logo

अयोध्या में विराजमान रामलला का भव्य और दिव्य स्वरूप कैसे हुआ तैयार

 
अयोध्या में विराजमान रामलला का भव्य और दिव्य स्वरूप कैसे हुआ तैयार
WhatsApp Group Join Now

अयोध्या के राम मंदिर में श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा हो गई है. गर्भगृह में अब भगवान के दर्शन किए जा सकते हैं और इस तरह 500 साल का इंतजार पूरा हुआ. सोमवार को प्राण प्रतिष्ठा के बाद जब गर्भगृह से रामलला की झलकियां सामने आईं तो रामलला के दिव्य-भव्य दर्शन ने सभी को मंत्रमुग्ध कर लिया. हालांकि विग्रह की पहली झलक तो लोग पहले भी देख चुके थे, लेकिन आज जब श्रीविग्रह को भव्य शृंगार के साथ देखा गया तो इसकी छटा अलग ही थी. रामलला की प्रतिमा निर्माण की कारीगरी, शृंगार में की गई बारीकियों और वस्त्रों की दिव्यता में बहुत ही शोधपरक तथ्यों का ध्यान रखा गया है.

श्रीराम के वस्त्र भी पौराणिक आधारों पर ही बनाए गए हैं. कैसे बने रामलला के खास वस्त्र, आजतक ने दिल्ली के डिजाइनर मनीष त्रिपाठी से खास बातचीत की. मनीष त्रिपाठी, वैसे तो इंडियन क्रिकेट टीम के फॉर्मल से लेकर भारतीय सुरक्षा बलों, भारतीय सेना के बुलेट प्रूफ जैकेट तक डिजाइन करते हैं. लेकिन इस बार इनका काम बिल्कुल अलग था.