logo

एंड्रॉइड फोन से लेन देन पर हो जाएं सतर्क, 18 बैंकों पर इस वायरस का असर, ऐसे करें बचाव

Be alert on transactions from Android phones, the effect of this virus on 18 banks, protect them like this

 
Android phones
WhatsApp Group Join Now

Mhara Hariyana News:

अगर आप बैंकिंग से जुड़े कामकाज अपने एंड्रॉइड फोन की मदद से निपटाते हैं तो बेहतर है कि सतर्क हो जाएं. लोगों की जानकारियां चुराने के लिए बदनाम Drinik वायरस एक बार फिर खतरा बन कर लौट आया है. मीडिया में आई खबरों की माने तो देश के 18 बैंकों के ग्राहकों पर इस वायरस का असर देखने को मिल चुका है. ये वायरस लोगों की जरूरी जानकारियां चुरा रहा है और इन जानकारियों की मदद से लोगों के खातों से बड़ी रकम चुराने की घटनाएं भी सामने आई हैं.


क्या है इस वायरस की खासियत
ये वायरस इससे पहले साल 2016 में पकड़ा गया था. हालांकि रिपोर्ट्स के मुताबिक अब ये वायरस पहले से ज्यादा खतरनाक स्वरूप में सामने आया है. ये लोगों के एंड्रॉइड फोन को इफेक्ट करने के बाद सारी जानकारियां चुरा लेता है वहीं ये आपकी स्क्रीन को रिकॉर्ड कर सकता है और कीस्ट्रोक्स को भी प्रभावित करता है. फिलहाल ये वायरस आयकर विभाग के मैसेज की शक्ल में लोगों के फोन में दाखिल हो रहा है.

इस तरीके में लोगों के पास बिल्कुल असली लगने वाले मैसेज आते हैं जिसमें रिटर्न रिलीज करने के नाम पर लिंक क्लिक करने को कहा जाता है. एक बार गलती से भी लिंक क्लिक होते ही वायरस फोन में लोड हो जाता है और आपकी सूचनाएं लीक होने लगती हैं. ये तुरंत ही मैसेज, कॉल लॉग, फाइल स्टोरेज तक पहुंच बनाते हैं उसके बाद फोन पर नियंत्रण करते हैं और आपको इसका पता भी नहीं लगता.

कैसे करें बचाव
सिर्फ सुरक्षित जगह से ही कोई एप डाउनलोड करें. किसी अनजाने मैसेज पर कोई ध्यान न दें

आयकर विभाग या बैंक आपसे फॉर्मल तरीके से कम्युनिकेट करते हैं. किसी ऐसे मैसेज से दूर रहें जिसमें पैसा या फायदे की बात कर आपसे किसी लिंक पर क्लिक करने को कहा जा रहा हो.

देखें क्या गूगल प्ले प्रोटेक्ट आपके स्मार्टफोन पर काम कर रहा है या नहीं

सभी एप्स को सभी तरह की मंजूरी न दें..कोशिश करें जरूरत पड़ने पर एप को कंडीशन के हिसाब से मंजूरी दें

अपने फोन में एंटी वायरस का इस्तेमाल करें.