logo

सितंबर महीने में मनाए जाएंगे कृष्ण जन्माष्टमी, गणेशोत्सव और पितृपक्ष

खरीदारी और नई शुरुआत के लिए रहेंगे 11 खास मुहूर्त

 
 
a
WhatsApp Group Join Now


इस बार वर्ष 2023 का सितंबर में व्रत-त्योहारों का विशेष योग बन रहा है। इस महीने का पहला हफ्ता श्रीकृष्ण जन्मोत्सव वाला रहेगा। वहीं, दूसरे सप्ताह में एकादशी और अमावस्या बड़े व्रत रहेंगे। तीसरे हफ्ते में गणेशोत्सव शुरू होगा। जो कि महीने के आखिरी तक रहेगा। सितंबर के आखिरी दिनों में ही पितृपक्ष की शुरुआत हो जाएगी। इस महीने सर्वार्थ सिद्धि, अमृत सिद्धि और द्विपुष्कर जैसे बड़े शुभ योग भी रहेंगे।

ज्योतिषाचार्य डॉ. गणेश मिश्र और काशी विद्वत परिषद के महामंत्री प्रो. रामनारायण द्विवेदी के मुताबिक 28 सितंबर को अनंत चतुर्दशी है। इस दिन गणेश विसर्जन होगा। इसके अगले दिन यानी 29 सितंबर को स्नान दान पूर्णिमा है। इसी दिन से श्राद्ध पक्ष की भी शुरुआत हो जाएगी।

कुल मिलाकर ये पूरा महीना खरीदारी और मांगलिक कामों के लिए खास रहेगा। ज्योतिषियों के मुताबिक इस महीने 5 शुक्रवार और इतने ही शनिवार रहेंगे। साथ ही महीने का पहला दिन शुक्रवार और आखिरी दिन शनिवार होगा। शुक्र और शनि के इस विशेष संयोग के चलते ये महीना समृद्धि दायक माना जा रहा है।

इस संयोग से देश की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। सरकारें बड़े फैसले लेंगी। बड़ी योजनएं बनेंगी और पुरानी योजनाओं पर काम भी शुरू होगा। सिंतबर में कई ग्रहों का राशि परिवर्तन भी होगा। इसमें सूर्य अपनी स्वराशि सिंह से निकलकर कन्या राशि में प्रवेश करेगा। शुक्र कर्क राशि में और बुध सिंह राशि में मार्गी होंगे। मंगल कन्या राशि में अस्त होंगे।