logo

मिनटों में लोन देने वाले इन दो ऐप्स से रहें सावधान, सरकार ने उठाया एक्शन

 आजकल ऑनलाइन पैसों का लेन-देन बहुत लोकप्रिय हो गया है। इसके साथ ही ऑनलाइन फ्रॉड भी काफी बढ़ गया है। ऐसे मामले भी सामने आए हैं जिनमें लोगों ने इन ऐप्स के कारण अपनी जान दे दी है।
 
मिनटों में लोन देने वाले इन दो ऐप्स से रहें सावधान, सरकार ने उठाया एक्शन
WhatsApp Group Join Now

Mhara Hariyana News, New Delhi: भारतीय रिजर्व बैंक इन लोन ऐप्स को प्रमाणित नहीं करता है और ये लेनदेन पूरा करने के बाद लोगों को ब्लैकमेल करते हैं। सरकार ने हाल ही में 50 से ज्यादा लोन ऐप्स को बैन कर दिया है. नए ऐप्स की संख्या अभी भी हर दिन बढ़ती जा रही है। इन दोनों नए लोन ऐप्स को सरकार ने चेतावनी दी है.

भारत सरकार द्वारा संचालित साइट साइबरडोस्ट एक्स पर एक पोस्ट के मुताबिक, आपको इन ऐप्स से लोन लेने से पहले इनके बारे में पूरी जानकारी हासिल कर लेनी चाहिए। इन ऐप्स को विदेशी संस्थाएं चला रही हैं।

साइबर अपराध पर अधिक जानकारी के लिए http://cybercrime.gov.in पर जाएं। यदि आप साइबर अपराध से पीड़ित हुए हैं, तो #Dial1930 पर कॉल करें और शिकायत दर्ज करें।

विंडमिल मनी और रैपिड रुपी प्रो नाम के दो ऐप्स को लेकर सरकारी चेतावनी जारी की गई है। इनमें से एक ऐप की शिकायत साइबरदोस्ट पर ही एक यूजर ने की है, जिसका स्क्रीनशॉट उन्होंने उपलब्ध कराया है। स्क्रीनशॉट में दिखाया गया है कि कैसे ये ऐप्स आपके डेटा का दुरुपयोग करते हैं।

Google Play-Store वर्तमान में दोनों मामलों में विंडमिल मनी प्रदान करता है, लेकिन रैपिड रुपी प्रो अब उपलब्ध नहीं है। इन ऐप्स के लिए नकारात्मक समीक्षा और 1 स्टार रेटिंग भी है। अधिकांश समीक्षकों द्वारा धोखाधड़ी की रिपोर्ट की गई है।

Google Play के अनुसार, STCI प्राइमरी डीलर लिमिटेड ने विंडमिल मनी ऐप विकसित किया है। एसटीसीआई की वेबसाइट पर जाने पर वहां एक बैनर लगा है जिसमें लिखा है कि यह ऐप एसटीसीआई द्वारा नहीं बनाया गया है और इसका इस ऐप से कोई लेना-देना नहीं है। इन ऐप्स का इस्तेमाल सावधानी से करना चाहिए।