logo
वर्ल्ड चैम्पियनशिप में Vinesh Phogat ने इतिहास रचा, ऐसा करने वाली पहली भारतीय रेसलर
सर्बिया की राजधानी बेलग्रेड में खेली जा रही इस वर्ल्ड चैम्पियनशिप के क्वालिफिकेशन राउंड में विनेश को मंगोलिया की खुलान बतखुयाग ने बड़ा झटका दिया।
 
Vinesh Phogat

Mhara Hariyana News:

Vinesh Phogat Wrestling World Championships: भारतीय महिला पहलवान ने एक बार फिर बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में 53 किग्रा कैटेगरी (kg category) में स्वीडन की एम्मा जोना मालमग्रेन(jona malmgren) को हराकर इस स्पर्धा में ब्रॉन्ज़ मेडल जीता है। इसके साथ विनेश वर्ल्ड चैम्पियनशिप के इतिहास में दो मेडल जीतने वाली पहली भारतीय महिला रेसलर और ओवरऑल दूसरी भारतीय पहलवान बन गई हैं।

सर्बिया की राजधानी बेलग्रेड में खेली जा रही इस वर्ल्ड चैम्पियनशिप ( world championship) के क्वालिफिकेशन राउंड में विनेश को मंगोलिया की खुलान बतखुयाग ने बड़ा झटका दिया। बटखुयाग ने विनेश को 0-7 से हराया। बटखुयाग से हारने के बाद विनेश ने रेपचेज दौर के माध्यम से ब्रॉन्ज़ प्ले-ऑफ (bronze play-off)में जगह बनाई थी। बटखुयाग के फाइनल में पहुंचने के बाद विनेश को रेपचेज दौर में मौका मिला था।


रेपचेज (Rapechase) में विनेश ने मालमग्रेन को 8-0 से हराया। इसी के साथ विनेश ने ब्रॉन्ज मेडल जीत इतिहास रच दिया। इससे पहले उन्होंने 2019 वर्ल्ड चैम्पियनशिप में कजाकिस्तान की नूर-सुल्तान (Nur-Sultan of Kazakhstan)को हराकर ब्रॉन्ज जीता था। हाल ही में बर्मिंघम में खेले गए कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में फोगाट ने गोल्ड मेडल जीता था।

27 वर्षीय विनेश ने दो बार की चैंपियन के रूप में बर्मिघम 2022 (Birmingham) में प्रवेश किया और अपराजित होकर अपना तीसरा सीधा सीडब्ल्यूजी (
cwg)स्वर्ण सुनिश्चित किया। उसने ग्लासगो 2014 में 48 किग्रा और गोल्ड कोस्ट 2018 में 50 किग्रा वर्ग में गोल्ड मेडल जीता था। वहीं 2016 के रियो ओलंपिक (Olympics) के क्वार्टरफाइनल में घुटने की चोट के चलते विनेश फोगाट के पदक जीतने की उम्मीद टूट गई थी।

वहीं टोक्यो ओलंपिक(Tokyo Olympics) में वह अंतिम आठ स्टेज से ही बाहर हो गई थीं जबकि वह अपने वजन वर्ग में दुनिया की नंबर पहलवान(number one wrestler) के तौर पर उतरी थीं। इन दो निराशाओं ने उन्हें कुश्ती छोड़ने की कगार पर पहुंचा दिया था लेकिन बाद में वब दमदार वापसी करने में सफल रही।