में इस साल माता का वाहन हाथी होगा । इस विषय में देवी भागवत पुराण में वर्णित है कि सोमवार को नवरात्रि आरंभ होने पर माता हाथी पर चढकर आती हैं जिससे खूब अच्छी वर्षा होती है और देश में अन्न धन का भंडार बढ़ता है। ज्योतिषियों के अनुसार मां का वाहन हाथी ज्ञान व समृद्धि का प्रतीक है।

घट स्थापना
प्रतिपदा तिथि का प्रांरभ 26 सितंबर को सुबह 3:24 मिनट को शुरू होकर 27 सितंबर की सुबह 3:08 मिनट तक होगा।

दुर्गा के स्वरूपों की आराधना कब
26 सितंबर - प्रतिपदा घटस्थापना मां शैलपुत्री पूजा
27 सितंबर - द्वितीया मां ब्रह्मचारिणी पूजा
28 सितंबर - तृतीय मां चंद्रघंटा पूजा,
29 सितंबर - चतुर्थी मां कुष्मांडा पूजा
30 सितंबर - पंचमी मां स्कंदमाता पूजा
1 अक्टूबर - षष्ठी मां कात्यायनी पूजा
2 अक्टूबर - सप्तमी मां कालरात्रि पूजा
3 अक्टूबर - अष्टमी मां महागौरी दुर्गा पूजा
4 अक्टूबर - महानवमी मां सिद्धिदात्री पूजा
5 अक्टूबर - मां दुर्गा प्रतिमा विसर्जन, विजयदशमी दशहरा