logo

कोल स्कैम: ममता के भतीजे अभिषेक बनर्जी को ED का नोटिस, 2 सितंबर को किया तलब

कोयला घोटाला मामले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे और तृणमूल कांग्रेस के सांसद सह महासचिव अभिषेक बनर्जी को प्रवर्तन निदेशालय ने दो सितंबर को कोलकाता कार्यालय में तलब किया है.
 
कोल स्कैम: ममता के भतीजे अभिषेक बनर्जी को ED का नोटिस, 2 सितंबर को किया तलब
WhatsApp Group Join Now

Mhara Hariyana News: कोल स्कैम: ममता के भतीजे अभिषेक बनर्जी को ED का नोटिस, 2 सितंबर को किया तलबफोटोः अभिषेक बनर्जी.

यह भी पढ़िए: किफायती 5G स्मार्टफोन और गूगल क्लाउड विकसित करने के लिए गूगल के साथ भी साझेदारी कर रही है.

कोयला तस्करी के मामले में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे और तृणमूल कांग्रेस के सांसद और राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जीको प्रवर्तन निदेशालय ने नोटिस भेजा है. उन्हें दो सितंबर को कोलकाता स्थित ईडी के कार्यालय में हाजिर होने का निर्देश दिया गया है.

यह भी पढ़िए:  Ganesh Chaturthi 2022: घर में विधिपूर्वक स्थापित करें ये सिद्ध गणेश यंत्र, हर मनोकामना पूरी होने की है मान्यता

बता दें कि कोयला घोटाला मामले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले अभिषेक बनर्जी और उनकी पत्नी रुजिरा बनर्जी से पहले भी ईडी पूछताछ कर चुकी है. इसके पहले उन्हें दिल्ली तलब किया गया था, लेकिन बाद में कोर्ट के आदेश के बाद उनसे कोलकाता में पूछताछ की बात कही गयी थी. यह भी पढ़िए: Ganesh Chaturthi 2022: भगवान गणेश की पूजा में क्यों जरूरी है दूर्वा, जानें क्या है इसके पीछे की कहानी

बता दें कि सोमवार को ही तृणमूल कांग्रेस छात्र परिषद की सभा में अभिषेक बनर्जी ने आशंका जतायी थी कि इस सभा की सफलता के बाद फिर कोई रेड या पूछताछ हो सकती है, लेकिन वह इससे नहीं डरते हैं. ममता बनर्जी ने भी ईडी और सीबीआई को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा था.

यह भी पढ़िए: Hartalika Teej 2022 Date: हरतालिका तीज आज, पूजा के लिए मिलेगा बस इतना समय, जानें विधि और मंत्र

दिल्ली के ईडी के अधिकारी अभिषेक से करेंगे पूछताछ
प्राप्त जानकारी के अनुसार अभिषेक बनर्जी से पूछताछ के लिए दिल्ली से ईडी अधिकारियों की विशेष टीम आ रही है. ईडी की विशेष टीम उनसे पूछताछ करेगी. बता दें कि ईडी ने पिछले साल बंगाल विधानसभा चुनाव (कोयला घोटाला मामला) के बाद सितंबर में अभिषेक बनर्जी से आठ घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की थी. चूंकि अभिषेक और रुजिरा बनर्जी दोनों पश्चिम बंगाल के निवासी हैं, इसलिए उन्हें पूछताछ के लिए दिल्ली में पेश होने के लिए नहीं बुलाया जाना चाहिए. इसे लेकर अदालत में गुहार लगाई थी. दिल्ली हाईकोर्ट ने 11 मार्च को याचिका खारिज कर दी थी. अभिषेक को ईडी कार्यालय में हाजिर होना पड़ा था.