logo

Vistu Tips: वास्‍तु दोष का सीधा इशारा करती है ये चीजें , जाने क्या होगा उपाय

 
Vistu Tips: वास्‍तु दोष का सीधा इशारा करती है ये चीजें , जाने क्या होगा उपाय
WhatsApp Group Join Now

Vastu Dosh Nivaran Yantra: वास्‍तु शास्‍त्र के अनुसार हर दिशा और हर चीज में ऊर्जा होती है. यह सकारात्‍मक या नकारात्‍मक ऊर्जा हो सकती है. यदि घर, दफ्तर या आसपास के माहौल में ऊर्जा का संतुलन बिगड़ जाए या नकारात्‍मक ऊर्जा बढ़ जाए तो समस्‍याएं बढ़ जाती हैं.

नकारात्‍मक ऊर्जा हानि, तनाव, रिश्‍तों में मनमुटाव आदि पैदा करती है. हालांकि कई बार अनजाने में हम वास्तु दोषों को पहचान नहीं पाते हैं. वहीं यह वास्तु दोष तरक्‍की में बाधा बनते हैं, घर में पैसा नहीं टिकने देते हैं. घर में नकारात्मक शक्तियां हावी हो जाती हैं. ऐसे में वास्‍तु दोष के इन संकेतों को पहचानना और उनका तुरंत निवारण करना बहुत जरूरी है. 

वास्‍तु दोष के संकेत 

यदि घर में वास्तु दोष है तो इसको कुछ घटनाओं से पहचाना जा सकता है. बेहतर होगा कि वास्‍तु दोष के इन लक्षणों को जल्‍दी पहचानकर उनका निवारण करने के उपाय कर लेने चाहिए. 
 
- यदि घर वास्‍तु दोष के अनुसार ना बना हो या दूषित भूमि (श्‍मशान या कब्रिस्‍तान की जमीन) पर बना हो तो ऐसे घर में रहने वाले लोग कभी सुखी नहीं रहते हैं. नकारात्‍मक ऊर्जा के कारण ऐसे घर में रहने वाले लोग तरक्‍की नहीं कर पाते हैं.

हमेशा आर्थिक तंगी के शिकार रहते हैं. घर में अशांति रहती है. लिहाजा घर का निर्माण वास्‍तु के आधारभूत नियमों को ध्‍यान में रखकर करें. घर खरीदते समय भी इन नियमों का ध्‍यान रखें. 

- यदि अच्‍छा खासा चलता हुआ व्‍यापार है या पर्याप्‍त सैलरी वाली नौकरी है, फिर भी आपके पास पैसा नहीं टिक रहा है तो यह वास्‍तु दोष का इशारा है. वास्‍तु दोष के कारण लगातार बेवजह के खर्चे होते हैं. 

- घर में बिना किसी बड़े कारण के रोज झगड़े हों, हमेशा अशांति और तनाव रहे तो यह भी वास्‍तु दोष का लक्षण है. 

- यदि घर के किसी ना किसी की सेहत हमेशा खराब रहे, इलाज से भी कोई फायदा ना हो तो यह वास्‍तु दोष का इशारा है. इसके अलावा घर के सदस्‍यों की नींद उड़ना भी घर में नकारात्‍मक ऊर्जा बढ़ने का संकेत है. 

वास्‍तु दोष निवारण उपाय 

यदि आपके घर में वास्तु दोष के ऐसे कोई लक्षण दिखें तो समय रहते उपाय कर लें. इसके लिए  वास्तु शांति का पाठ कराना, चांदी का वास्‍तु दोष निवारण यंत्र घर के ईशान कोण या भंडार कोण में रख दें.